यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

कौशांबी पुलिस ने पति और श्वसुर को भेजा जेल


🗒 रविवार, जून 06 2021
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक
कौशांबी पुलिस ने पति और श्वसुर को भेजा जेल

कौशांबी । ऐसी क्रूरता भला क्या अपने ही सगे कर सकते हैं, हत्याकांड का पर्दाफाश करने के बाद पुलिस को भी इस पर भरोसा नहीं हो रहा था। कौशांबी जनपद में करारी इलाके के भैला मकदूमपुर गांव स्थित सूखी नहर में महिला की सिर काटकर फेंकी लाश की पहचान होने के बाद पुलिस ने कत्ल के जुर्म में उसके पति और श्वसुर को गिरफ्तार किया है। उन दोनों ने महिला का कत्ल महज इस वजह से कर दिया कि वह अपने मायके के एक दोस्त से फोन पर बात करती थी। जुर्म कबूल करने के बाद रविवार को एसपी अभिनंदन व एएसपी समर बहादुर ने उन दोनों को मीडिया के सामने पेश किया और फिर उन्हें जेल भेज दिया गया।तीन दिन पहले भैला मकदूमपुर से गुजरी सूखी नहर किनारे एक महिला की सिर कटी लाश मिली थी। काफी खोजबीन के बाद भी महिला का सिर नहीं मिल सका था। एसपी ने आदेश दिया कि इस सनसनीखेज हत्याकांड में जल्द गिरफ्तारी की जाए। करारी पुलिस के साथ ही एसओजी कौशांबी ने भी छानबीन शुरू की। फोटो के सहारे मृतका की पहचान की कोशिश हो रही थी। इसी दौरान मंझनपुर के घना का पूरा स्थित कांशीराम कालोनी की एक महिला ने साड़ी व ब्लाउज देखकर शक जाहिर किया कि मारी गई महिला उसकी सहेली सुमन हो सकती है। पुलिस सुमन के घर पहुंची। वहां सुमन के बारे में पूछा तो पति शुभम उर्फ शेरा और श्वसुर कैलाश गोलमोल जवाब देने लगे। पुलिस ने उन दोनों को हिरासत में लेकर पूछताछ की तो पता चला कि सुमन का कत्ल हो चुका है और कातिल वही दोनों है। यह भी साफ हो गया कि करारी इलाके की सूखी नहर में मिली लाश सुमन की ही थी। एसपी कौशांबी ने रविवार को प्रेस वार्ता में बताया कि सुमन जौनपुर जनपद में मुंगरा बादशाहपुर की रहने वाली थी। कहीं मुलाकात होने के बाद शुभम और सुमन के बीच प्रेम संबंध हो गया था। फिर चार साल पहले उन दोनों ने मंदिर में प्रेम विवाह कर लिया था। सुमन ने दो बेटियों को जन्म दिया जो अभी ढाई और डेढ़ साल की हैं। शहर मे धूमनगंज इलाके में ठेले पर सब्जी बेचकर गुजारा करने वाला शुभम पत्नी-बच्चों और पिता के साथ मंझनपुर के घना का पूरा स्थित कांशीराम आवास योजना के कमरे में रहता था। इधर कुछ समय से सुमन किसी से फोन पर लंबे वक्त तक बात करती रहती थी। टोकने पर सुमन पति से कहती कि अपने मायके के एक दोस्त से बात कर रही हूं। तुम्हें क्यों तकलीफ हो रही है। विरोध करने पर दहेज उत्पीड़न के केस में फंसाने की धमकी देती थी। इस वजह से शुभम और उसका पिता कैलाश बेहद बौखलाए हुए थे। तीन रोज पहले भी उसे फोन पर बात करते देख दोनों ने इस कदर पीटा कि सुमन बेसुध हो गई। रात में वे दोनों उसे तीन पहिया पर लादकर करारी में सूखी नहर किनारे ले गए। वहां चाकू से उसका सिर काटकर अलग कर दिया। धड़ को हाथ-पैर बांधकर नहर में फेंक दिया जबकि सिर को अलग फेंका। उन दोनों की निशानदेही पर पुलिस ने मंझनपुर के कादीपुर स्थित एक सूखे कुएं से सुमन का सिर बरामद किया। पुलिस ने कत्ल में प्रयुक्त गाड़ी व चाकू भी बरामद कर लिया हैष

कौशांबी से अन्य समाचार व लेख

» कौशांबी में रिटायर्ड कर्मचारी के खाते से नौ लाख रुपये उड़ाए

» कौशांबी में घर के निकट कुएं में किसान की मिली लाश

» कौशाम्बी में फादर्स डे पर पिता को मार डाला

» कौशांबी में घर के बाहर बैठे युवक को मारी गोली

» घर लौट रहे लोगों की गाड़ी रोककर कार सवार अपराधियों ने पीटा और लूटा