यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

प्रधानमंत्री को बम से उड़ाने और जान से मारने की धमकी देने का आरोपित गिरफ्तार


🗒 गुरुवार, दिसंबर 23 2021
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक
प्रधानमंत्री को बम से उड़ाने और जान से मारने की धमकी देने का आरोपित गिरफ्तार

जौनपुर, । जिले में प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी को जौनपुर में बम से उड़ाने और जान से मारने की धमकी देने का मामला सामने आने के बाद पुलिस के होश उड़ गए। वहीं जानकारी होने के बाद सक्रिय पुलिस ने आनन फानन कार्रवाई करते हुए आरोपित को गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस के अनुसार मोबाइल फोन से पुलिस कंट्रोल रूम पर आरोपित ने धमकी भरी सूचना दी थी। धमकी मिलने के बाद हरकत में आई पुलिस ने गांव को चारों तरफ से घेर कर आरोपित को गिरफ्तार कर लिया। कार्रवाई के दौरान जौनपुर के सुरेरी में पुलिस की टीम घंटों भदखिन गांव में सक्रिय रही। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को वाराणसी के फूलपुर में आयोजित कार्यक्रम व जनसभा के दौरान बम से उड़ाने और उनकी हत्या करने की धमकी भरा सूचना देने वाले आरोपित को पुलिस ने घंटों मशक्कत के बाद गिरफ्तार कर लिया है। सुरेरी थाना क्षेत्र के भदखिन गांव निवासी लक्ष्मी कांत दुबे 50 वर्ष पुत्र पारसनाथ दुबे पुलिस कंट्रोल रूम पर मोबाइल फोन से सूचना दिया कि वाराणसी जिले के फूलपुर में आयोजित कार्यक्रम के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को बम से उड़ा कर उनकी हत्या कर दी जाएगी। इस दौरान युवक ने यह भी बताया कि यह घटना अनीश अंसारी व अब्दुल अंसारी के द्वारा की जाएगी। कंट्रोल रूम में सूचना लगते ही पुलिस अधिकारियों के हाथ पैर फूलने लगे।वहीं पुलिस विभाग ने तत्परता दिखाते हुए मोबाइल नंबर को ट्रेस किया और फोन करने वाले युवक के सुराग में लग गए। गुरुवार की शाम भदखिन गांव धीरे धीरे पुलिस छावनी में तब्दील हो गया और गांव से आरोपित युवक को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। गिरफ्तार करने के बाद ग्रामीण व क्षेत्रीय लोगों को यह सूचना हुई कि आरोपित द्वारा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को बम से उड़ाने की धमकी दी गई थी। विदित हो कि कुछ महीनों पूर्व रामपुर कठवतिया मार्ग न बनने पर भी सुरेरी थाना परिसर को भी उड़ाने की धमकी इसी युवक द्वारा दी गई थी और धमकी भरा पत्र मुख्य द्वार पर चस्पा भी किया गया था। वहीं पुलिस ने घटना के कुछ दिनों बाद ही युवक को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया था। इस संदर्भ में थानाध्यक्ष सुरेरी राज नारायण चौरसिया ने बताया कि कंट्रोल रूम से सूचना मिली थी। सूचना के बाद आरोपित युवक को गिरफ्तार कर लिया गया है।

जौनपुर से अन्य समाचार व लेख

» जीआरपी के सिपाही की हत्या के मामले में पूर्व सांसद उमाकांत समेत 7 दोषी करार

» स्कूल बैग में छिपकर बैठा था जहरीला सांप, बस्‍ते से निकलते ही डसा, मौत

» प्रेमी-प्रेमिका की संदिग्ध परिस्थिति में मौत

» गोदान एक्सप्रेस में आग लगने से मची अफरा-तफरी

» प्रेमी ने अपने दोस्‍त और प्रेमिका दोनों की हत्या