कौशांबी में पत्‍नी और बेटी का कातिल साली संग गिरफ्तार,

यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

कौशांबी में पत्‍नी और बेटी का कातिल साली संग गिरफ्तार,


🗒 बुधवार, अक्टूबर 14 2020
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक
कौशांबी में पत्‍नी और बेटी का कातिल साली संग गिरफ्तार,

कौशांबी, जिले में सैनी कोतवाली क्षेत्र के सिराथू कस्बे में मंगलवार शाम विधायक के घर के समीप पत्नी और बेटी को मौत के घाट उतारने वाला कोई और नहीं, बल्कि पति ही निकला। जुर्म कबूल करते हुए पति ने बताया कि वह साली से मोहब्बत करता था। इसी के चलते उसने घटना को अंजाम दिया। पुलिस ने अभियुक्त की निशानदेही पर हत्या में प्रयुक्त चाकू भी बरामद कर लिया है। वहीं, साली को भी पुलिस ने हिरासत में लेते हुए केस दर्ज किया।एसपी के मुताबिक पति ने पूछताछ में बताया कि वह प्रयागराज गया था। इस बीच किसी ने पत्नी व बेटी को मार डाला। सर्विलांस के जरिए जब पति की कॉल डिटेल निकलवाई गई तो पता चला कि उसका अपनी साली यानि मृतका की बहन कविता से काफी देर तक बातचीत होती थी। कविता के बारे में पता किया गया तो मालूम हुआ कि साल भर पहले ही वह ससुराल छोड़कर मायके में आकर रहने लगी थी। पति से कड़ाई से पूछताछ की गई तो उसने जुर्म कबूल किया और बताया कि उसने सुबह ही पत्नी की चाकू से गोदकर हत्या कर दी। बेटी ने देख लिया तो पटक-पटक कर उसे भी मार डाला।कविता को इसकी जानकारी देने के बाद वह प्रयागराज चला गया और इलेक्ट्रानिक के सामान की खरीदारी शाहगंज में की। इसके बाद शाम को वह घर आकर अपने को बचाते हुए मनगढ़ंत कहानी रची। इंस्पेक्टर पीके सिंह ने पति समेत साली को हिरासत में लेकर मृतका के पिता राजेश चंद्र की तहरीर पर केस दर्ज किया। बुधवार को प्रेस कांफ्रेंस में पर्दाफाश करते हुए एसपी ने बताया कि दोनों को सुबह न्यायालय में पेश कर जेल भेजवाया जाएगा। चौबीस घंटे के भीतर घटना के अनावरण पर एसपी ने पुलिस टीमों को पुरस्कृत किए जाने की घोषणा की है।पुलिस अधीक्षक अभिनंदन ने बताया कि जांच के दौरान सर्विलांस से मोबाइल के सीडीआर को निकाला गया तो पता चला कि अजय का अपनी साली से एक दूसरे नंबर पर भी बातचीत हुआ करती थी। यहीं से पुलिस को आशंका हुई कि आखिर साली से बातचीत करने के लिए अलग नंबर की क्या जरूरत। अजय ने पुलिस को यह भी बताया कि वह और कविता एक-दूसरे से प्रेम करते थे। पत्नी इसे लेकर रोड़ा बनी हुई थी। उसकी हत्या करने के लिए कई दिनों से वह साजिश रच रहा था। कई महीने बाद अजय का अचानक प्रयागराज जाना और नए नंबर से साली से बातचीत उसके लिए मुसीबत बन गई।सिराथू कस्बा निवासी अजय ने आठ साल पहले चरवा के मलाका निवासी सरिता के साथ प्रेम विवाह किया था। परिवार वालों को यह शादी मंजूर नहीं थी। इस पर अजय किराए का कमरा लेकर रहता था। उसकी लगभग आठ साल की एक बेटी तनु भी थी। मंगलवार शाम अजय प्रयागराज से अपने घर लौटा तो पत्नी व बेटी की लाश देखी। रोने-चीखने की आवाज सुनकर मोहल्ले के लोग जुट गए थे।

कौशांबी से अन्य समाचार व लेख

» कौशांबी में पुलिस की हथकड़ी के डर से दूल्हा हो गया फरार

» कौशांबी में तीन लोगों के लिए काल बना हाईवे पर बेकाबू ट्रक

» कौशांबी में रंजिश में युवक के पेट में घोंपा चाकू, हालत नाजुक

» कौशांबी में युवक की गोली मारकर हत्‍या, झाड़ियों में मिली खून से लथपथ लाश

» कौशांबी में स्कार्पियो से कुचलकर दस साल के बच्‍चे की मौत

 

नवीन समाचार व लेख

» योगीराज में दलित हो रहे प्रताड़ित, कार्यकर्ता उठाएं आवाज - प्रियंका वाड्रा

» रायबरेली में Acid से भरे टैंकर में भिड़ी DCM, सड़क पर फैला तेजाब

» UP की पुलिस तिलोई विधायक मयंकेश्वर शरण सिंह को तलाशने में नाकाम, SP अमेठी को चेतावनी

» लखनऊ में मनमाना किराया वसूल रहे प्राइवेट एंबुलेंस चालक, छापेमारी में 14 गाड़ियां सीज

» भाजपा ने औवैसी को दी मात, 48 सीटों पर दर्ज की जीत, टीआरएस रही सबसे आगे