यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

कानपुर में राज्यपाल-सीएम ने किया राष्ट्रपति का स्वागत, सर्किट हाउस में रात्रि प्रवास


🗒 शुक्रवार, जून 25 2021
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक
कानपुर में राज्यपाल-सीएम ने किया राष्ट्रपति का स्वागत, सर्किट हाउस में रात्रि प्रवास

कानपुर, राष्ट्रपति राम नाथ कोविन्द दिल्ली के सफदरगंज स्टेशन से दि रॉयल प्रेसिडेंशियल ट्रेन से कानपुर के लिए रवाना हो चुके हैं। राष्ट्रपति तीन दिवसीय प्रवास के लिए कानपुर आ रहे हैं। शाम 07:45 पर उनकी ट्रेन कानपुर सेंट्रल के प्लेटफार्म नंबर एक पर आएगी। इस यात्रा में राष्ट्रपति के साथ उनकी पत्नी सविता कोविन्द भी मौजूद हैं।लंबे अंतराल के प्रेसिडेंशियल ट्रेन के चलने पर  उत्तर रेलवे के महाप्रबंधक आशुतोष गंगल ने कहा कि ये हमारे लिए गौरव की बात है कि राष्ट्रपति 15 साल के अंतराल के बाद ट्रेन से सफर कर रहे हैं। उनकी ये यात्रा दिल्ली से कानपुर होते हुए लखनऊ की है। आज ये ट्रेन कानपुर जाएगी, उसके बाद दो दिन के कानपुर प्रवास के बाद ये ट्रेन लखनऊ जाएगी। झींझक स्टेशन पर उतरने के बाद राष्ट्रपति राम नाथ कोविन्द मंच पर पहुंचे। जहां उन्होंने कहा कि काफी समय से आने का प्रयास कर रहा था। परौंख से झींझक, कानपुर, पटना होते होकर राष्ट्रपति भवन पहुंच गया। वैसे डीएम साहब कह रहे थे कि आशीर्वाद देने आया हूं, लेकिन वास्तव में मैं तो आशीर्वाद लेने आया हूं। राष्ट्रपति ने कहा कि झींझक की गलियां, स्टेशन याद हैं। यहां घंटों ट्रेन का इंतजार करता था। जब मैं परौंख से खानपुर होकर जाता था तो झींझक में मिठाई की दुकान थी, वो मुझे आज भी याद है। अपने मित्रों को याद करते हुए वे बोले कि मेरे मित्र थे। एक बाबूराम वाजपेयी जी, जिनका मकान यहीं पीछे है। दूसरे रसूलाबाद के रामविलास त्रिपाठी जी। इन दोनों की तरह ऐसे अनेक हमारे अपने लोग हमसे बिछड़ गए। वहीं कुछ अपने इस अदृश्य बीमारी कोरोना के कारण हमें छोड़कर चले गए। ऐसे सभी लोगों को श्रद्धांजलि अर्पित करता हूं।महामारी में अपनों को खोया जिनको हम जानते नहीं, वह भी मेरे अपने ही है। आपसे सभी से अपील है कि कोरोना की तीसरी लहर आ रही है, बच्चों को मास्क जरूर लगाएं। सभी लोग वैक्सीन जरूर लगाएं। प्रधानमंत्री को धन्यवाद है कि देश के लिए फ्री वैक्सीन दी है।

कानपुर से अन्य समाचार व लेख

» कानपुर में स्कूल से आते समय वैन में मासूम से छेड़छाड़

» परीक्षा देने आए डाक्टरों पर पथराव, विवाद के बाद दौड़ा-दौड़ाकर पीटा

» जिसे मान बैठे थे बुढ़ापे की लाठी, उसने ही घोट दिया गला

» कानपुर नगर निगम अवर अभियंता का रिश्वत लेते वीडियो वायरल

» पचास हजार रुपये का कर्ज अदा कर पाने पर किसान ने दी जान