कन्नौज में पानी भरने के लिए हो गया खूनी संघर्ष, जमकर चले पत्थर,मौत

यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

कन्नौज में पानी भरने के लिए हो गया खूनी संघर्ष, जमकर चले पत्थर,मौत


🗒 शनिवार, मई 22 2021
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक
कन्नौज में पानी भरने के लिए हो गया खूनी संघर्ष, जमकर चले पत्थर,मौत

कानपुर, । सरकारी हैंडपंप पर पानी करने को लेकर दो पक्षों में विवाद हो गया। मारपीट हुई और दोनों पक्षों में पथराव होने लगा। इससे एक पक्ष से बुजुर्ग की मौत हो गई व दूसरे पक्ष से गर्भवती महिला को चोट लगने से बेहोश हो गई। पुलिस ने मामले की जांच शुरू कर दी।थाना क्षेत्र के कोठीपुर्वा बंजारा बस्ती में शनिवार को वीरेंद्र सिंह व माया देवी पत्नी स्व. वकील के बीच विवाद हो गया। सरकारी हैंडपंप पर पानी करने के दौरान झगड़ा शुरू हुआ। कुछ देर तक नोंकझोंक होती रही। इसके बाद पत्थर चलने लगे। वीरेंद्र सिंह की माया देवी चचेरी बहन है। माया अपने मायके में कई वर्ष से रह रही है। छह माह पूर्व माया के पति की मौत हुई है। दोनों के बीच पत्थर चले तो वीरेंद्र के पिता 65 वर्षीय पूरन सिंह को लग गया। इससे उनकी मौके पर ही मौत हो गई।वहीं दूसरी तरफ से माया देवी की गर्भवती बेटी सपना को चोट आई। इससे वह बेहोश हो गई। पुलिस ने गांव पहुंचकर मामला शांत कराया। शव पोस्टमार्टम भेजा और सपना को जिला अस्पताल में भर्ती कराया। माया देवी के मुताबिक मदन, वीरेंद्र, लक्ष्मी, पप्पी व सुनीता ने पत्थर चलाए। वहीं वीरेंद्र ने बताया कि राजेंद्र, विजय, विवेक, माया, आकाश, सपना व विकास ने पत्थर फेंके है, जिससे पिता की मौत हो गई। थानाध्यक्ष राजकुमार सिंह ने बताया कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट में मौत का कारण स्पष्ट होगा। शरीर पर कोई चोट नहीं दिखाई दे रही। तहरीर मिलने पर दोनों पक्षों पर मुकदमा दर्ज होगा और जांच कर कार्रवाई की जाएगी।