यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

कानपुर के नेताजी का मेहमान हिस्ट्रीशीटर गिरफ्तारी के बाद मिनटों में हुआ गायब, 19 लोगों पर मुकदमा


🗒 बुधवार, जून 02 2021
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक
कानपुर के नेताजी का मेहमान हिस्ट्रीशीटर गिरफ्तारी के बाद मिनटों में हुआ गायब, 19 लोगों पर मुकदमा

कानपुर,। हमीरपुर रोड पर एक गेस्ट हाउस के बाहर बुधवार को हुआ हंगामा जितना बड़ा था, उतना ही बड़ा राजनीति और अपराधी के बीच गठजोड़ का नजारा भी। यहां चल रही एक भाजपा नेता की बर्थडे पार्टी में हिस्ट्रीशीटर मेहमान बनकर आया। उसकी मेहमाननवाजी शुरू हो पाती, उससे पहले ही सटीक सूचना पर पहुंची नौबस्ता पुलिस ने उसे गेस्ट हाउस के बाहर ही दबोच कर जीप में बैठा लिया। इसपर मेजबान नेता जी तमतमाते हुए समर्थकों संग बाहर आए और पुलिस के साथ धक्कामुक्की व गाली-गलौज करते हुए जीप के आगे बैठ गए। इस बीच कुछ समर्थकों ने भीड़ का फायदा उठा हिस्ट्रीशीटर को जीप से उतारकर भगा दिया। हालांकि, मामले में उस्मानपुर चौकी प्रभारी की भूमिका भी संदिग्ध बताई जा रही है।बर्रा निवासी सेवानिवृत्त सिपाही मालिक सिंह का पुत्र मनोज सिंह बर्रा थाने का हिस्ट्रीशीटर है। उस पर बर्रा, नौबस्ता, जूही, बिठूर आदि थानों में 27 मुकदमे हैं। वह युवक की गोली मारकर हत्या के प्रयास और एक घर से सीसीटीवी कैमरे चोरी करने के मामले में वांछित चल रहा है। बर्रा पुलिस लापरवाह रवैये के चलते अब तक उसकी गिरफ्तारी नहीं कर पाई है। वह पुलिस को चकमा देकर बच निकलता है। बुधवार को हमीरपुर रोड किनारे गेस्ट हाउस में डेरी संचालक भाजपा दक्षिण के जिला मंत्री नारायण सिंह भदौरिया की जन्मदिन पार्टी चल रही थी, जिसमें मनोज भी शामिल होने पहुंचा था। वांछित के पहुंचने की सूचना पर नौबस्ता पुलिस की टीम ने सादे कपड़ों में गेस्ट हाउस की घेराबंदी की। मनोज सिंह को गेस्ट हाउस के बाहर दबोच लिया। उसके शोर मचाने पर गेस्ट हाउस से जिला मंत्री समर्थकों संग बाहर निकले और जीप को घेर लिया। इस दौरान जुआरी और देह व्यापार मे जेल जा चुके बाबा ठाकुर, धीरू शर्मा, पूर्व भाजपा दक्षिण जिलाध्यक्ष का बेटा राजवल्लभ पांडेय समेत अन्य समर्थकों ने पुलिस से धक्कामुक्की व हाथापाई की। पुलिस ने जीप बढ़ाकर थाने जाने का प्रयास किया तो रोड जाम कर दी। इसी आपाधापी के बीच हिस्ट्रीशीटर को उतारकर भगा दिया गया। दारोगा सुभाषचंद्र की ओर से नौ नामजद हिस्ट्रीशीटर मनोज सिंह, रॉकी, रेस्टोरेंट संचालक रॉबिन सक्सेना, धीरू शर्मा, बाबा ठाकुर, गोपाल शरण सिंह चौहान, विकास तिवारी, आदित्य दीक्षित, राजबल्लभ पांडेय के साथ ही 10 अन्य अज्ञात समेत 19 लोगों के खिलाफ बलवा, सरकारी काम में बाधा, पुलिस से अभद्रता, अभिरक्षा से आरोपित को भगाने, महामारी अधिनियम के तहत मुकदमा दर्ज किया गया है। 

  • मेरे जन्मदिन पर अधिवक्ताओं व समर्थकों ने पार्टी का आयोजन किया था। आयोजन स्थल से कुछ दूरी पर शोर सुनकर बाहर देखने पहुंचे। हिस्ट्रीशीटर मनोज सिंह को कुछ लोग कार में डाल रहे थे। मनोज का भाजपा नेता संदीप ठाकुर से पुराना विवाद है। वही, उसे पकड़वाने आए थे। बाद में पता चला कि मनोज को पुलिस ले जा रही थी। उनका घटना से कोई सरोकार नहीं है। - नारायण सिंह भदौरिया, भाजपा दक्षिण जिला मंत्री।
  • हिस्ट्रीशीटर को पकडऩे के लिए टीम गई थी। धक्कामुक्की करके आरोपित को भीड़ ने छुड़ा लिया है। वीडियो क्लिप के आधार पर आरोपितों की शिनाख्त की जा रही है। दारोगा की तहरीर पर हिस्ट्रीशीटर और उसे छुड़ाने वालों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर कार्रवाई की जाएगी। - बसंत लाल, एडीसीपी साउथ  

कानपुर से अन्य समाचार व लेख

» पचास हजार रुपये का कर्ज अदा कर पाने पर किसान ने दी जान

» युवती का शव खींचकर किनारे पर लाए कुत्ते तो मची सनसनी

» भाजपा नेत्री के ड्राइवर की कमर से गिरी रिवाल्वर, फिर अचानक चलने हो गए घायल

» जमीन विवाद में चौकी इंचार्ज ने दारोगा को पीटा

» लापता व्यापारी का शव तालाब के पास मिला