यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

कानपुर-इटावा हाईवे पर हुए हादसे में एक और मौत, अब तक 18 ने गंवाई जान


🗒 बुधवार, जून 09 2021
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक
कानपुर-इटावा हाईवे पर हुए हादसे में एक और मौत, अब तक 18 ने गंवाई जान

कानपुर, कानपुर नगर के सचेंडी थाने के पास कानपुर-इटावा हाईवे पर मंगलवार रात दर्दनाक हादसा हो गया था। गदनखेड़ा गांव के सामने अनियंत्रित बस गलत दिशा से आ रही टेंपो को रौंदती हुई गड्ढे में पलट गई थी। कोरोना संकट के बावजूद दोनों गाड़ियों में क्षमता से अधिक सवारियां भरी थीं। अतएव हादसे में कुल 17 लोगों को अपनी जान गंवानी पड़ी थी। वहीं इस भयावह हादसे के बाद बुधवार दोपहर तक एक और व्यक्ति ने दम तोड़ दिया। इस हादसे पर राष्ट्रपति रामनाथ कोविन्द, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, गृहमंत्री अमित शाह और प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने दुख जताया था। इसके साथ ही पीएम मोदी व सीएम योगी ने राहत राशि का भी ऐलान किया था।कल्पना ट्रैवल्स की 42 सीटर बस करीब 120 सवारियां लेकर गुजरात के अहमदाबाद के लिए शाम साढ़े पांच बजे फजलगंज से चली थी। बाराबंकी के रहने वाले राजकुमार, विनोद, सर्वेश और गोंडा निवासी शीलू ने बताया कि बस चालक ने विजय नगर स्थित पेट्रोल पंप पर डीजल भराते समय ही शराब पी ली थी। यात्रियों ने इसका विरोध करते हुए ट्रैवल्स कंपनी के नंबर पर फोन पर इसकी जानकारी दी थी। कुछ ही किलोमीटर चलने के बाद इटावा की ओर सचेंडी थाने से डेढ़ किलोमीटर आगे गदनखेड़ा गांव के पास अचानक अनियंत्रित बस ने सवारियों से भरे टेंपो में जोरदार टक्कर मार दी। इससे टेंपो फुटपाथ की ओर जाकर पलट गया और उसके परखच्चे उड़ गए। वहीं, टक्कर मारने के बाद अनियंत्रित बस भी हाईवे किनारे गड्ढे में पलट गई और बस का ड्राइवर और चालक मौका पाकर भाग निकले। मौके पर पहुंचे आइजी मोहित अग्रवाल, एसपी आउटर अष्टभुजा प्रसाद समेत कई आला अफसरों ने घटनास्थल पहुंचकर हालात का जायजा लिया। लोडर से एलएलआर अस्पताल (हैलट) लाए गए कई घायलों को डाक्टरों ने मृत घोषित की दिया था। बताया गया था कि वे लोग गांव से किसाननगर स्थित बिस्किट फैक्ट्री में काम करने जा रहे थे।कानपुर-इटावा हाईवे पर हुए दर्दनाक हादसे में घायल हुए कुल 17 लोगों ने मंगलवार रात ही अपनी जान गंवा दी थी। वहीं बुधवार दोपहर ईश्वरीगंज निवासी अनिल यादव ने भी एक निजी अस्पताल में उपचार के दौरान दम तोड़ दिया। हालांकि सूचना के मुताबिक हादसे में जान गंवाने वाले अंकुश के भाई अंकित की भी मौत हो गई है, लेकिन अंकित की मृत्यु की अभी अधिकारिक जानकारी नहीं है।

कानपुर से अन्य समाचार व लेख

» कानपुर में पांच शादी करने वाले फर्जी बाबा का खुला भेद

» कानपुर में प्रतिबंधित नशीली दवा की खेप के साथ पकड़े गए तस्कर

» रिचा दुबे की शिकायत पर एसडीएम ने दिए निर्देश

» हिस्ट्रीशीटर को भगाने में आरोपित धीरू को मिली जमानत, जेल में रहेगा बाबा ठाकुर

» विकास दुबे के खास गुर्गे शिवम दुबे पर लगा रासुका

 

नवीन समाचार व लेख

» यूपी बीजेपी कोर कमेटी की बैठक में चुनावी रणनीति तय

» कानपुर में पांच शादी करने वाले फर्जी बाबा का खुला भेद

» फतेहपुर में लूट के मोबाइल फोन समेत अंतरजनपदीय दो लुटेरे हत्थे चढ़े

» कन्नौज में पंचायत के बहाने बुलाकर की गई थी प्रधान के पति की हत्या,एक आरोपित गिरफ्तार

» कानपुर में प्रतिबंधित नशीली दवा की खेप के साथ पकड़े गए तस्कर