पुत्री व पत्नी का गला रेतकर युवक ने दी जान

यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

पुत्री व पत्नी का गला रेतकर युवक ने दी जान


🗒 शनिवार, नवंबर 20 2021
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक
पुत्री व पत्नी का गला रेतकर युवक ने दी जान

हरदोई,  । घरेलू कलह में ज्वैलर्स के पुत्र ने पत्नी व बच्ची की चाकू से गला रेतकर हत्या कर खुद फांसी लगाकर जान दे दी। शनिवार की शाम माता-पिता रिश्तेदारी से वापस आए तो, घटना की जानकारी हुई। हरपालपुर कस्बा में हुए हत्याकांड की खबर जिसने सुनी सन्न रह गया। फारेंसिक टीम के साथ पुलिस अधिकारी पहुंचे और तीनों के शव कब्जे में लेकर परिवारवालों व अन्य लोगों से जानकारी ली।हरपालपुर क्षेत्र के ग्राम खसौरा के सुधीर कुमार की कस्बे में सोने-चांदी की दुकान है। दो पुत्रों में छोटा लखनऊ में पढ़ाई करता है, जबकि बड़ा पुत्र अनूप कुमार अपनी पत्नी दीपा व चार वर्षीय पुत्री विट्टो के साथ माता-पिता के साथ ही रहता था। जैसा कि सुधीर कुमार ने बताया कि अनूप कुमार उनके साथ दुकान पर ही बैठता था। दीपा अपनी बच्ची व पति के साथ अलग रहना चाहती थी, इसके लिए पंचायत भी हुई थी, लेकिन अनूप कुमार अलग होना नहीं चाहता था और उसी को लेकर दोनों के बीच विवाद होता रहता था। सुधीर कुमार ने बताया कि उनकी पुत्री रूबी की जेठानी का निधन हो गया था, जिसके चलते वह अपनी पत्नी कांती के साथ बेटी की ससुराल गुरसहायगंज गए थे। घर पर अनूप, उसकी पत्नी दीपा और बेटी विट्टो थी।शनिवार शाम को जब वह लोग घर वापस आए और दरवाजा खोला तो देखा दीपा का शव बरामदे में बेड पर पड़ा था, पास में ही कमरे में चारपाई पर विट्टो का शव पड़ा था। दोनों का गला कटा था और कमरे में ही अनूप कुमार फंदे पर लटक रहा था। वहीं पर एक चाकू भी पड़ा था। उन्होंने शोर मचाया तो अन्य लोग आ गए। कोतवाली पुलिस के साथ अधिकारी भी मौके पर पहुंचे, उन्होंने बताया कि सुधीर कुमार के साथ ही उनके साथी भुसेरा निवासी मांगे ने भी बताया कि अनूप कुमार की पत्नी अलग रहना चाहती थी और उसी को लेकर विवाद होता था। उन लोगों के अनुसार उसी को लेकर घटना हुई। एएसपी दुर्गेश सिंह ने बताया कि सभी बिंदुओं की जांच हो रही है, शुरुआती जांच में घरेलू कलह सामने आई है।