यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

जिला कासगंज के नगला मुंडा में हादसा, मिट्टी की ढाय ढहने से दबीं महिलाएं, दो की मौत


🗒 मंगलवार, मई 28 2019
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक

कासगंज के गांव नगला मुंडा में मंगलवार देर शाम बड़ा हादसा हुआ। मिट्टी की ढाय ढहने से तीन महिलाओं के दब गईं। गांव में अफरा-तफरी मच गई। आसपास के ग्रामीण मौके पर पहुंच गए। खबर मिलने पर थाना कासगंज पुलिस के साथ प्रशासनिक अफसर पहुंच गए। आनन-फानन में जेसीबी मंगाई गई। मिट्टी ज्यादा देख कर प्रशासन ने चार जेसीबी मंगाकर मिट्टी को हटवाना शुरू किया। एक महिला के बाहर निकलने के बाद राहत कार्य में जुटे लोगों की उम्मीद बढ़ी। करीब तीन घंटे की मेहनत के बाद महिलाओं को निकाला जा सका। इनमें से दो महिलाओं ने दम तोड़ दिया। मंगलवार शाम को ऐंठपुर निवासी तारा रानी पत्नी प्रेमपाल, सरोज देवी पत्नी अशोक कुमार तथा गौरा देवी पत्नी इंद्रपाल मिट्टी लेने के लिए नगला मुंडा स्थित पोखर पर गई थीं। यहां पर मिट्टी के टीले के नीचे खुदाई से जमीन खोखली हो गई थी। महिलाओं ने यहां से मिट्टी निकालना शुरू कर दिया। इसी दौरान मिट्टी खिसक गई तथा तीनों मिट्टी में दब गईं। ग्रामीणों को जब ढाय गिरने की जानकारी मिली तो आसपास के लोग मौके पर दौड़े। खबर मिलने पर सीओ सिटी आइपी ङ्क्षसह एवं एसडीएम ललित कुमार पहुंच गए। जेसीबी मंगाकर मिट्टी हटाना शुरू कराया। कुछ देर में एक महिला नजर आई, इन्हें बाहर निकाला तो इनकी पहचान गौरा देवी के रूप में हुई। परिजन गौरा को उपचार के लिए अस्पताल लेकर दौड़े, जहां से चिकित्सकों ने रैफर कर दिया। ग्रामीणों में अन्य महिलाओं के मिलने की उम्मीद बढ़ी तो राहत कार्य तेज कर दिया, रात पौने आठ बजे तक चले राहत कार्य के बाद तारा देवी तथा सरोज देवी को भी प्रशासन ने निकालने में सफलता हासिल की। इन्हें अस्पताल भेजा, जहां चिकित्सकों ने इन्हें मृत घोषित कर दिया।प्रशासन ने मिट्टी हटाने के लिए चार जेसीबी लगाईं। जेसीबी चालकों को भी सावधानी से मिट्टी हटाने के लिए कहा, ताकि मिट्टी में दबी किसी महिला को चोट न पहुंचे। जब लगा कि अब मिट्टी पूरी तरह हट गई है तथा महिलाएं निकट हैं तो इसके बाद फावड़ों से मिट्टी को हटाया गया।शाम साढ़े छह बजे के बाद अंधेरा छाने लगा तो ऐसे में मिट्टी हटाने में भी दिक्कतें आर्इं। एसडीएम ललित कुमार एवं सीओ आइपी ङ्क्षसह ने जेसीबी की लाइट जलाने के आदेश दिए। इसके बाद अपने निर्देशन में उन्होंने मिट्टी की खुदाई कराई।मिट्टी की ढाय गिरते हुए आसपास के लोगों ने देखा तो वह भी दौड़े-दौड़े यहां पहुंचे। कुछ ही देर में आसपास के ग्रामीणों की भीड़ भी पहुंच गई। ढाय में दबीं महिलाओं के संबंध में लोग पूछते हुए नजर आए। खबर मिलने पर जब महिलाओं के परिजन पहुंचे तो इनके गांव एवं नाम की जानकारी हो सकी। इसके बाद बचाव कार्य शुरू हो सका।मां तारा रानी के दबने की खबर मिलने पर 14 वर्षीय अंजलि बिलखने लगी। उसे बिलखते देख पड़ोस की महिलाओं ने चुप कराया। अंजलि के पिता की पहले ही मौत हो गई है तथा अब मां की भी हादसे में मौत हो गई।मृतक महिलाओं में से यदि कोई परिवार की मुखिया हैं और कृषि भूमि उनके नाम है तो दुर्घटना बीमा योजना का लाभ दिलाएंगे, अन्यथा पारिवारिक स्थिति को देखते हुए हर संभव मदद का प्रयास करेंगे'।

जिला कासगंज के नगला मुंडा में हादसा, मिट्टी की ढाय ढहने से दबीं महिलाएं, दो की मौत

कासगंज से अन्य समाचार व लेख

» कासगंज में टॉफी लेकर आ रही बालिका पर मौत का झपट्टा, लोगों ने लगाया जाम

» कासगंज के सिढ़पुरा मे खुद को 'मैनेजर' बता पहुंच गया ब्याह रचाने, दरवाजे पर खुली पोल, बैरंग लौटी बरात

» कासगंज के सोरों में सनसनी पांच दिन से लापता युवक का शव मिला, परिजनों को हत्‍या की आशंका

» कासगंज में जनसभा में बोले पूर्व मुख्‍यमंत्री अखिलेश यादवसपा को गुंडा कहते हैं तो अब बाबा का ही रिकार्ड देख लें

» जिला कासगंज में बोले अमित शाह, जहां जाता हूं वहां मोदी-मोदी ही सुनाई देता

 

नवीन समाचार व लेख

» डाक पार्सल ट्रक से ले जाई जा रही हरियाणा मेड शराब पकड़ा

» पुलिस बदमाशों मे मुठभेड़ के दौरान तीन बदमाश घायल पुलिस ने दबोचा

» पीएम मोदी को जान से मारने की धमकी, राजस्थान भाजपा अध्यक्ष को मिला खत

» निदा खान के शौहर शीरान रजा खां ने की दरगाह आला हजरत के सज्जादानशीन से मारपीट

» जिला चंदोली मे बेकाबू ट्रक ने घर के बाहर सो रहे बुजुर्ग को रौंदा; चालक और क्लीनर फरार