यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

कानपुर सेंट्रल से रवाना हुई मालगाड़ी के दो वैगन में लगी आग


🗒 रविवार, जून 06 2021
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक
कानपुर सेंट्रल से रवाना हुई मालगाड़ी के दो वैगन में लगी आग

कानपुर, डीजल लेकर गोंडा जा रही मालगाड़ी के दो वैगन से रविवार शाम अचानक आग की लपटें उठने लगीं। क्षेत्रीय लोगों ने चिल्लाकर मालगाड़ी रुकवायी। फायर ब्रिगेड की गाड़ी पहुंचती, इससे पहले ही हरबंश मोहाल पुलिस ने लोगों की मदद से आग बुझायी। आग अगर वैगन के अंदर पहुंचती तो बड़ा हादसा हो सकता था। मथुरा रिफाइनरी से डीजल लेकर गोंडा जा रही मालगाड़ी जैसे ही सेंट्रल स्टेशन को क्रास करके लखनऊ क्रासिंग पर पहुंची तो तीसरे और 11वें वैगन से आग की लपटें उठने लगीं। यह देखकर क्षेत्रीय लोगों ने चिल्लाना शुरू किया। धीमी गति से क्रासिंग पार कर रही मालगाड़ी को लोको पायलट ने रोक दिया। वैगन से लपटें उठती देख गार्ड ने रेलवे अधिकारियों को सूचना दी। तत्काल बाद हरबंश मोहाल पुलिस, फायर बिग्रेड, जीआरपी और आरपीएफ की टीमें पहुंच गईं। रेलवे अधिकारियों ने ओवरहेड इलेक्ट्रिक लाइन को भी बंद करा दिया था। तीसरा वैगन मालरोड पुल तक पहुंच गया था, ऐसे में फायर ब्रिगेड की गाड़ी वहां तक नहीं पहुंच पायी। पुलिस और क्षेत्रीय लोगों ने गीले बोरे और पानी से आग बुझायी। इंजन को भी अलग कर दिया गया था। करीब पौने सात बजे मालगाड़ी गोंडा के लिए रवाना कर दी गई। क्षेत्रीय निवासी बताते हैं कि ट्रेन धीमी गति से आगे बढ़ रही थी, इसी दौरान ओएचई से चिंगारी निकली और वैगन के ऊपर पड़े डीजल ने आग पकड़ ली। यही कारण था कि रह रहकर लपटें उठ रही थीं। अधिकारियों के मुताबिक वैगन का ढक्कन यदि जरा भी ढीला होता तो बड़ा हादसा हो सकता था। वक्त रहते आग पर काबू पा लिया गया। आग लगने के कारणों का पता लगाया जा रहा है। जांच के निर्देश दिए गए हैं।   - हिमांशु शेखर उपाध्याय, डिप्टी सीटीएम 

कानपुर से अन्य समाचार व लेख

» बस को एक्सप्रेस-वे पर कार सवारों ने किया हाइजैक, सात को पकड़ा

» कानपुर में दुष्कर्म के प्रयास के मामले में आरोपित ने गवाह से की मारपीट

» नारायण सिंह भाजपा से निष्कासित, एक दिन पहले छिना था मंत्री पद

» कानपुर में हिस्ट्रीशीटर को भगाने वाले पूर्व भाजपा नेता समेत चार गिरफ्तार

» कानपुर के नेताजी का मेहमान हिस्ट्रीशीटर गिरफ्तारी के बाद मिनटों में हुआ गायब, 19 लोगों पर मुकदमा