यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

शिवपाल सिंह यादव ने बेटे आदित्य को बनाया प्रसपा का प्रदेश अध्यक्ष


🗒 मंगलवार, अगस्त 09 2022
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक
शिवपाल सिंह यादव ने  बेटे आदित्य को बनाया प्रसपा का प्रदेश अध्यक्ष

लखनऊ, । प्रगतिशील समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष शिवपाल सिंह यादव ने पार्टी को मजबूत करने के लिए अपने बेटे आदित्य यादव पर भरोसा जताते हुए प्रदेश अध्यक्ष बना दिया है। इसके साथ ही उन्होंने जल्द ही पार्टी की राज्य कार्यकारिणी बनाकर भेजने के निर्देश दिए हैं। अभी तक इस पद पर कार्यकारी प्रदेश अध्यक्ष के रूप में सुंदरलाल लोधी काम कर रहे थे।समाजवादी पार्टी के टिकट पर वर्ष 2022 का विधानसभा चुनाव लड़ने वाले शिवपाल सिंह यादव को इसकी बड़ी कीमत चुकानी पड़ी है। गठबंधन के बाद सपा ने उन्हें केवल एक सीट दी थी, जिसके कारण उनकी पार्टी के नेता छिटक गए थे। सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव से रिश्ते खराब होने के बाद उन्होंने अब फिर से अपनी पार्टी पर ध्यान देना शुरू किया है। शिवपाल अपने संगठन को नए सिरे से धार देने में लगे हैं। उन्होंने इस वर्ष के अंत में होने वाले नगरीय निकाय चुनाव भी लड़ने की घोषणा की थी।इसी कड़ी में शिवपाल ने मंगलवार को बेटे आदित्य यादव को प्रदेश अध्यक्ष बना दिया है। इससे पहले वे पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव थे। वहीं, प्रदेश अध्यक्ष की कमान शिवपाल ने अपने खास सुंदर लाल लोधी के पास थी जिन्हें कुछ समय पहले ही शिवपाल ने राष्ट्रीय महासचिव बना दिया था। इसके साथ ही वे कार्यकारी प्रदेश अध्यक्ष के रूप में भी काम कर रहे थे। सपा के मुख्य प्रवक्ता दीपक मिश्र ने कहा कि आदित्य का कार्यकर्ताओं से सीधा जुड़ाव है, इससे पार्टी मजबूत होगी।आदित्य यादव के सामने प्रसपा के प्रदेश अध्यक्ष के रूप में चुनौतियां भी कम नहीं होंगी। वह ऐसे वक्त पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष बनाए गए हैं, जब पार्टी में सियासी नब्ज पर नजर रखने वाले नेताओं की कमी है। चुनाव के दौरान की गतिविधियों की वजह से कार्यकर्ताओं का उत्साह कम हुआ है। ऐसे में पार्टी में रहकर सक्रिय भूमिका बनाए रखने वाले नेताओं को साथ लेकर चलना होगा।सहकारिता से सियासी कैरियर की शुरुआत करने वाले आदित्य यादव जिला सहकारी बैंक इटावा के निर्विरोध अध्यक्ष रहे। वह यूूपी कोआपरेटिव फेडरेशन के चेयरमैन रहे हैं। इसके बाद ग्लोबल बोर्ड इंटरनेशनल को आपरेटिव एलांस के निदेशक भी चुने गए। यूपी की सक्रिय सियासत में वह वर्ष 2017 के विधान सभा चुनाव में उभर कर सामने आए।

लखनऊ से अन्य समाचार व लेख

» श्रीकांत त्यागी को गिरफ्तार करने वाली पुलिस टीम को मिलेगा इनाम

» महिला कर्मचारी से दुष्कर्म का प्रयास

» पंखे से फंदा लगाकर युवती ने की खुदकुशी

» चोरों ने उड़ाया लाखों का माल, डीवीआर भी ले गए

» परिवहन मंत्री का करीबी बताकर बेरोजगारों से ठगी, गिरफ्तार