कानपुर में युवती की हत्या के आरोप में प्रधान समेत पांच के खिलाफ मुकदमा

यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

कानपुर में युवती की हत्या के आरोप में प्रधान समेत पांच के खिलाफ मुकदमा


🗒 मंगलवार, मई 25 2021
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक
कानपुर में युवती की हत्या के आरोप में प्रधान समेत पांच के खिलाफ मुकदमा

कानपुर, । बिठूर के ईश्वरीगंज गांव में सोमवार देर शाम सब्जी लेने निकली युवती का शव बाग में मिला था। मृतका के भाई ने चुनावी रंजिश में बहन की हत्या का आरोप लगा प्रधान समेत पांच आरोपितों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराई है। उधर, मंगलवार को स्वजन ने पोस्टमार्टम के बाद आरोपितों की गिरफ्तारी की मांग को लेकर शव रखकर जाम लगा दिया। पुलिस ने कार्रवाई का आश्वासन देकर आक्रोशित स्वजन को शांत करा जाम खुलवाया। पुलिस ने एक आरोपित को उठाया है। बैकुंठपुर गांव निवासी महिला के पति का देहांत हो चुका है। परिवार में दो बेटियां, एक बेटा है। उनकी 18 वर्षीय छोटी बेटी घर पर सिलाई कढ़ाई करती थी। सोमवार रात आठ बजे वह गांव के बाहर चौराहे पर सब्जी लेने गई थी, लेकिन वापस नहीं लौटी। स्वजन ने उसकी तलाश शुरू की तो पता चला कि एक युवती को कार सवार खींचकर बगिया की ओर ले गए हैं। भाई व अन्य स्वजन बगिया के अंदर पहुंचे तो वहां युवती का शव पड़ा था। मुंह से झाग निकल रहा था। युवती के भाई ने बताया कि ताऊ पूर्व ग्राम प्रधान हैं। इस बार भी वह चुनाव लड़े थे। आरोप है कि बलबीर यादव ने भी नामांकन कराया था। वह ताऊ पर नामांकन वापस लेने के लिए दबाव डाल रहा था। यही नहंी चुनाव जीतकर प्रधान बनने के बाद भी वह धमकी दे रहा था। शनिवार को वे लोग एक विवाह समारोह में शामिल होने गए थे। इसी बीच बलबीर, सोनू, मोनू, आकाश ने घर में घुसकर महिलाओं को लाठी-डंडे और फरसा मारकर लहूलुहान कर दिया था। पुलिस ने उचित धाराओं में कार्रवाई नहीं की थी। आरोप है कि चुनावी रंजिश में बहन की हत्या की गई है। मृतका के भाई की तहरीर पर पुलिस ने प्रधान बलबीर सिंह, लिधौरा निवासी सोनू, मोनू, आकाश व अमन के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया है। थाना प्रभारी अमित कुमार ने बताया कि नामजद आरोपित अमन को हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है। वहीं अन्य की तलाश में दबिश दी जा रही है। युवती का मंगलवार को पोस्टमार्टम हुआ, जिसमें मौत का कारण स्पष्ट न होने से बिसरा सुरक्षित किया गया है। गले में खरोंच के निशान मिले हैं। दुष्कर्म की आशंका के चलते स्लाइड बनाई गई है। बिसरा को जांच के लिए विधि विज्ञान प्रयोगशाला भेजा जाएगा, जिसके बाद ही मौत का कारण स्पष्ट हो सकेगा।साक्ष्य जुटाने के लिए मंगलवार को पुलिस टीम दोबारा घटनास्थल पहुंची तो  दो कीटनाशक दवाओं की खाली शीशियां मिलीं। एक शीशी प्रतिबंधित कीटनाशक की है।