यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

पूर्व बीडीसी सदस्य की हत्या में दारोगा गिरफ्तार, साथ में रहा सिपाही लाइन हाजिर


🗒 शनिवार, अक्टूबर 31 2020
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक
पूर्व बीडीसी सदस्य की हत्या में दारोगा गिरफ्तार, साथ में रहा सिपाही लाइन हाजिर

कानपुर, घाटमपुर के भदरस गांव में शुक्रवार रात जुआ खेल रहे पूर्व बीडीसी सदस्य विमल बाजपेयी उर्फ पप्पू की हत्या दारोगा प्रेमवीर यादव ने गोली मारकर की थी। प्रथम दृष्टया जांच में पुष्टि के बाद आरोप दारोगा को गिरफ्तार कर लिया गया है और साथ में मौजूद रहे सिपाही को लाइन हाजिर किया गया है। वहीं मामले में दो अन्य आरोपितों को भी गिरफ्तार किया गया है। आरोप है कि दारोगा एक सिपाही के साथ जुआ लूटने गया था। एसपी ग्रामीण बृजेश श्रीवास्तव ने बताया कि अब तक मिले साक्ष्यों के अनुसार दारोगा की गोली से ही पप्पू बाजपेयी की मौत हुई है। इसी आधार पर उसे गिरफ्तार किया गया है। उसकी सरकारी पिस्टल व मौके से मिले खोखे को फोरेंसिक जांच के लिए भेजा गया है। साथ ही सिपाही दीपांशु को घटना छिपाने के लिए लाइन हाजिर किया गया है। मामले में विभागीय जांच कराई जाएगी। वहीं, हत्या में आरोपित दो ग्र्रामीणों को भी गिरफ्तार किया गया है। दारोगा प्रेमवीर फीरोजाबाद जिले का रहने वाला है।भदरस गांव निवासी पूर्व बीडीसी सदस्य एवं पूर्व उप प्रधान भी रह चुका है। 45 वर्षीय पप्पू बाजपेयी शुक्रवार रात करीब आठ बजे ग्र्रामीणों संग खेत में जुआ खेल रहा था। घटना के प्रत्यक्षदर्शी छोटका कोरी व पप्पू के भतीजे नीरज बाजपेयी ने बताया कि जुआ लूटने के लिए रात में सादे कपड़ों में तीन पुलिसकर्मी आए थे। जींस-शर्ट पहने व्यक्ति ने पप्पू को गोली मारी। छोटका के मुताबिक तीनों उसे गांव के बाहर सड़क तक ले गए। वहां खड़ी बुलेट से वह चले गए। ग्र्रामीण छुनिया साहू ने सुबह फौजी सोनकर के खेत में पप्पू का शव और कारतूस का खोखा पड़ा देखा। इसके बाद पुलिस बुलाई गई। पप्पू के पिता पूरन बाजपेयी ने गांव के दुर्गा सिंह, सोनू सिंह, वीरेंद्र पासी व छुन्ना चौकीदार के बेटे बड़का उर्फ बड़कऊ पर हत्या का मुकदमा कराया। उनके मुताबिक दुर्गा ही विमल को जुआ खेलने ले गया था, बाकी उसके साथ थे।सपाइयों के थाना घेरने और स्वजन के आरोप लगाये जाने के बाद मौके पर पहुंचे एसपी ग्रामीण बृजेश श्रीवास्तव ने दारोगा प्रेमवीर यादव की सरकारी पिस्टल चेक की तो एक बुलेट कम मिली। खोखे से पुष्टि के बाद दारोगा को गिरफ्तार कर लिया गया। उन्होंने बताया कि दारोगा के साथ ही हत्या के नामजद आरोपित वीरेंद्र व बड़का को भी गिरफ्तार कर लिया गया है। डॉक्टरों के पैनल द्वारा किए गए पोस्टमार्टम में गोली लगने से हृदय के क्षतिग्रस्त होने और रक्तस्राव की वजह से विमल की मौत की पुष्टि हुई है।पूर्व बीडीसी सदस्य विमल बाजपेयी उर्फ पप्पू को पिस्टल से मारी गई थी। गोली उसके दिल को बेधते हुए शरीर से आरपार हो गई थी। अत्यधिक रक्तस्राव से उसकी मौत हो गई। यह बात वीडियोग्र्राफी के बीच डॉक्टरों के पैनल से कराए गए पोस्टमार्टम में सामने आई है। घाटमपुर सीएचसी के डॉ.नरसिंह राजपूत और बिधनू सीएचसी के डॉ.राजेश कुमार ने शनिवार शाम करीब पांच बजे पोस्टमार्टम किया। रिपोर्ट के मुताबिक पप्पू के शरीर में अल्कोहल भी मिला है। जिससे उसके नशे में होने की पुष्टि हो रही है। प्रत्यक्षदर्शी नीरज ने भी बताया था कि चाचा (पप्पू) नशे में होने के कारण ही पुलिस आने पर भाग नहीं सके थे। उसका कहना है कि सीने में गोली लगने से स्पष्ट है कि निशाना साधकर गोली मारी गई।