यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

जिला हाथरस में पुलिस पर हमला, दारोगा की पिस्टल छीनने की कोशिश,वर्दी फाड़ी


🗒 बुधवार, नवंबर 06 2019
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक

मुहल्ला खंदारीगढ़ी में मंगलवार रात एक मामले में वांछित को पकडऩे गई कोतवाली हाथरस गेट पुलिस टीम पर चोरी के आरोपित व उसके परिजनों ने डंडों से हमला बोल दिया। हमलावरों ने पुलिस पर पथराव कर सब इंस्पेक्टर की पिस्टल छीनने की कोशिश की। एक कांस्टेबल की वर्दी फाड़ दी और बिल्ले नोंच लिए। पुलिस ने भी मोर्चा संभाला और वांछित के साथ उसकी पत्नी व दो पुत्रों को हिरासत में ले लिया। चारों के खिलाफ हमले की रिपोर्ट दर्ज कर बुधवार को कोर्ट में पहुंची। पेशी से वापसी के दौरान दीवानी परिसर में ही अभियुक्तों ने एक बार फिर पुलिस पर हमला कर दिया गया। पुलिस वाहन का शीशा तोड़ दिया। बड़ी मुश्किल से पुलिस चारों अभियुक्तों को वहां से जेल भेज सकी।खंदारीगढ़ी निवासी संजय मिस्त्री कोतवाली हाथरस गेट में एक मामले में वांछित चल रहा था। संजय को पकडऩे के लिए मंगलवार की रात करीब साढ़े नौ बजे एसआई ओमवीर ङ्क्षसह, मुन्नालाल, ममता ङ्क्षसह आदि पुलिसकर्मी गए थे। मोहल्ले में पहुंचते ही संजय मिस्त्री को थाने चलने की बात पुलिस ने कही। इसपर वांछित ने अपने पुत्र राजू व राजकुमार के अलावा पत्नी पुष्पा देवी को बुला लिया। चारों लाठी लेकर पुलिस टीम पर टूट पड़े। ईट व पत्थरों से भी हमला किया।पुलिसकर्मियों ने प्रतिवाद किया तो वांछित व उसके परिवार के सदस्य इतने उग्र हो गए कि उन्होंने सब इंस्पेक्टर मुन्नालाल की पिस्टल छीनने का प्रयास किया। बड़ी मुश्किल से पिस्टल लूटने से बचाया। हमले में दारोगा मुन्नालाल व कांस्टेबल रामवीर ङ्क्षसह को काफी चोटें आईं। हमलावरों ने कांस्टेबल रामवीर ङ्क्षसह की वर्दी फाड़ दी और बिल्ले नोच लिए। पुलिस ने कोबरा पुलिस को फोन करके बुलाया, तब जाकर पुलिसकर्मियों की जान बच पाई। बड़ी मुश्किल से पुलिस चारों आरोपितों को गिरफ्तार कर कोतवाली ले आई।रिपोर्ट दर्ज करने के बाद बुधवार दोपहर चारों अभियुक्तों को कोर्ट में पेश करने ले गई। पेशी के बाद जैसे ही पुलिस वाहन में अभियुक्तों को बिठाया जा रहा था, तभी चारों अभियुक्तों ने पुलिस के साथ धक्का-मुक्की शुरू कर दी। हाथरस गेट के एसएचओ संजीव शर्मा की गाड़ी का शीशा तोड़ दिया। इसके बाद पुलिस से गुत्थमगुत्था हो गए। इसपर वहां भीड़ जमा हो गई। कोतवाली सदर और अन्य थानों की पुलिस बुलानी पड़ी। पुलिस ने बड़ी मुश्किल से चारों को रस्सी से बांधकर काबू में किया। करीब एक घंटा वहां भी हंगामा होता रहा। इसके बाद गाड़ी में डालकर उन्हें जेल भेजा गया।एएसपी सिद्धार्थ वर्मा का कहना है कि मोहल्ला खंदारीगढ़ी निवासी वांछित संजय के घर देर रात पुलिस दबिश देने गई थी। आरोपित, उसके दो बेटे और पत्नी ने पुलिस पर हमला बोला था। दारोगा की पिस्टल छीनने की कोशिश की। कोर्ट में पेशी के बाद बाहर आते ही पुलिस से दुबारा अभद्रता की। चारों को जेल भेज दिया गया है।

जिला हाथरस में पुलिस पर हमला, दारोगा की पिस्टल छीनने की कोशिश,वर्दी फाड़ी

हाथरस से अन्य समाचार व लेख

» हाथरस मे जमीन के विवाद में गोली मारकर युवक की हत्या,फायरिंग

» हाथरस मे महिलाओं को लोन दिलाने के नाम पर तीन लाख की ठगी

» जिला हाथरस में बुखार से दो और मरे,एडीएम के सामने नारेबाजी

» हाथरस मे झाडिय़ों में मिला युवक का क्षतविक्षत शव, हत्या का आरोप

» हाथरस में बाइक सवारों ने किसान को गोली मारी, आगरा रेफर

 

नवीन समाचार व लेख

» गुजरात में फिर आरक्षण आंदोलन की तैयारी, करणी सेना करेगी महारैली

» जिला हाथरस में पुलिस पर हमला, दारोगा की पिस्टल छीनने की कोशिश,वर्दी फाड़ी

» बिजनौर मे फेसबुक पर दोस्‍ती के बाद प्रेम प्रसंग में युवती ने किया धर्म परिवर्तन

» मुजफ्फरनगर मे हथियारबंद बदमाशों ने सर्राफ को गोली मारकर लाखों के जेवरात लूट लिए

» बहुचर्चित राजू पाल हत्याकांड की सुनवाई का इंतजार, पूर्व सांसद अतीक व अशरफ है अभियुक्त