यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

नगरनिगम अधिकारीयों द्वारा चरारी मे जर्ज़र मकान की रिपेरिंग करवाने के बहाने करवाया जा रहा अवैद्ध कब्जा


🗒 शुक्रवार, अक्टूबर 14 2022
🖋 चित्रभान केशव अग्निहोत्री, ब्यूरो प्रमुख कानपुर
नगरनिगम अधिकारीयों द्वारा चरारी मे जर्ज़र मकान की रिपेरिंग करवाने के बहाने करवाया जा रहा अवैद्ध कब्जा

कानपुर - चकेरी थाना क्षेत्र के लालबंगला चौकी के अंतर्गत चरारी मे हनुमान मंदिर के पास मकान मालिक आशीष गुप्ता की गैर मौजूदगी मे उनके जर्ज़र मकान को नगरनिगम के उच्चाधिकारियों के द्वारा कब्ज़ा करवाने की नियत से रिपेयर करवाया जा रहा हैं मौकेपर रिपेयर करवा रहे योगेश ने बताया कि नगरनिगम जेई विनोद के आदेश पर मकान की रिपेरिंग करवा रहे हैं, जेई विनोद से बात करने पर बताया गया एई इरशाद के  कहने पर कराया जारहा हैं इरशाद जी को नगर आयुक्त द्वारा रिपेरिंग के लिए कहा गया परन्तु नगर आयुक्त ने बताया कि मामला मेरे संज्ञान मे नहीं हैं, मकान मालिक आशीष गुप्ता ने बताया विकलांग होने के कारण मैं देखभाल के लिए रिस्तेदारी मे रहा हूँ, उन्होंने जानकारी दी कि मेरे मकान पर हाईकोर्ट मे मुकदमा लंबित हैं जिसकी मुकदमा संख्या 3779/2022 हैं मेरे मकान की सुरक्षा की जिम्मेदारी जिला प्रशासन एवं पुलिस प्रशासन की हैं परन्तु नगरनिगम अधिकारीयों द्वारा ही कब्ज़ा करवाने की दृस्टि से मकान की रिपेरिंग करवाना सरासर दबँगई हैं जो हाईकोर्ट की भी आवेलना कर कर रहे हैं 

कानपुर से अन्य समाचार व लेख

» उड़ान सेवा संस्थान की ओर से बच्चों द्वारा की लगाई गयी मस्ती की पाठशाला,

» हत्यारोपित ने फांसी लगाकर की आत्महत्या

» किशोरी से सामूहिक दुष्कर्म, मुकदमा दर्ज

» भाई के अत्याचार से परेशान पीड़िता ने प्रेस कांफ्रेंस कर मिडिया व अधिकारीयों को सुनाई अपनी पीड़ा,

» बिल्डर द्वारा पीड़ित पीड़िता ने प्रेस कांफ्रेस कर अपना दर्द मिडिया के सामने बया किया,

 

नवीन समाचार व लेख

» रेल कर्मचारियों के मेंस यूनियन के बैनर तले शुरू हुआ भूख हड़ताल

» लगातार बारिश से हुयी अव्यवस्थाओ को जायजा लेने पहुंचे डीएम

» भारी बारिश से तबाह हुये मकानो की छतिपूर्ति के लिए सौपा ज्ञापन

» नाबालिग के अपहरण का प्रयास करने वाले को परिजनो ने दबोचा

» रपटा पर पानी होने से चरखारी राठ मार्ग हुआ बन्द