जल्द ही खुलेगा पीडि़ता के पिता की मौत का राज, ट्रक की शिनाख्त को लेकर पुलिस गंभीर

यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

जल्द ही खुलेगा पीडि़ता के पिता की मौत का राज, ट्रक की शिनाख्त को लेकर पुलिस गंभीर


🗒 गुरुवार, मार्च 11 2021
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक
जल्द ही खुलेगा पीडि़ता के पिता की मौत का राज, ट्रक की शिनाख्त को लेकर पुलिस गंभीर

कानपुर, सजेती सामूहिक दुष्कर्म पीडि़ता के पिता की मौत का राज फॉरेंसिक जांच खोलेगी। हत्या, हादसा या आत्महत्या में उलझी गुत्थी रिपोर्ट आने के बाद ही सुलझेगी। वहीं दूसरी ओर पुलिस ने टक्कर मारने वाले ट्रक की शिनाख्त को लेकर भी कोशिशें तेज कर दी हैं। अलियापुर टोल प्लाजा से उस दौरान गुजरने वाले ट्रकों का जानकारी मांगी गई है। पीडि़ता के पिता की ट्रक से टक्कर हुई मौत का राज अब तक नहीं खुला है। पुलिस हत्या, आत्महत्या या हादसा में से किसी एक पर भी पूरे दावे के साथ कुछ कहने की स्थिति में नहीं है।  हत्या में मुकदमा दर्ज कराया गया है, प्रत्यक्षदर्शी आत्महत्या बता रहे हैं, जबकि पुलिस का मानना है कि यह हादसा था। फिलहाल मौत का राज फॉरेंसिक जांच से ही खुलने की उम्मीद है। बता दें कि घाटमपुर से चौडगरा टोल प्लाजा के बीच की दूरी करीब 45 किमी है। अमूमन ट्रक इस दूरी को पौन घंटे से एक घंटे के बीच पूरी करते हैं। चौडगरा टोल प्जाला से इस 15 मिनट के दौरान निकलने वाले ट्रकों का ब्योरा मांगा गया है। वीडियो भी मंगवाया गया है ताकि उससे भी कुछ साक्ष्य मिल सकें। गौरतलब है कि पुलिस ने जिस ट्रक से हादसा होना बताकर पकड़ा था, उसमें जांच के दौरान खून का कोई निशान नहीं मिला है। ऐसे में बड़ा सवाल है कि क्या पुलिस ने कोई दूसरा ट्रक पकड़ लिया है। यह लापरवाही है या साजिश इसकी पड़ताल भी कराई जानी चाहिए। फॉरेंसिक टीम ने मौका मुआयना किया है। कुछ साक्ष्य एकत्र किए हैं। दैनिक जागरण ने एक्सीडेंट करने वाले ट्रक को लेकर जो संशय व्यक्त किया है, वह सही है। मामले की जांच कराई जा रही है। जिस ट्रक से हादसा हुआ वह दिल्ली की ओर से आ रहा था और फतेहपुर की ओर गया। पुलिस ने औरैया-इटावा और चौडगरा टोल प्लाजा से गुजरने वाले ट्रकों का रिकार्ड मांगा है।  - बृजेश श्रीवास्ताव,एसपी ग्रामीण एक्सीडेंट किस ट्रक से हुआ, अभी यह तय नहीं है। इसीलिए दर्ज मुकदमे में उक्त ट्रक चालक को आरोपित नहीं बनाया गया, जिसे बुधवार को पकड़ा गया था। ट्रक की तलाश में चार टीमों का गठन किया गया है, जो कि ट्रक यूनीयन, टोल प्लाजा आदि से जानकारी जुटा रहे हैं। पुलिस को चार अन्य ट्रकों के बारे में जानकारी मिली थी, जिन्हेंं लाकर जांच की गई है। ट्रक की जांच को पुलिस गंभीर है। इसी लापरवाही में घाटमपुर के चौकी प्रभारी को निलंबित किया गया है। हत्या के मुकदमे में चौकी प्रभारी का जिक्र है, मगर वह कौन है, इसका जिक्र नहीं है। जांच के बाद ही आरोपित का नाम तय किया जाएगा। पूरे मामले की जांच एसपी ग्रामीण को दी गई है। - डॉ. प्रीतिंदर सिंह, डीआइजी

कानपुर से अन्य समाचार व लेख

» कानपुर के बर्रा में बाबा बनकर टप्पेबाजी करने वाले दो शातिरों को भीड़ ने पकड़कर पीटा

» सरे बाजार हेड कांस्टेबल की पत्नी पर फेंका गया तेजाब

» कानपुर पुलिस ने पकड़ीं आठ भिखारिनें ,ब्रांडेड जींस और टी-शर्ट पहनकर मांगती थीं भीख

» कानपुर में भी मतांतरण कराने वालों का नेटवर्क, स्कूल से चलता था मोटिवेशन कैंप

» कानपुर में पांच शादी करने वाले फर्जी बाबा का खुला भेद

 

नवीन समाचार व लेख

» मुख्तार अंसारी के 14 दिन के रिमांड को तामिला कराएगी पुलिस

» मेरठ में पत्नी का गला दबाने का आरोपित दिल्ली से गिरफ्तार

» मेरठ में महिला कांस्टेबल के साथ हैवानियत, जेठ ने फाड़े कपड़े, ससुर ने किया दुष्कर्म

» कानपुर के बर्रा में बाबा बनकर टप्पेबाजी करने वाले दो शातिरों को भीड़ ने पकड़कर पीटा

» भाजपा विधायक आवास में बंधक बनाकर बेटी से किया दुष्कर्म