यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

सेवा, सुरक्षा और सुशासन के लिए रहे 100 दिन - CM योगी


🗒 सोमवार, जुलाई 04 2022
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक
सेवा, सुरक्षा और सुशासन के लिए रहे 100 दिन -  CM योगी

लखनऊ | अपनी सरकार के दूसरे कार्यकाल के 100 दिन पूरे होने पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने प्रेस कांफ्रेंस कर सरकार की उपलब्धियों को जनता के सामने रखा। इस मौके पर उन्होंने एक पुस्तक का विमोचन किया।इस मौके पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि हमारी सरकार के दूसरे कार्यकाल के 100 दिन जनता की सेवा, सुरक्षा और सुशासन को समर्पित रहे हैं। यही कारण है कि पहले विधानसभा चुनाव में प्रचंड बहुमत, फिर विधान परिषद चुनाव में जीत और अभी हाल ही में आजमगढ़ और रामपुर में हुए लोकसभा उपचुनाव में भाजपा की जीत सरकार पर जनविश्वास का प्रतीक है।मुख्यमंत्री योगी ने कहा कि हमने जनता से जो भी वादे किए हैं वो पूरे किए। अब हम प्रदेश की अर्थव्यवस्था को एक ट्रिलियन डॉलर की बनाने के लिए काम कर रहे हैं। जिससे कि उत्तर प्रदेश देश का ग्रोथ इंजन बन सके। प्रदेश को देश की सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था बनाने के लिए काम कर रहे हैं।हमने 10 सेक्टरों को सूचीबद्घ किया जिसकी जिम्मेदारी वरिष्ठ अधिकारियों को दी गई। जिससे कि निवेश से लेकर विकास के हर क्षेत्र में प्रदेश तेजी से आगे बढ़ सके।प्रदेश में  844 करोड़ रुपये पेशेवर अपराधियों व माफियाओं की संपत्ति जब्त की है। उन्होंने कहा कि 2017 के बाद से अब तक करीब 2925 करोड़ रुपये से अधिक की अवैध संपत्ति जब्त की गई है। यह सरकार की अपराध के प्रति जीरो टॉलरेंस नीति का परिणाम है।पिछले पांच साल में प्रदेश में कानून का राज स्थापित हुआ है। पहले प्रदेश दंगा और अराजकता के लिए जाना जाता था पर भाजपा सरकार में एक भी दंगा नहीं हुआ है।पिछले पांच साल में प्रदेश की जीडीपी दोगुना हुई है साथ ही प्रति व्यक्ति आय भी दोगुना के करीब हुई है। 2017 के पहले प्रदेश का बजट करीब तीन लाख करोड़ था जो कि अब 6 लाख 15 हजार करोड़ हो चुका है। बजट में सरकार के 97 संकल्पों को लागू किया गया है।धार्मिक स्थलों से अनावश्यक लाउडस्पीकर हटाए गए हैं। यह बिना किसी विवाद के हुआ है। किसी भी धार्मिक त्योहार में सड़कों पर कोई आयोजन नहीं हुआ।प्रदेश में पहली बार निवेश का माहौल बना है। प्रदेश में 80 हजार करोड़ रुपये की करीब 1400 परियोजनाओं का शिलान्यास किया। प्रदेश में डाटा सेंटर हब बन रहा है। प्रदेश में नई डाटा सेंटर नीति लागू की। सूबे में चार डाटा सेंटर स्थापित किए जा रहे हैं।प्रदेश में एक लाख 20 हजार से अधिक लाउडस्पीकर हटाए गए या उनकी आवाज कम की गई। यह बिना शोरगुल के हुआ। यह जनविश्वास का प्रतीक है। प्रदेश में कोई भी सार्वजनिक कार्यक्रम सड़कों पर नहीं हुआ है। चाहे अलविदा की नमाज हो या कोई अन्य कार्यक्रम। ये सरकार के प्रति जनता के विश्वास को दर्शाता है। मुख्यमंत्री योगी ने जनता के सामने रिपोर्ट कार्ड रखा।यूपी में बीते 100 दिनों में 10 हजार सरकारी नौकरी दी गई है। हमने लक्ष्य रखा है कि प्रदेश के नौजवानों को रोजगार शुरू करने के लिए दो लाख से अधिक का लोन देंगे।मुख्यमंत्री योगी ने कहा कि 2017 में जब हमारी सरकारी आई थी तो प्रदेश के 86 लाख किसानों का ऋण माफ कर दिया था। 2022 में जब पहली कैबिनेट बैठक हुई तो सरकार ने प्रदेश के 15 करोड़ गरीबों को मुफ्त राशन देने का निर्णय लिया। यह सरकार की दिशा को दर्शाता है।योगी के नेतृत्व में सरकार ने 25 मार्च, 2022 को शपथ ली थी। रविवार को सरकार का 100 दिन का कार्यकाल पूरा हो गया। वहीं, 6 से 15 जुलाई तक निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार, उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य, ब्रजेश पाठक सहित सभी मंत्री अपने-अपने विभाग की सौ दिन की उपलब्धियों के साथ आगामी कार्ययोजना प्रस्तुत करेंगे।

लखनऊ से अन्य समाचार व लेख

» लखनऊ मेट्रो में जल्द नजर आएंगे UPSSF के जवान

» इस बार नहीं अटकेगा 17 OBC जातियों को आरक्षण - संजय निषाद

» अपनी चिंता करें, बीजेपी के संपर्क में सपा के विधायक - भूपेंद्र चौधरी

» चार शातिर चोरों को पुलिस ने किया गिरफ्तार भेजा जेल

» पुलिस को जुआरियों के बारे में बताना युवक को पड़ा महंगा