यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

सीबीआइ यूपी में अवैध खनन मामले में खिलेश यादव से कर सकती है पूछताछ


🗒 शनिवार, जनवरी 05 2019
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक

इलाहाबाद हाईकोर्ट के निर्देश पर उत्तर प्रदेश में अवैध खनन के मामले में जांच कर रही सीबीआइ पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव से भी पूछताछ कर सकती है। आज आइएएस अफसर बी चंद्रकला के आवास के साथ ही हमीरपुर के दो बड़े मौरंग व्यापारियों के प्रतिष्ठान पर छानबीन करने बाद अब सीबीआइ पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव से भी पूछताछ कर सकती है।

सीबीआइ यूपी में अवैध खनन मामले में खिलेश यादव से कर सकती है पूछताछ

अखिलेश यादव ने उत्तर प्रदेश में सरकार के गठन के समय 2012 से जुलाई 2013 तक खनन मंत्रालय अपने पास ही रखा था। उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव से अवैध रेत खनन के एक मामले पूछताछ की संभावना है। यादव 2012 और जून 2013 के बीच खनन विभाग का अतिरिक्त प्रभार संभाल रहे थे। खनन विभाग के एक अन्य पूर्व मंत्री गायत्री प्रसाद प्रजापति को भी सीबीआई द्वारा मामले में तलब किए जाने की संभावना है।उस समय उनके सचिव रहे आलोक कुमार चर्चा में थे। अखिलेश यादव ने कुछ समय बाद ही आलोक कुमार को सचिव मुख्यमंत्री पद से हटाया था। जब अखिलेश यादव ने उन्हें सचिव बनाया था, तब वह उनके काम की तारीफ भी सार्वजनिक तौर पर कर दिया करते थे। बाद में वह किसी बात पर नाराज हो गए और उन्होंने दिसंबर 2013 में आलोक कुमार को हटा दिया था। 

लखनऊ से अन्य समाचार व लेख

» जल निगम विभाग की घोर लापरवाही सड़कों पर बह रहा पेयजल

» ग्राम पंचायतों की ग्राम समाज की जमीन से अवैध कब्जेदारी हटाने में नाकाम तहसील प्रसाशन

» चकबंदी भर्ती घोटाले के आरोपित सुरेश सिंह की रिमांड मंजूर

» आरोपित अनुभव मित्तल को VIP ट्रीटमेंट, छह सिपाही निलंबित

» मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अफसरों से कहा- तय समय में शुरू हों नए मेडिकल कॉलेज

 

नवीन समाचार व लेख

» तिलोक पुरवा मंदिर के निकट बीती रात हुआ भीषण एक्सीडेंट दो की मौत एक घायल।

» क्रांतिकारी जनसंघर्ष मोर्चा सामाजिक संगठन ने किया बृक्षारोपण।

» आगरा मे अनबन पर प्रेमिका ने खाया जहर; अस्पताल में देखने पहुंचे प्रेमी के परिवार को लड़की के घरवालों ने पीटा

» जिला गोंडा में भाजपा के बूथ अध्यक्ष पर कुल्हाड़ी से जानलेवा हमला, हालत गंभीर

» अब गलत शिकायत पर दंड के प्रावधान पर पुनर्विचार करेगा चुनाव आयोग