यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

कोरोना को मात देते ही डॉक्‍टरों पर भड़के भाजपा नेता, सीएम योगी को पत्र लिखकर दी आत्‍मदाह की धमकी


🗒 सोमवार, अक्टूबर 26 2020
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक
कोरोना को मात देते ही डॉक्‍टरों पर भड़के भाजपा नेता, सीएम योगी को पत्र लिखकर दी आत्‍मदाह की धमकी

जौनपुर, कोविड अस्पताल (एल-2) में गत दिनों चिकित्सकों पर कथित पिटाई का आरोप लगाने वाले भाजपा नेता ने अब पूरी तरह मोर्चा खोल दिया है। मुख्यमंत्री को लिखे पत्र में उन्होंने एक सप्ताह के भीतर आरोपितों पर कार्यवाही न होने की दशा में मुख्यमंत्री आवास के सामने आत्मदाह की चेतावनी दी है। उनके इस पत्र को लेकर जिला प्रशासन के साथ ही राजनैतिक गलियारों में भी खलबली बच गई है।क्षेत्र के जहरुद्दीनपुर गांव निवासी पवन पाल वर्तमान में भारतीय जनता युवा मोर्चा काशी क्षेत्र के क्षेत्रीय मंत्री हैं। गत 12 अक्टूबर को कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद उन्हें मुख्यालय स्थित एल-2 अस्पताल में भर्ती किया गया था। आरोप है कि अस्पताल में शौचालयों में व्याप्त गंदगी, साफ-सफाई तथा स्वास्थ्यकर्मियों द्वारा मरीजों के प्रति दुर्व्यवहार से क्षुब्ध होकर उन्होंने इसकी शिकायत मुख्यमंत्री हेल्पलाइन 1076, कोरोना कंट्रोल रूम व उच्चाधिकारियों से की थी। इसी से नाराज चिकित्सक डा. प्रमोद गुप्ता व डा संदीप सिंह ने गत 21 अक्टूबर को उन्हें वार्ड से बाहर बुलाया और गालियां देते हुए जान से मारने की धमकी दी। इतना ही नहीं इसके बाद उनकी लाठी-डंडे से पिटाई भी की गई। किसी मरीज द्वारा उक्त घटना का वीडियो भी बना लिया गया।अपने साथ हुई इस घटना की जानकारी उन्होंने भाजयुमो के प्रदेश अध्यक्ष सुभाष यदुवंश, भाजपा प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह के अलावा जिले के सभी भाजपा विधायकों को दी। इसके अलावा उन्होंने कोतवाली में आरोपितों के खिलाफ लिखित प्रार्थना पत्र भी दिया। लेकिन, आज तक किसी कार्यवाही की बात तो छोड़ दीजिए उनकी प्राथमिकी भी नहीं दर्ज की गई। अपने लेटरहेड पर लिखी गई चेतावनी में उन्होंने जांच के नाम पर प्रशासनिक लीपापोती का भी आरोप लगाया है।