यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

हाथरस में अस्थाई जेल की दीवार फांदकर बंदी फरार, मची खलबली


🗒 रविवार, अक्टूबर 25 2020
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक
हाथरस में अस्थाई जेल की दीवार फांदकर बंदी फरार, मची खलबली

हाथरस,  हाथरस की कोतवाली सासनी क्षेत्र में प्रकाश एकेडमी में अस्थाई जेल कोरोना संक्रमण की वजह से बनाई गई है। रविवार देर शाम को एक बंदी अस्थाई जेल की दीवार कूद कर हुआ फरार हो गया। जिससे जेल विभाग में खलबली मच गई। बताते हैं कि चोरी के आरोप में अस्थाई जेल में बंद था बंदी। पुलिस अब फरार बंदी की तलाश में जुट गई है। कस्बा के प्रकाश एकाडमी में बनी अस्थाई जेल में निरूद्ध एक चोरी का आरोपित रविवार की देर शाम अस्थाई जेल से फरार हो गया है। जिससे जेल एवं पुलिस प्रशासन में खलबली मच गई है। हालांकि पुलिस फरार कैदी की तलाश में जुट गई है। लेकिन अभी तक उसका कोई सुराग नहीं लगा है। थाना मुरसान क्षेत्र के एक गांव सुनधिया निवासी आरोपी गुलफाम पुत्र जमील का शनिवार को मुरसान पुलिस ने चोरी के माल सहित पकड़स था। जिसका चालान धारा 379 व 411 धारा के अंतर्गत मुरसान पुलिस द्वारा किया गया था। बताते हैं कि आरोपी गुलफाम को कस्बा के प्रकाश एकाडमी में बनी अस्थाई जेल में निरूद्ध कराया था। रविवार की देर शाम आरोपित बंदी सुरक्षा व्यवस्था में लगे कर्मचारियों को चकमा देकर फरार हो गया। जानकारी मिलते ही पुलिस एवं जेल प्रशासन में हड़कंम मच गया। पुलिस ने चारों ओर नांकेबंदी कर आरोपित बंदी की तलाश शुरू कर दी है।घटना की सूचना से अलीगढ़ प्रशासन को अवगत करा दिया गया है। अलीगढ़ के जेल प्रशासन के आने के बाद ही विधिक कारवाई की जाएगी। सूचना पर तत्काल क्षेत्राधिकारी नगर रूचि गुप्ता एवं प्रभारी निरीक्षक सासनी मय पुलिस फोर्स के मौके पर पहुँच गए। पुलिस फरार आरोपित की तलाश में जुटी हुई है। पुलिस अधीक्षक विनीत जायसवाल का कहना है कि तहरीर के आधार पर अभियोग पंजीकृत कर आवश्यक वैधानिक कार्यवाही की जा रही है ।

हाथरस से अन्य समाचार व लेख

» हाथरस में लापता युवक का शव पोखर में मिला

» ताबड़तोड़ चोरियों से सतर्क लोगों ने तीन संदिग्‍धों को पकड़ा, पुलिस को सौंपा

» टेंपो चालक से मारपीट कर मोबाइल फोन व पैसे छीने

» हाथरस पुलिस ने 727 किलो गांजा के साथ छह तस्कर दबोचे, भेजे जेल

» बूलगढ़ी कांड में सुनवाई के दौरान पुलिस प्रशासन रहा एलर्ट