यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

दुष्कर्म और हत्या के बाद फरार को मुठभेड़ में लगी दो गोली


🗒 गुरुवार, अप्रैल 07 2022
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक
दुष्कर्म और हत्या के बाद फरार को मुठभेड़ में लगी दो गोली

कौशांबी , । कौशांबी जनपद में पिछले दिनों घर के भीतर महिला की दुष्कर्म के बाद हत्या की  वारदात अंजाम देकर फरार अपराधी मुश्ताक के साथ पुलिस की मुठभेड़ हो गई। पश्चिम शरीरा के कटरी गांव के यमुना कछार में मुठभेड़ के दौरान मुश्ताक के पैर में गोली लगी और वह गिर गया। मौके पर पुलिस को अवैध हथियार और कारतूस मिले। इस घटना में शामिल बाकी दो अपराधियों को पहले ही पुलिस गिरफ्तार कर जेल भेज चुकी है। करारी इलाके का मुश्ताक फरार चल रहा था जिसकी तलाश में पुलिस लगातार छापेमारी कर रही थी।गोली लगने से घायल मुश्ताक को पुलिस उठाकर जिला अस्पताल ले गई। सीओ मंझनपुर केजी सिंह के नेतृत्व में हुए पुलिस एनकाउंटर के बाद मौके पर एसपी हेमराज मीणा समेत कई पुलिस अधिकारी पहुंचे और घटनाक्रम की जानकारी ली। महिला की दुष्कर्म के बाद हत्या के बाद से पुलिस की कई टीम मुश्ताक की तलाश में लगी थी। वह लगातार ठिकाने बदल रहा था। गुरुवार सुबह पुलिस को खबर मिली कि वह पश्चिम शरीरा के कटरी में छिपा है तो उसे घेर लिया गया। पुलिस को देखकर वह गोली चलाकर भागने लगा तो बचाव में पुलिस ने भी फायरिंग की जिससे उसके पैर में गोली लगी।पश्चिम शरीरा इलाके में महिला 25 मार्च की रात खाना खाने के बाद पीछे वाले कमरे में सो रही थी। इस बीच गला रेतकर उसकी हत्या कर दी गई। दूसरे दिन सूचना पर पहुंची पुलिस ने घटनास्थल का निरीक्षण किया और पति की तहरीर पर अज्ञात कातिलों के खिलाफ केस दर्ज किया। मामले की जांच कर रही पुलिस ने आधा दर्जन लोगों से पूछताछ की तो पता चला कि चित्रकूट के मऊ बियावल निवासी दीपक साहू, मुश्ताक निवासी मोलानी करारी गांव में काफी समय से रहते हैं। इन दोनों के अलावा अमीना गांव के ही भोला की भूमिका संदेह के दायरे में आई। दीपक व भोला की धर-पकड़कर तीन दिन पहले पूछताछ की तो उन्होंने हत्या का जुर्म कबूल कर लिया। साथ ही यह भी बताया कि वह लूट की नीयत से घर में घुसे थे। पहचान होने के कारण महिला की हत्या करना पड़ा। यही नहीं, आरोपितों ने पुलिस को यह भी बताया कि मुश्ताक ने दुष्कर्म भी किया था।बहरहाल दोनों आरोपितों को जेल भेजवाने के बाद पुलिस मुश्ताक की तलाश कर रही थी। गुरुवार की सुबह करीब साढ़े 10 बजे मुखबिर की सूचना पर सीओ मंझनपुर डा. कृष्ण गोपाल सिंह के नेतृत्व में पुलिस टीम ने पश्चिम शरीरा के कटरी गांव के समीप मुश्ताक की घेराबंदी कर ली। सीओ के मुताबिक मुश्ताक ने पुलिस पर तमंचे से कई राउंड फायर भी किया। जवाब में पुलिस ने भी गोली चलाई। इस दौरान मुश्ताक के दोनों पैर में गोली लगी और बचते -बचाते पुलिस कर्मियों ने उसे पकड़ लिया। आरोपित को जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया। जानकारी होने पर पुलिस के आला अधिकारी भी अस्पताल पहुंचे।

कौशांबी से अन्य समाचार व लेख

» दुष्कर्म-हत्या करने वाले अपराधी को पुलिस मुठभेड़ में लगी दो गोलियां

» पिता ने सो रहे बेटे की फावड़ा से हत्‍या की

» लाश से दुष्कर्म करने वाला हैवान, एनकाउंटर में गिरफ्तार

» पति ने गर्भवती पत्नी को इस कदर पीटा कि तोड़ दिया दम

» महिला की गला रेतकर हत्या

 

नवीन समाचार व लेख

» मेरा गाँव मेरी धरोहर के अंतर्गत ग्राम पंचायतों के सांस्कृतिक धरोहरों का किया जाएगा सर्वे

» प्राचीन तालाबांे और कुओं से हटवाया जाये अतिक्रमण

» डीएम को पत्र लिख उठाई जल भराव समस्या का निदान करने की मांग

» अज्ञात कारणो के चलते युवक ने लगाई फांसी, मौत

» खेत के पास अज्ञात वृद्ध का मिला शव, फैली सनसनी