यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

गिफ्ट के नाम पर ठगे लिए 1.57 लाख, तीन गिरफ्तार


🗒 सोमवार, मई 23 2022
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक
गिफ्ट के नाम पर ठगे लिए 1.57 लाख, तीन गिरफ्तार

कानपुर, । मेट्रीमोनियल साइट्स और इंटरनेट मीडिया पर दोस्ती की रिक्वेस्ट भेजकर लोगों को जाल में फंसाने और उनसे ठगी करने वाले गिरोह का साइबर थाना पुलिस और गोविंद नगर थाने की संयुक्त टीम ने किया। संयुक्त टीम ने तीन आरोपितों को गिरफ्तार किया है। जबकि गिरोह का नाइजीरियन सरगना अभी फरार है। पुलिस ने आरोपितों के पास नकदी, मोबाइल, एटीएम, पासबुक, आधार कार्ड, बिना नंबर की कार, सिमकार्ड आदि बरामद किए हैं। पुलिस आरोपितों से पूछताछ कर रही है। गोविंद नगर हनुमान मंदिर के पुजारी विनोदानंद झा को 30 दिसंबर को एक ओलिवियर क्राउन (विदेशी महिला) के नाम से फेसबुक पर फ्रैंड रिक्वेस्ट आयी थी। दोस्ती का प्रस्ताव स्वीकार करने पर उनकी बातचीत शुरू हो गई। दोस्ती के बाद नए साल पर उपहार भेजने की जानकारी दी। बाद में कस्टम ड्यूटी, एयरपोर्ट अथारिटी के अधिकारी बनकर शातिरों ने उनसे 1.57 लाख की ठगी कर ली। नौ फरवरी को मुकदमा दर्ज हुआ था। जिसकी जांच साइबर थाना पुलिस ने शुरू की थी। पुलिस टीम ने रकम ट्रांसफर होने वाले खातों का ब्योरा और उनके मोबाइल नंबर निकलवाए। जिसके आधार पर कार्रवाई आगे बढ़ाई गई। बात करने वाले और जिनके खाते में रकम ट्रांसफर हुई दोनों की लोकेशन ट्रेस करनी शुरू हुई।दोनों की लोकेशन बाद में नोएडा सेक्टर 20 और 22 निकलने पर सर्विलांस थाना प्रभारी हरमीत सिंह और गोविंद नगर थाना प्रभारी रोहित तिवारी की संयुक्त टीम ने वहां छापेमारी करके  ग्रेटर नोएडा निवासी विक्रांत बब्बर, रोहिणी दिल्ली निवासी नितिन भुटानी और न्यू अशोर नगर दिल्ली निवासी जोगिंदर सिंह को गिरफ्तार किया गया। जबकि गिरोह का सरगना विक्रांत का नाइजीरियन बहनोई मौके पर नहीं मिला। पुलिस ने आरोपितों के पास से 4.50 लाख की नकदी, एक स्विफ्ट डिजायर कार बिना नंबर की, दो आइफोन, सात एंड्रायड, एक कीपैड फोन, 13 सिमकार्ड, चार रैपर, चार फर्जी आधार कार्ड, एक फर्जी आइकार्ड, सात अलग-अलग बैंकों की पासबुक व चेक बुक और 12 एटीएम कार्ड बरामद हुए हैं।