यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

तेल, चना, नमक के बाद अब राशन से गेहूं भी गायब - अखिलेश


🗒 शुक्रवार, जून 24 2022
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक
तेल, चना, नमक के बाद अब राशन से गेहूं भी गायब -  अखिलेश

लखनऊ /  पहले राशन से तेल, चना, चीनी, नमक गायब हुआ। अब गेहूं भी भाजपा निगल गई है। जून माह में गेहूं लाभार्थियों को क्यों नहीं दिया जा रहा है? पूरा राशन नहीं देना था तो चुनाव के वक्त झूठा वादा क्यों किया था? सपा प्रमुख अखिलेश यादव ने ये सवाल उठाते हुए सरकार पर निशाना साधा है।अखिलेश ने बयान जारी कर कहा कि गरीब की रोटी भी छीन ली गई है। भाजपा का हर वादा झूठा है। जनता को गुमराह करने के लिए जो सपने दिखाए उनकी सच्चाई अब सामने आने लगी है। वादों की चासनी से लोगों को अपने जाल में फंसाने की जो कवायद की अब उसका भी अंत नज़र आने लगा है। बुनियादी मुद्दों से ध्यान बंटाने में अब भाजपा सरकार सफल नहीं होगी।सरकार ने 100 स्मार्ट सिटी बनाने का वादा किया था। काशी को क्योटो बनाने का सपना दिखाया था लेकिन दो बार के प्रधानमंत्रित्वकाल, अभी तक के 8 साल में, भारत का एक भी शहर दुनिया के 100 टॉप शहरों में शामिल नहीं है। मुख्यमंत्री उत्तर प्रदेश में विकास के रास्ते पर एक भी कदम नहीं बढ़ा पाए।कन्नौज में विश्वस्तरीय इत्र पार्क के निर्माण का निर्णय सपा की सरकार में हुआ था। भाजपाई राजनीतिक विद्वेष का शिकार होकर इत्र पार्क आज वीरान पड़ा है। इससे किसानों में भी निराशा है क्योंकि फूलों की खेती भी उजड़ गई है। उप्र के सरकारी अस्पताल बदहाल हैं। स्ट्रेचर, एंबुलेंस, दवा, उपचार के प्रश्न बेमानी हो गए हैं। यूपी हेल्थ इंडेक्स में अंतिम पायदान पर पहुंच गया है।

लखनऊ से अन्य समाचार व लेख

» मध्यांचल निगम के निदेशक ने दिया इस्तीफा

» सीएम योगी आदित्यनाथ ने स्कूल चलो अभियान को प्रभावी बनाने के दिए निर्देश

» हथगोला से घायल युवक की मौत, आरोपियों की गिरफ्तारी की मांग

» 16 वर्षों बाद कृष्णा गर्ल्स स्नातक कालेज को मिला प्राचार्या

» एक धानुक परिवार दो जूनकी रोटी के लिए इधर उधर भटकने को मजबूर