यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

कानपुर में दारोगा के बेटों ने कार चालक की ईंट-पत्थर से कुचलकर की हत्या


🗒 शुक्रवार, अप्रैल 30 2021
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक
कानपुर में दारोगा के बेटों ने कार चालक की ईंट-पत्थर से कुचलकर की हत्या

कानपुर,।  नौबस्ता के राजेपुर इलाके में दारोगा के बेटों ने दो दिन पूर्व हुए झगड़े के मामले में समझौते के लिए बुलाकर एक कार चालक की ईंट-पत्थर व लाठी डंडों से पीटकर हत्या कर दी। वारदात को एक्सीडेंट बताकर चालक के शव को लेकर आरोपित खुद ही हैलट अस्पताल गए और वहां शव छोड़कर फरार हो गए। पलिस के मुताबिक नौबस्ता की गल्ला मंडी केडीए कॉलोनी निवासी बिट्टन सविता का इकलौता बेटा 25 वर्षीय रामप्रकाश उर्फ बछौनी कार चालक था। दो दिन पूर्व रामप्रकाश के साथी सागरपुरी निवासी सुत्तल के साथ राजेपुर गांव निवासी दारोगा के बेटे अमन वर्मा ने साथियों के साथ मिलकर मारपीट की थी। गुरुवार को सुत्तल ने रामप्रकाश को घटना की जानकारी दी।रामप्रकाश के मामा स्वामीदीन ने बताया कि गुरुवार रात रामप्रकाश और सुत्तल घटना की शिकायत करने नौबस्ता थाने जा रहे थे। इसी दौरान रामप्रकाश के पास आरोपितों का फोन आया। उन्होंने समझौता करने के बहाने राजेपुर बुलाया। रामप्रकाश व सुत्तल जैसे ही पहुंचे तो अमन वर्मा, उसके भाई व दोस्तों ने गालीगलौज शुरू कर दी। विरोध पर मारपीट व पथराव कर दिया। सुत्तल जान बचाकर भाग निकला, लेकिन रामप्रकाश फंस गया। इसके बाद हमलावरों ने लोहे की रॉड, लाठी-डंडे व ईंटों से रामप्रकाश के सिर पर ताबड़तोड़ वार करके हत्या कर दी। वारदात के बाद आरोपित रामप्रकाश के शव को उठाकर हैलट अस्पताल ले गए। वहां डॉक्टर को सड़ॉक हादसे में रामप्रकाश के घायल होने की जानकारी दी।जांच के बाद डॉक्टर ने रामप्रकाश को मृत घोषित कर दिया। इसके बाद अस्पताल के स्टाफ ने जब आरोपितों से पूछताछ शुरू की तो वे बहाना बनाकर फरार हो गए। तब अस्पताल प्रशासन ने स्वरूप नगर पुलिस को सूचना दी। पुलिस ने नौबस्ता पुलिस को जानकारी दी। नौबस्ता थाना प्रभारी सतीश कुमार सिंह ने बताया कि मृतक के मामा से पूछताछ के आधार पर हमलावरों की तलाश की जा रही है। तहरीर आने पर मुकदमा दर्ज किया जाएगा। रामप्रकाश के पिता पुतानी का कुछ वर्ष पूर्व देहांत हो चुका है। बड़े भाई बीरू की भी बीमारी के कारण तीन वर्ष पूर्व मौत हो गई थी। रामप्रकाश ही मां बिट्टन का सहारा था और कार चलाकर परिवार पालता था। बेटे की मौत की सूचना पर बिट्टन बदहवास सी हो गईं।

कानपुर से अन्य समाचार व लेख

» कानपुर के भूमाफिया रामदास और उसके साथियों के खिलाफ गैंगस्टर की तैयारी

» भाजपा नेता से दारोगा बोले- दोबारा अंडर वियर पहनकर चौकी मत आना. खूब वायरल हो रहा ऑडियो

» घाटमपुर में सराफा कारोबारी समेत दो घरों से 21 लाख का माल पार

» कानपुर सेंट्रल पर फर्जी नौकरी करते पकड़े गए 13 युवकों को पुलिस ने माना पीड़ित, एक एजेंट को जेल

» कानपुर सेंट्रल स्टेशन पर काम करते पर पकड़े गए 16 फर्जी कर्मचारी

 

नवीन समाचार व लेख

» सपा एमएलसी कमलेश पाठक और उनके भाइयों की करोड़ों की संपत्ति होगी कुर्क, डीएम ने दिया आदेश

» UP में 9 IPS अधिकारियों का तबादला, 6 जिलों के बदले गए पुलिस कप्तान

» पीएम मोदी ने की केंद्रीय मंत्रियों और भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा के साथ बैठक

» इटावा में सरेराह युवती पर मनचलों ने फेंका तेजाब

» कानपुर देहात में TET पास कराने के नाम पर डेढ़ लाख की ठगी