यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

युवकों ने थाने के अंदर सिपाही को जड़ा तमाचा


🗒 शुक्रवार, मई 27 2022
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक
युवकों ने थाने के अंदर सिपाही को जड़ा तमाचा

लखनऊ, । एक महिला के साथ हुए दुराचार के मामले में उसकी ओर से पैरवी करने पीजीआइ थाने पहुंचे नशे में धुत चार युवकों ने गुरुवार जमकर हंगामा किया। चारों ने पहरा ड्यूटी कर रहे सिपाही पर असलहा तान दिया उसे थप्पड़ जड़ा। पुलिस ने चारों के खिलाफ जानलेवा हमले समेत अन्य धाराओं में मुकदमा दर्ज कर उन्हें गिरफ्तार कर जेल भेज दिया।एसीपी कैंट अर्चना सिंह के मुताबिक गिरफ्तार आरोपितों में सरोज कुमार यादव, अजीत कुमार, शुभम सिंह और अंकित सिंह है। चारों को जेल भेज दिया गया है। चारो गुरुवार देर रात करीब दो बजे पीजीआइ थाने पहुंचे थे। थाने में सिपाही राहुल कुमार पहरा ड्यूटी पर तैनात था। राहुल ने चारों से थाने में आने का कारण पूछा। इस पर यह लोग भड़क गए। सरोज ने पहुंचते ही राहुल से गाली-गलौज शुरू कर दी। विरोध पर उस पर रिवाल्वर निकाल कर तान दी।सरोज के अन्य साथियों ने सिपाही से मारपीट शुरू कर दी। शोर सुनकर अन्य पुलिस कर्मी दौड़े तो आरोपितों ने भागने का प्रयास किया। इस पर चारों को दौड़ाकर पकड़ लिया गया। चारों नशे में थे। इंस्पेक्टर धर्मपाल सिंह ने बताया कि पूछताछ में पता चला कि चारों एक महिला के साथ हुए दुराचार के मामले में पैरवी करने आए थे। इस बीच सिपाही ने पूछा तो मारपीट शुरू कर दी। सिपाही राहुल की तहरीर पर चारों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया।इंस्पेक्टर ने बताया कि बीते दिनों क्षेत्र में रहने वाली एक युवती ने बाबूखेड़ा में रहने वाले सर्वेश के खिलाफ दुष्कर्म का मुकदमा दर्ज कराया था। युवती ने आरोप लगाया था कि सर्वेश उसे एक होटल में ले गया। जहां उसने उसके साथ दुष्कर्म किया। युवती के मुकदमें की जांच की जा रही थी। इस बीच चारों ने पहुंचकर थाने में हंगामा कर सिपाही से मारपीट की। सरोज के पास से रिवाल्वर बरामद की गई है पर वह उससे संबंधित दस्तावेज नहीं दे सका है।

लखनऊ से अन्य समाचार व लेख

» सास ने ले लिया माेबाइल तो विवाहिता ने लगा ली फांसी

» शराब पी रहे बदमाशों ने 15 वर्षीय युवक पर चलाई गोली

» पत‍ि को आत्महत्या के लिए उकसाने वाली पत्नी पर पांच साल कैद

» यूपी के किसानों को सिंचाई के लिए फिलहाल नहीं मिलेगी मुफ्त बिजली

» यूपी के 14 मेडिकल कालेजों में शिक्षकों और कर्मियों के 19376 पदों पर होगी भर्ती