यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

कानपुर मे स्कूल में बंद जानवर मुक्त कराने गई पुलिस पर ग्रामीणों ने चलाए पत्थर, दारोगा की बाइक तोड़ी


🗒 शुक्रवार, जनवरी 04 2019
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक

बिधनू के नगवां गांव में ग्रामीणों ने बेसहारा मवेशियों को स्कूल परिसर में फिर बंद कर हंगामा किया। मौके पर पहुंची पुलिस पर ग्रामीणों संग भीड़ में मौजूद उपद्रवियों ने पथराव कर पुलिस की बाइक तोडऩी शुरू कर दी। चौकी इंचार्ज व सिपाही जान बचाने के लिए स्कूल में छिप गए। भीड़ को स्कूल में घुसते देख चौकी इंचार्ज ने रिवाल्वर निकाल लिया। सूचना पर पांच थानों के फोर्स पहुंचने के बाद ग्रामीण वहां से भागे।  

कानपुर मे स्कूल में बंद जानवर मुक्त कराने गई पुलिस पर ग्रामीणों ने चलाए पत्थर, दारोगा की बाइक तोड़ी

नगवां गांव में शुक्रवार सुबह ग्रामीणों ने 30 बेसहारा मवेशियों को पूर्वमाध्यमिक विद्यालय परिसर में बंद कर दिया।  स्कूल पहुंची शिक्षिकाओं को ग्रामीणों ने वापस लौटा दिया। सूचना पर कोरियां चौकी इंचार्ज चन्द्रप्रकाश तिवारी, दीवान कमलेश व सिपाही ओमवीर संग मौके पर पहुंचे। चौकी इंचार्ज ने ग्रामीणों से मवेशियों को मुक्त करने को कहा। ग्रामीणों के न मानने पर पुलिस ने  स्कूल गेट का ताला तोड़ दिया। इस पर भीड़ ने दारोगा व सिपाहियों पर पथराव शुरू कर दिया। जिसमें दारोगा, दीवान और सिपाही को पीठ व हाथ में पत्थर लगे। दारोगा ने सिपाहियों संग स्कूल में छिपकर थाना पुलिस को जानकारी दी।उपद्रवियों ने स्कूल का गेट बाहर से बंद कर दारोगा की बाइक तोड़ दी। साथ ही पथराव शुरू कर दिया। पत्थरबाजी कर रहे उपद्रवियों को  स्कूल में घुसते देख चौकी इंचार्ज ने रिवाल्वर निकाल कर खदेड़ा। सूचना पर फोर्स संग पहुंचे इंस्पेक्टर बिधनू द्रविण कुमार सिंह ने लाठियां पटककर भीड़ को खदेड़ा। बलवा की जानकारी पर नौबस्ता, घाटमपुर, किदवईनगर, जूही, बर्रा का फोर्स पहुंच गया। भारी फोर्स देख ग्रामीण घरों में दुबक गए। बिधनू इंस्पेक्टर द्रविण कुमार सिंह ने बताया कि करीब 50 उपद्रवियों के नाम चिह्नित कर बलवा समेत अन्य धाराओं में कार्रवाई कर धरपकड़ की जाएगी। वहीं बिधनू के खंड शिक्षा अधिकारी सुनील द्विवेदी ने कहा कि इस तरह आये दिन विद्यालयों में मवेशियों को बंद करके शिक्षण कार्य को बाधित करने वालों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया जाएगा।घाटमपुर विकास खण्ड के गांव अमौली में आए दिन फसलें बर्बाद होने से परेशान किसानों ने निराश्रित मवेशियों को एकत्र कर गांव के प्राथमिक विद्यालय में बंद कर गेट में ताला जड़ दिया। स्कूल में मवेशी बन्द किए जाने की सूचना प्रधानाध्यापक तृप्ति मिश्रा ने एनपीआरसी के माध्यम से खण्ड शिक्षाधिकारी को दी। खण्ड शिक्षा अधिकारी अमरनाथ पाल ने बताया कि एनपीआरसी को भेजा गया है। आख्या प्राप्त होते ही पुलिस व प्रशासनिक अफसरों को जानकारी देकर कार्रवाई की जाएगी। 

कानपुर से अन्य समाचार व लेख

» घाटमपुर में धरती धंसने की घटना ने बढ़ाई हलचल, देखने वालों का लग रहा जमावड़ा

» कानपुर रेंज में 29 पुलिस कर्मियों को दिखाया बाहर का रास्ता

» कानपुर मे बीवी ने ही रची थी शौहर की हत्या की साजिश

» कानपुर मे चालक को बंधक बना सड़क किनारे फेंका, ट्रक लूट ले गए नकाबपोश बदमाश

» हर्षिता अग्रवाल की मौत को दुर्घटना करार देने के प्रयास में जुटे सास-ससुर सीसीटीवी कैमरे ने खोला सच

 

नवीन समाचार व लेख

» यूपी में जेल से चल रहे अपराधियों के काले धंधे; अखिलेश यादव

» लखनऊ के माल थानाक्षेत्र मे पति की गैर मौजूदगी का देवर-नंदोई ने उठाया फायदा, महिला ने बताई आपबीती

» राजधानी मे तीन दिन में भी नहीं गिरा सके होटल विराज और SSJ

» अब जौहर यूनिवर्सिटी के अभिलेख में हेराफरी करने आजम खां के खिलाफ FIR, सुरक्षा अधिकारी का बेटा गिरफ्तार

» सपा-बसपा का गठबंधन टूट जाने के बाद भारतीय जनता पार्टी की निगाह अब सपा-बसपा के बुनियादी मतदाताओं पर