यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

शीर्ष वरीयता पर जल जीवन मिशन - CM योगी


🗒 रविवार, मई 08 2022
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक
शीर्ष वरीयता पर जल जीवन मिशन -  CM योगी

ललितपुर, । मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ बुंदेलखंड के दो दिनी दौरे पर रविवार को ललितपुर पहुंचे। झांसी में शनिवार को विकास कार्यों का स्थलीय निरीक्षण करने के बाद सीएम योगी आदित्यनाथ ने रात्रि विश्राम किया। इसके बाद रविवार को सुबह झांसी के सर्किट हाउस से दतिया, मध्य प्रदेश के लिए प्रस्थान किया। वहां पर पीतांबरा पीठ में मुख्यमंत्री ने मां बगुलामुखी की पूजा-अर्चना के बाद ललितपुर का रुख किया।मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने रविवार को ललितपुर में विकास से जुड़ी कई निर्माणाधीन परियोजनाओं का स्थलीय निरीक्षण किया। यहां के कचरौंदा बांध के साथ ही उन्होंने जल जीवन मिशन परियोजना का निरीक्षण किया। इस प्रोजेक्ट से 62 गांव के 1.45 लाख ग्रामीणों को नल से पेयजल मिलेगा। इस परियोजना का कार्य 174 करोड़ की लागत से हो है। जल जीवन मिशन के तहत उत्‍तर प्रदेश सरकार जमीनी स्‍तर पर तेजी से काम कर रही है। भूगर्भ जल को संजोने के लिए जहां गांव गांव में तेजी से तलाबों का जीणोद्धार और निर्माण किया जा रहा है वहीं योगी सरकार प्रदेश में तेजी से नए कूप, नए बांधों का निर्माण करा रही है। मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ ने रविवार को बुंदेलखंड का दौरा किया। उन्‍होंने आला अधिकारियों को जलजीवन मिशन की परियोजनाओं को समय से पूरा करने के आदेश दिए है। उन्‍होंने जनपद ललितपुर की 174.97 करोड़ की लागत वाले कचनौंदा बांध परियोजना का निरीक्षण किया। उन्‍होंने अधिकारियों को जलजीवन मिशन की परियोजनाओं को समय से पूरा करने के निदेर्श दिए। सीएम योगी इस परियोजना की समयबद्धता को लेकर सख्‍त दिखे।ललितपुर की 174.97 करोड़ की लागत वाले इस कचनौंदा बांध परियोजना से 1,45,324 जनसंख्‍या को सीधा लाभ मिलेगा। इसमें 25,504 गृह संयोजनों की संख्‍या है। ये परियोजना साल 2022 अक्‍टूबर तक पूरी होनी है। इस बांध की प्रस्‍तावित पाइपलाइन की लंबाई 564 किमी है। जिसमें 62 राजस्‍व ग्राम को लाभ मिलेगा। ललितपुर जल जीवन मिशन निर्माणाधीन परियोजना का सीएम योगी ने निरीक्षण किया। जिसके बाद उन्‍होंने पुलिस लाइन पहुंच कर जनप्रतिनिधियों से मुलाकात की। इसके साथ ही उन्‍होंने अधिकारियों के साथ जनपद में हुए विकास कार्यो को लेकर समीक्षा बैठक भी की। सीएम ने झांसी के गुलारा, बचौली व तिलैठा गर्वेमेंट वाटर सप्‍लाई स्‍कीम का भी जायजा लिया। इस प्रोजेक्‍ट के तहत 114 गांवों को सीधा लाभ मिलेगा। प्रोजेक्‍ट जून में पूरा किया जाना है।ललितपुर में सीएम योगी आदित्यनाथ पुलिस लाइन के सभागार में जनप्रतिनिधियों से मुलाकात करेंगे। इसके बाद यहां पर विकास कार्य तथा कानून-व्यवस्था की समीक्षा करेंगे। ललितपुर के थाना प्रांगण में दुष्कर्म पीडि़त बच्ची के साथ कथित सामूहिक दुष्कर्म के मामले को लेकर सीएम योगी आदित्यनाथ बेहद नाराज हैं। शनिवार को मंडलीय समीक्षा में उन्होंने ललितपुर के एसपी को इस प्रकरण पर फटकार लगाई थी।मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने इससे पहले आज सुबह मध्य प्रदेश के दतिया पहुंचे। दतिया पहुंचने पर योगी आदित्यनाथ की अगवानी मध्य प्रदेश के गृह मंत्री डा. नरोत्तम मिश्रा ने की। इसके बाद सीएम योगी आदित्यनाथ पीतांबरा पीठ पहुंचे। जहां उन्होंने पीतांबरा पीठ पर मां बगुलामुखी की पूजा अर्चना की तथा महाभारत कालीन वनखंडेश्वर महादेव का जलाभिषेक किया।पीठ के आचार्य चंद्रमोहन दीक्षित चंदागुरू ने पूजा अर्चना कराई। इस दौरान उत्तर प्रदेश के जलशक्ति मंत्री स्वतंत्र देव सिंह भी उनके साथ मौजूद थे। सीएम योगी आदित्यनाथ के दतिया पहुंचने की जानकारी मिलने के साथ ही पुलिस प्रशासन अलर्ट मोड में आ गया था। गृह मंत्री डा. नरोत्तम मिश्रा के साथ ही जिले के कई वरिष्ठ भाजपा नेता उनकी आगवानी करने के लिए पहुंचे थे। यहां से सीएम सीधे मां पीतांबरा पीठ मंदिर में पहुंचे थे। इस दौरान उन्होंने हाल ही में मां पीतांबरा जयंती के आयोजन के बारे में भी जानकारी ली। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने पीतांबरा पीठ स्थित सभी मंदिरों के दर्शन कर मां धूमावति के दरबार में भी पहुंचकर दर्शन किया। योगी आदित्यनाथ पीठ में करीब 20 मिनट तक रहे। 

ललितपुर से अन्य समाचार व लेख

» भगवान श्रीराम की कथा वास्तव में भारत की कथा - CM योगी

» भाजपा सरकार ने उत्तर प्रदेश के लोगों को किया गुमराह - अखिलेश

» गोदाम पर हो रही घटतौली से परेशान कोटेदारों ने दिया ज्ञापन

» नाबालिग लड़की से सामूहिक दुष्कर्म के मामले में सपा तथा बसपा जिलाध्यक्ष गिरफ्तार

» डोर स्टेप डिलीवरी पुनः चालू करने के लिए कोटेदारों ने दिया ज्ञापन