यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

बस को एक्सप्रेस-वे पर कार सवारों ने किया हाइजैक, सात को पकड़ा


🗒 शनिवार, जून 05 2021
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक
बस को एक्सप्रेस-वे पर कार सवारों ने किया हाइजैक, सात को पकड़ा

कानपुर,। दिल्ली से सवारियां लेकर जा रही निजी बस को बोलेरो सवार लोगों ने हाइजैक कर लिया। चालक की सूचना पर पुलिस ने घेराबंदी कर बस को पकड़ लिया। पुलिस ने सात लोगों को हिरासत में लिया है, जबकि बोलेरो व एक बाइक बरामद हुई है। एआरटीओ ने जब जांच की तो बस का नंबर भी फर्जी निकला।शनिवार सुबह पुलिस को सूचना मिली कि आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस-वे पर 50 सवारियों से भरी निजी बस को बोलेरो सवार बदमाशों ने हाइजैक कर लिया है। बोलेरो भी बस के आगे चल रही है। तालग्राम कट के पास पुलिस ने नाकाबंदी कर बस को पकडऩे का प्रयास किया तो चालक ने बस को रांग-वे में दौड़ा दिया। 11 किमी तक पुलिस ने बस का पीछा किया। इसी दौरान यूपीडा के सुरक्षा अधिकारी मनोहर सिंह ने भी बस का पीछा किया और सौरिख कट से पहले बस को पकड़ लिया। इस दौरान सवारियों में चीख-पुकार मची रही। कोई समझ नहीं पा रहा था कि यह क्या हो रहा है। प्रभारी निरीक्षक पूनम अवस्थी ने बस को हाइजैक करने वाले सात लोगों को हिरासत में लिया है। बोलेरो और एक बाइक को भी जब्त किया गया है। यात्रियों को दूसरे वाहन से कन्नौज भेज दिया गया। बस को टोल बैरियर पर खड़ा कर दिया गया।सवारियों ने बताया कि इटावा जनपद के चौबिया थाना क्षेत्र में चौपुला कट के पास बोलेरो सवार लोगों ने बस को रोक लिया और चालक को मारपीट कर बस से नीचे फेंक दिया। इसके बाद उनमें से एक व्यक्ति बस को एक्सप्रेस-वे पर दौड़ाने लगा। बोलेरो सवार लोगों ने यात्रियों का आश्वासन दिया कि सभी को कन्नौज में सुरक्षित उतार दिया जाएगा। बस के चालक ने 112 पर पर फोन कर बस हाइजैक होने की सूचना दी तो पुलिस प्रशासन में हड़कंप मच गया।घटना की प्रारंभिक जांच में पता चला कि बस के स्वामित्व को लेकर दो पक्षों में विवाद चल रहा है। पुलिस के मुताबिक बस दो लोगों ने साझे में खरीदी थी, जिसमें एक पक्ष पर ढाई लाख रुपये बकाया है। इसी को लेकर विवाद चल रहा है। दूसरे पक्ष ने बस को हाइजैक कर कब्जे में लेने की कोशिश की, तो पुलिस ने पकड़ लिया। निजी बस कस्बा सौरिख की बताई जा रही है, जो दिल्ली से कन्नौज तक प्रतिदिन डग्गामारी करती थी।पुलिस सभी पहलुओं के आधार पर प्रकरण की जांच कर रही है। कुछ लोगों को हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है। घटना का मुकदमा दर्ज कर आरोपितों पर कड़ी कार्रवाई की जाएगी।  - प्रशांत वर्मा, पुलिस                                        अधीक्षक

कानपुर से अन्य समाचार व लेख

» घाटमपुर में युवती का शव मिलने के बाद फैली सनसनी

» कानपुर के भूमाफिया रामदास और उसके साथियों के खिलाफ गैंगस्टर की तैयारी

» भाजपा नेता से दारोगा बोले- दोबारा अंडर वियर पहनकर चौकी मत आना. खूब वायरल हो रहा ऑडियो

» घाटमपुर में सराफा कारोबारी समेत दो घरों से 21 लाख का माल पार

» कानपुर सेंट्रल पर फर्जी नौकरी करते पकड़े गए 13 युवकों को पुलिस ने माना पीड़ित, एक एजेंट को जेल

 

नवीन समाचार व लेख

» खाद्य विपणन शाखा पर गेहूं खरीद बंद होने से क्षेत्रीय किसान परेशान

» युवती ने फांसी लगाकर की आत्महत्या पुलिस ने पोस्टमार्टम के लिए भेजा शव

» खेतों पर एक अधेड़ का मिला शव परिजनों ने हत्या का लगाया आरोप

» पुरानी रंजिश को लेकर दबंगों ने मकान के अंदर बंद करके युवक के साथ की मारपीट

» कृषि विश्वविद्यालय ने कृषि विज्ञान केन्द्रों को उत्तम कार्य के लिये पुरस्कृत किया