यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

सीजीएसटी की टीम का पान मसाला व्यवसायी के घर छापा


🗒 मंगलवार, अप्रैल 12 2022
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक
सीजीएसटी की टीम का पान मसाला व्यवसायी के घर छापा

हमीरपुर, । सेंट्रल गुड्स एंड सर्विस टैक्स (सीजीएसटी) की कानपुर टीम ने मंगलवार सुबह कस्बे की पुरानी गल्लामंडी में इंडियन बैंक के पास दयाल पान मसाला के निर्माता जगत गुप्ता के आवास पर छापा मारा। 15 घंटे गुजरने के बाद भी कार्रवाई रात तक जारी थी। दस्तावेज में कई खामियां मिलने के साथ ही पान मसाला व्यवसायी के आवास से टीम को भारी मात्रा में नकदी मिली है। चर्चा है कि नकदी छह करोड़ रुपये की नकदी मिल चुकी है। स्टेट बैंक आफ इंडिया से नोट गिनने की तीन मशीनें मंगाई गई हैं। रात में तीन बड़े बक्से भी मंगाए गए हैं। टीम में शामिल अधिकारियों ने काफी कैश मिलने की बात कहते हुए इससे ज्यादा कुछ कहने से इन्कार कर दिया। एक अधिकारी ने कहा, आयुक्त की ओर से प्रेस रिलीज जारी कर सारी जानकारी दी जाएगी। उधर, रात तक कानपुर से आयकर विभाग की टीम भी आने की संभावना है।सीजीएसटी की टीम सुबह करीब छह बजे पांच गाड़ियों में सवार होकर पान मसाला व्यवसायी के आवास पर छापा मारने पहुंची। इस दौरान एक मिनी ट्रक माल लेकर घर से बाहर निकला तो टीम ने उसे रोक लिया। बाहर टीम देखकर मुख्य द्वार बंद कर दिया गया, जो काफी देर तक नहीं खोला गया। घर का मुख्य द्वार इलेक्ट्रानिक है। इसे कोड के माध्यम से खोला जा सकता है। टीम के दबाव बनाने पर व्यवसायी ने गेट को खोला। टीम में शामिल एक दर्जन अधिकारियों ने पूरे आवास की सघन तलाशी ली। घर के किसी भी सदस्य को बाहर नहीं जाने दिया गया। दूधिये को भी गेट से ही लौटा दिया गया। टीम ने घर की छत पर पानी की टंकी का ढक्कन खोलकर उसे डंडे से चलाकर जांच की। इलेक्ट्रिक जेनरेटर का बाक्स खोलकर देखा। तलाशी के दौरान बैंक खातों, कारोबार से जुड़े दस्तावेज, लैपटाप कब्जे में लिए गए हैं। चर्चा है कि लेखा-जोखा के मिलान के दौरान टीम को काफी गड़बड़ियां मिली है। शाम करीब पांच बजे के आसपास टीम ने नोट गिनती करने के लिए बैंक से तीन मशीनें मंगवाई। इससे अंदाजा लगाया जा रहा है कि वहां पर भारी मात्रा में नकदी बरामद हुई है। करीब नौ बजे तीन गाड़ियों से टीम के कुछ सदस्य मुख्यालय की ओर निकल गए, बाकी घर में मौजूद रहे। रात करीब 10 बजे तीन बड़े बक्से लेकर एक इनोवा घर पहुंची। माना जा रहा कि बक्से बरामद कैश रखने के लिए मंगाए गए हैं। शाम करीब पांच बजे के आसपास टीम ने एसबीआइ से नोट गिनती करने के लिए एसबीआइ से तीन मशीनें मंगवाई। इससे अंदाजा लगाया जा रहा है कि वहां पर भारी मात्रा में कैस बरामद हुआ है। टीम में शामिल सदस्यों ने घर की छत पर लगी पानी की टंकी का ढक्कन खोलकर उसे डंडे से चलाने के बाद जांच की। वहीं घर के अंदर लगे इलेक्ट्रिक जनरेटर का बाक्स खोलकर उसकी भी तलाशी ली।घर का मुख्य द्वार इलेक्ट्रानिक है। इसे कोड के माध्यम से खोला जा सकता है। टीम को भनक लगने पर मंगलवार की सुबह करीब छह बजे गुटखा व्यापारी के घर पहुंच गई। इसके बाद एक डीसीएम में जा रहे माल को धर दबोचा। जांच के टीम के दबाव बनाने पर गृह स्वामी ने बमुश्किल इलेक्ट्रानिक गेट को खोला। वहीं घर के किसी भी सदस्य को बाहर नहीं जाने दिया गया। यहां तक की दूधिये को भी गेट से ही लौटा दिया गया।छापेमारी के दौरान स्थानीय लोगों का जमावड़ा लगा रहा। करीब 15 घंटे की कार्रवाई के बाद पांच गाड़ियों में से तीन गाड़ियों फर्राटा भरते हुए मुख्यालय की ओर चली गईं। वहीं रात तक कानपुर से इनकम टैक्स की टीम आने की संभावना जताई जा रही है।

कानपुर से अन्य समाचार व लेख

» हत्यारोपित ने फांसी लगाकर की आत्महत्या

» किशोरी से सामूहिक दुष्कर्म, मुकदमा दर्ज

» भाई के अत्याचार से परेशान पीड़िता ने प्रेस कांफ्रेंस कर मिडिया व अधिकारीयों को सुनाई अपनी पीड़ा,

» बिल्डर द्वारा पीड़ित पीड़िता ने प्रेस कांफ्रेस कर अपना दर्द मिडिया के सामने बया किया,

» गंगा में छलांग वाले पिता को पुलिस ने भेजा जेल