यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

बिजली बिल जमा करने के नाम उपभोक्‍ताओं से हो रही ठगी


🗒 बुधवार, अगस्त 10 2022
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक
बिजली बिल जमा करने के नाम उपभोक्‍ताओं से हो रही ठगी

लखनऊ,  । बिजली उपभोक्ता को कनेक्शन कटने का डर दिखाना और फिर कनेक्शन कटने की बात कहकर एप डाउनलोड कराकर ठगने वालों के ख‍िलाफ बिजली विभाग सख्त हो गया है। इंदिरा नगर थाने में ऐसे जालसाज करने वालों के खिलाफ अधिशासी अभियंता अनूप कुमार ने मामला दर्ज कराया है।एफआइआर में उल्लेख किया गया है कि उपभोक्ता के मोबाइल नंबर पर अज्ञात व्यक्ति द्वारा फर्जी नंबरों से बिजली बिल का भुगतान करने के लिए मैसेज भेजे जा रहे हैं। उपभोक्ता को फोन करके प्ले स्टोर से एप डाउनलोड करवाकर ठगा जा रहा है। इस काम से उपभोक्ता को आर्थिक नुकसान और बिजली विभाग की छवि धूमिल हो रही है।उन्होंने एफआइआर में उल्लेख किया गया है कि फर्जी नाम व मोबाइल नंबर से वाट्सएप भेजा रहा है। उपभोक्ता राजेश कुमार ने वाट्सएप के जरिए पूरे मामले से अभियंता को अवगत कराया था और बताया कि उनके मोबाइल नंबर 9450366033 पर 9339829664 और 8287961933 से फोन और मैसेज आ रहे थे कि बिल जमा करे, अन्यथा कनेक्शन कट जाएगा।अनूप ने अज्ञात व्यक्ति खिलाफ मामला दर्ज कराया गया है। पहली बार बिजली विभाग भी ऐसे लोगों से निपटने के लिए सख्त हो गया है। शहर के कई उपभोक्ताओं को भेजे जा रहे मैसेज को लेकर बिजली विभाग सख्त है और कड़ी कार्रवाई के लिए पुलिस विभाग के वरिष्ठ अफसरों के भी संपर्क में हैं। उपभोक्ताओं को मैसेज व फोन करके उपभोक्ताओं को दबाव लेना और फिर बिल अपने खाते में जमा कराकर ठगी करना आम बात हो गई है। वहीं बिजली विभाग ने ऐसे जालसाजों से से सावधान रहने की अपील भी की है।

लखनऊ से अन्य समाचार व लेख

» तिरंगा यात्रा की सुरक्षा और सख्त करने के निर्देश

» दुष्कर्म कर बनाया अश्लील वीडियो, ग‍िरफ्तार

» चार जिलों के हटाए गए बीएसए, सात शिक्षाधिकारी इधर से उधर

» रोडवेज बसों में बुजुर्ग महिलाओं कर सकेंगी फ्री यात्रा

» उज्जवला योजना की तर्ज पर महिलाओं को साधने का प्रयास