होटल में महिला सिपाही के साथ अय्याशी कर रहे थे सीओ

यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

होटल में महिला सिपाही के साथ अय्याशी कर रहे थे सीओ


🗒 बुधवार, जुलाई 07 2021
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक
होटल में महिला सिपाही के साथ अय्याशी कर रहे थे सीओ

कानपुर,। उन्नाव में तैनात एक सीओ मंगलवार की रात कानपुर के एक आलीशान होटल में महिला सिपाही के साथ रंगरलियां मनाते हुए पकड़े गए। वह एसपी उन्नाव से अवकाश लेकर घर के लिए निकले थे। हालांकि उन्होंने अपने सभी मोबाइल फोन नंबर बंद कर दिए। रात पत्नी ने नंबर मिलाए तो सभी बंद मिले। उन्होंने पति के साथ अनहोनी होने की आशंका में एसपी उन्नाव को रात ही फोन कर दिया। आनन-फानन उन्नाव की सर्विलांस टीम को सक्रिय किया और आधी रात के बाद सीओ को महिला सिपाही के साथ माल रोड स्थित एक होटल में पाया गया। सीओ उन्नाव के एक ग्रामीण सर्किल में तैनात है और मूल रूप से गोरखपुर मंडल के एक जिले के रहने वाले हैं । उन्होंने मंगलवार को घर जाने के लिए एसपी से अवकाश लिया था। करीब चार बजे वह एक महिला सिपाही के साथ माल रोड स्थित होटल पहुंचे और वहां किराए का कमरा लेकर ठहर गए। हालांकि सीओ ने अपना प्राइवेट व सरकारी मोबाइल नंबर दोनों बंद कर दिए। इधर पत्नी ने रात फोन मिलाया तो सभी नंबर बंद मिले। उन्होंने पूछताछ की तो पता चला कि वह तो अवकाश लेकर घर के लिए निकले हैं। इससे पत्नी और परेशान हो उठीं। रात उन्होंने एसपी उन्नाव को फोन करके पति की हत्या की आशंका व्यक्त करते हुए मदद मांगी। अनहोनी की आंशका होते ही एसपी उन्नाव ने आनन फानन सर्विलांस टीम को सक्रिय किया तो उनका मोबाइल  नेटवर्क कानपुर में एक होटल में आकर बंद हो गया। रात करीब 12 बजे उन्नाव पुलिस होटल पहुंची और पूछताछ की तो पता चला कि सीओ साहब किसी महिला के साथ ठहरे हुए हैं। इसके बाद पुलिस ने उनसे पूछताछ की और वापस लौट गई। खास बात यह है कि इतना सब होने के बाद भी सीओ ने महिला सिपाही के साथ ही होटल में रात बिताई और सुबह होने पर गए।होटल सूत्रों के मुताबिक सीओ और उनकी महिला सिपाही मित्र ने अपने-अपने पहचान पत्र दिए थे। उम्र में बहुत अधिक अंतर न होने की वजह से होटल प्रबंधक भी माजरा भांप नहीं पाए। यही नहीं सीओे ने  पुलिस से जुड़ी अपनी पहचान भी गुप्त रखी थी।उन्नाव पुलिस ने सीओ और महिला सिपाही से पूछताछ की। चूंकि दोनों बालिग हैं और उन्होंने होटल बुक कराते समय अपने-अपने पहचान पत्र दिए थे और सीओ अवकाश पर थे, इसलिए पुलिस ने कोई कार्रवाई नहीं की और पूछताछ व कुशलक्षेम लेकर लौट गई। हालांकि सबूत के  तौर पर उन्नाव पुलिस सीओ से जुड़े वीडिया अपने साथ ले गई है। होटल में इंट्री करते समय सीओ और उनकी महिला मित्र सीसीटीवी कैमरे में दोपहर करीब चार बजे कैद हुए थे। बुधवार की सुबह सात बजे दोनों ने होटल छोड़ दिया।