यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

आरोपित रिटायर्ड इंस्पेक्टर को बिना हथकड़ी कोर्ट लाई पुलिस


🗒 रविवार, अगस्त 22 2021
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक
आरोपित रिटायर्ड इंस्पेक्टर को बिना हथकड़ी कोर्ट लाई पुलिस

कानपुर, । रिटायर्ड इंस्पेक्टर दिनेश त्रिपाठी से पुलिस विभाग की दोस्ती जारी है। शनिवार को रिटायर्ड इंस्पेक्टर बयान के लिए माती कोर्ट पहुंचा तो उसके हाथ में हथकड़ी नहीं लगी थी। परिसर में जैसे ही उसने मीडिया का कैमरा देखा तुरंत सिपाही के हाथ में ली हथकड़ी पकड़ ली। लेकिन जो हथकड़ी कलाई में बंधी होनी चाहिए उसे खुद ही एक आरोपित हाथ से पकड़े था यह देख सभी चर्चा करते रहे।अकबरपुर में वर्ष 2013 में ट्रक चालक की हत्या हुई थी। मामले की विवेचना तत्कालीन इंस्पेक्टर दिनेश त्रिपाठी ने की थी, जिसकी सुनवाई विशेष न्यायाधीश दस्यु प्रभावित कोर्ट में चल रही है। इससे पहले पेशी में रिटायर्ड इंस्पेक्टर आया था तो न हथकड़ी थी न ही पुलिस वाहन से वह आया था। निजी कार से वह ठसक के साथ आया था। मामले में कानपुर कमिश्नर असीम अरूण ने जांच के आदेश भी दिए है। उम्मीद थी कि इससे पुलिस अभिरक्षा में लेकर आने वाले पुलिसकर्मी सुधार लाएंगे और रिटायर्ड इंस्पेक्टर से दोस्ती नहीं निभाएंगे लेकिन ऐसा नहीं हुआ। बिना हथकड़ी के ही दिनेश त्रिपाठी कोर्ट में आया। वापसी में परिसर में वह बिना हथकड़ी के घूम रहा था जैसे ही मीडिया का कैमरा उसने देखा झट से आगे चल रहे सिपाही के हाथ में पड़की हथकड़ी उसने पकड़ ली। लेकिन उसकी चोरी व पुलिस की यह अजब दोस्ती कैमरे में कैद हो गई। इसके बाद तेजी से सिपाही उसे जेल वाहन से लेकर रवाना हो गए। वहीं इससे पहले दस्यु प्रभावित कोर्ट में उसके बयान दर्ज हुए और अगली तारीख 24 अगस्त की दी गई।