यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

चुन-चुनकर धार्मिक स्‍थलों को बना रहे न‍िशाना - मायावती


🗒 बुधवार, मई 18 2022
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक
चुन-चुनकर धार्मिक स्‍थलों को बना रहे न‍िशाना -  मायावती

लखनऊ, । उत्तर प्रदेश के वाराणसी में स्थित ज्ञानवापी मस्जिद परिसर की कोर्ट के आदेश पर वीडियोग्राफी और सर्वे का काम पूरा होने के बाद आज बसपा प्रमुख मायावती ने भाजपा सरकार पर गंभीर आरोप लगाए हैं। मायावती ने आरोप लगाते हुए कहा क‍ि भाजपा चुन-चुनकर धार्मिक स्‍थलों को न‍िशाना बना रही है। इससे देश का महौल बिगड़ सकता है।मायावती ने प्रेस नोट ट्वीट करते हुए कहा, 'देश में निरंतर बढ़ रही गरीबी बेरोजगारी वो आसमान छू रही महंगाई आदि से त्रस्त जनता का ध्यान बांटने के लिए बीजेपी व इनके सहयोगी संगठन चुन-चुनकर व खासकर यहां के धार्मिक स्थलों को निशाना बना रहे हैं। यह किसी से छिपा नहीं है तथा इससे यहां कभी भी हालात बिगड़ सकते हैं।बसपा सुप्रीमो ने कहा क‍ि, 'आजादी के बरसों बाद ज्ञानवापी, मथुरा, ताजमहल व अन्य और स्कूलों के मामलों की आड़ में जिस प्रकार से षड्यंत्र के तहत लोगों की धार्मिक भावनाओं को भड़काया जा रहा है। इससे देश मजबूत नहीं बल्कि कमजोर ही होगा। बीजेपी को इस ओर ध्यान देने की जरूरत है।मायावती ने भाजपा सरकार पर आरोप लगाते हुए कहा क‍ि विशेषकर एक धर्म समुदाय से जुड़े स्थानों के नाम भी एक-एक करके जो बदले जा रहे हैं। इससे तो अपने देश में शांति, सद्भाव और भाईचारा नहीं, बल्कि आपसी नफरत की भावनाएं पैदा होगी। यह सब अति चिंतनीय है। इन सब से ना तो अपने देश और ना ही यहां की आम जनता का भला हो सकता है।ज्ञानवापी मस्जिद मामले में अख‍िलेश यादव ने भी भाजपा सरकार को घेरते हुए कहा था क‍ि बीजेपी ये सब जानबूझकर करती है। अख‍िलेश ने कहा क‍ि ज्ञनवापी बहुत पुरानी मस्जिद है। बीजेपी ये सब जनता का ध्‍यान भटकाने के ल‍िए कर रही है।