यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

लुटेरी दुल्हनों ने परिवार को किया बेहोश, फिर लूटकर ले गईं लाखों के जेवरात


🗒 शुक्रवार, मार्च 25 2022
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक
लुटेरी दुल्हनों ने परिवार को किया बेहोश, फिर लूटकर ले गईं लाखों के जेवरात

हाथरस, । सासनी क्षेत्र में बुधवार की शाम को लुटेरी दुल्हनाें ने एक परिवार को बेहोश कर लाखों का माल लूट लिया। शादी के अगले ही दिन चाय में नशीला पदार्थ मिलाकर पूरे परिवार को बेहोश कर दिया और लाखों रुपये के जेवरात, मोबाइल नगदी ले गईं। काफी देर बाद घर के लोग होश में आए तो घटना की जानकारी हुई। पीड़ित भाइयों ने सासनी कोतवाली में तहरीर दे दी है।सासनी कस्बे में पारस टाकीज के पास रहने वाले दुष्यंत और गौरव कस्बे में ही इलेक्ट्रानिक्स की दुकान चलाते हैं। तीसरा भाई भी दुकान पर बैठता है। दुष्यंत के पिता कृष्णगोपाल वाष्र्णेय की कुछ वर्ष पहले बीमारी से मौत हो गई थी। मां का भी जनवरी में निधन हो गया। तीनों भाइयों की शादी नहीं हुई थी। दुष्यंत ने बताया कि हाथरस जंक्शन कोतवाली क्षेत्र के गांव परसारा की महिला गुडिय़ा और कैलाश नगर कालोनी हथौड़ा बुजुर्ग शाहजहांपुर निवासी आदित्य शर्मा ने बिचौलिया बनकर उनकी शादी तय कराई। 22 मार्च को दुष्यंत की शादी सुनीता पुत्री राम ङ्क्षसह निवासी पीतल नगरी मुरादाबाद और छोटे भाई गौरव की शादी लक्ष्मी पुत्री रामपाल निवासी काला डूंगी पीली कोठी, हल्द्वानी (उत्तराखंड) से कराई गई। बिचौलियों ने दोनों युवतियों को आपस में मौसेरी बहन बताया था। उनके साथ सोनम नाम की एक और महिला आई थी। हाथरस की गली जोगियान, घंटाघर स्थित दुष्यंत की ननिहाल में शादी समारोह हुआ। 23 मार्च की सुबह दोनों भाई दुल्हनों को विदा कराकर सासनी ले आए। रीति-रिवाज से उनका गृह प्रवेश कराया गया। घर में तीनों भाई, मामी और ममेरा भाई मौजूद थे।शाम को शगुन और रस्म के अनुसार दोनों बहनों ने सभी के लिए चाय बनाई। चाय पीने के बाद परिवार के सभी लोग बेहोश हो गए। फिर दोनों दुल्हनों ने मिलकर घर में रखे जेवरात, पहने हुए जेवरात, एक लाख रुपये, मामी के कान के झुमके, तीन मोबाइल फोन और अन्य सामान समेटकर भाग गईं। करीब चार-पांच घंटे बाद सभी को होश आया तो मकान का मुख्य दरवाजा, अलमारी, बक्शे खुले पड़े थे। सामान बिखरा हुआ था। लक्ष्मी और सुनीता घर में नहीं थीं। शोर मचाने पर पड़ोस के लोग आ गए। पीडि़त ने शुक्रवार को सासनी कोतवाली में तहरीर दी। बताया कि शादी के लिए बिचौलियों को दो लाख रुपये पहले ही दे दिए थे। एसएसआइ कृतपाल ङ्क्षसह का कहना है कि पीडि़त की तहरीर मिली है। घटना की जांच की जा रही है।