यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

मुठभेड़ में घायल बदमाशों के पास मिला कुशीनगर के थानेदार का गायब पिस्टल


🗒 शुक्रवार, अप्रैल 29 2022
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक
मुठभेड़ में घायल बदमाशों के पास मिला कुशीनगर के थानेदार का गायब पिस्टल

कुशीनगर, । कुशीनगर जिले के जटहा बाजार के थानेदार का गायब पिस्टल गुरुवार रात को गोरखपुर छावनी के समीप हुए मुठभेड़ में घायल बदमाशों के पास मिला है। 2014 में ग्रामीणों व पुलिस के बीच हुए संघर्ष में थानेदार का पिस्टल गायब हुआ था।लूट का मुकदमा दर्ज कर पुलिस पिस्टल की तलाश में लगी रही मगर कोई सुराग नहीं मिला। 21 नवंबर 2014 को अवैध शराब के कारोबार में पुलिस की मिली भगत होने का आरोप लगा भाकियू कार्यकर्ताओं ने जटहा बाजार थाने में पंचायत की चेतावनी दी थी। सुबह 10 बजे बड़ी संख्या में कार्यकर्ता व ग्रामीण थाने पहुंचे थे। पुलिसकर्मी जब रोकने का प्रयास किए तो नोकझोंक हो गई। पुलिस ने लाठी चार्ज की तो भीड़ ने पथराव कर दिया। यह देख पुलिस ने फायरिंग कर दी। जिसमें छह भाकियू कार्यकर्ता घायल हुए थे। थानेदार पवन सिंह समेत आठ पुलिसकर्मियों को भी चोटें आईं थीं। इस संघर्ष में थानेदार पवन सिंह का पिस्टल गायब हो गया था।पिस्टल की बरामदगी के लिए पुलिस ने थाने के आसपास स्थित दुकानों तथा गांवों में पहुंच एक-एक घरों की तलाशी ली थी। मगर पिस्टल नहीं मिला। इस मामले में लूट का मुकदमा दर्ज हुआ था। थानेदार पवन सिंह निलंबित किए गए थे।थानेदार की पिस्टल सात साल बाद गुरुवार की रात गोरखपुर के छावनी के समीप हुई मुठभेड़ में घायल बदमाशों के पास से मिली है। मुठभेड़ में घायल बदमाशों की पहचान कटिहार बिहार के रूप में हुई है। पिस्टल इनके हाथ तक कैसे पहुंची यह बड़ा सवाल है। थानेदार की पिस्टल बदमाशों को किसी ने बेची थी, या फिर इसके पीछे कोई और कहानी है, यह बड़ा सवाल है।क्यूआरटी प्रभारी रहे दारोगा रामचीज राम की पिस्टल का सुराग अब तक नहीं लगा है। पांच अगस्त 2015 को उनकी पिस्टल जटहाबाजार क्षेत्र में गायब हो गई थी। इसमें वे निलंबित हुए थे। दारोगा कोतवाली हाटा में तैनात थे। पांच अगस्त को वे पूर्व तैनाती स्थल थाना जटहाबाजार क्षेत्र के गांव विशुनपुर गए थे। वहां एक व्यक्ति के घर रात्रि विश्राम किए। सुबह उनका बैग गायब मिला। बैग में सरकारी पिस्टल तथा कागजात था। उसी दिन उनका तबादला क्यूआरटी प्रभारी के पद पर हुआ था। दो दिन बाद इसकी जानकारी होने पर कार्रवाई हुई थी।

कुशीनगर से अन्य समाचार व लेख

» नाव पलटने से दस लोग डूबे, तीन युवतियों की मौत

» जहरीली टाफी खाने से चार बच्‍चों की मौत

» पुलिसकर्मी बता डेढ़ लाख का आभूषण उड़ा ले गए जालसाज

» स्वामी प्रसाद मौर्य के काफिले पर हमला, 13 वाहन क्षतिग्रस्त, दस घायल

» ये कैसा अद्भुत गठबंधन, सवाल अखिलेश से जवाब दे रहीं प्रियंका - स्मृति ईरानी