यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

लखनऊ के जानकीपुरम सेक्टर एच में जहर खाकर बुजुर्ग दंपति ने दी जान, बेटे की हरकतों से थे परेशान


🗒 शुक्रवार, जनवरी 11 2019
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक

जानकीपुरम सेक्टर एच में गुरुवार देर रात हुई हृदयविदारक घटना में आर्थिक तंगी और बेटे की हरकतों से त्रस्त होकर रामशंकर तिवारी (65) और उनकी पत्नी सरिता (62) ने जहर खाकर जान दे दी। शुक्रवार सुबह घर के अंदर बरामदे में सरिता और कमरे में रामशंकर का शव पड़ा देख भूतल पर रहने वाली किराएदार महिला ने पुलिस को सूचना दी। पुलिस ने मौके से एक ग्लास,कटोरी और सल्फास के पाउच बरामद किए हैं।

लखनऊ के जानकीपुरम सेक्टर एच में जहर खाकर बुजुर्ग दंपति ने दी जान, बेटे की हरकतों से थे परेशान

मिली जानकारी के मुताबिक, दंपति का छोटा बेटा किशन शराब का लती है और वह आए दिन नशे में धुत होकर उनके साथ मारपीट करता था। इंस्पेक्टर गुडंबा टीपी सिंह के मुताबिक इटौंजा धर्मपुर निवासी रामशंकर तिवारी अमीनाबाद स्थित एक किराने की दुकान में नौकरी करते थे। पांच माह से पत्नी सरिता, बेटे अक्षय उर्फ किशन के साथ जानकीपुरम सेक्टर एच में अमित श्रीवास्तव के मकान में किराए पर रह रहे थे। बड़ा बेटा अजय गुडग़ांव स्थित एक निजी कंपनी में नौकरी करता है।शुक्रवार सुबह मकान के भूतल पर किराए पर रहने वाली सीमा पत्नी मुन्ना छत पर कपड़े फैलाने जा रही थीं। सीमा ने बरामदे में सरिता लेटी थी उनके ऊपर रजाई पड़ी थी। फर्श पर उल्टी पड़ी थी। कई आवाज देने पर भी सीमा को उत्तर न मिला तो उसने सरिता को हिलाया। कोई हरकत न देख कमरे के अंदर पहुंची। वहां, फर्श पर रामशंकर पड़े थे। उन्हें भी उल्टी हुई थी। सीमा चीखपुकार करती भागी पड़ोसियों और पुलिस को सूचना दी। पुलिस ने पड़ताल की तो दोनों की सांसें थम चुकी थीं। कमरे से सल्फास के पाउच, एक कटोरी, एक ग्लास बरामद किया। जिसमे सल्फास घोलकर दोनों ने पिया था।फोरेंसिक विभाग से डॉ. एके सिंह टीम के साथ पहुंचे। घटनास्थल का निरीक्षण कर अहम साक्ष्य जुटाए। सूचना पर छोटा बेटा किशन भी पहुंच गया। रामशंकर मुफलिसी में जी रहे थे। कई माह का वह मकान मालिक को किराया भी नहीं दे सके थे। किशन शराब और नशे का लती है। वह नशे की लत के कारण घर में रखे रुपये उठा ले जाया करता था और नशे की खुराक पूरी करता। नशे की हालत में किशन, माता पिता से मारपीट भी करता था। बेटे की हरकतों और आर्थिक तंगी से त्रस्त होकर दंपति न जान दी है।किशन रात-रात भर घर भी नहीं आता था। घटना की रात भी वह घर पर नहीं था। वहीं, किशन ने बताया कि कई माह से किराया न दे पाने के कारण मकान मालिक ने रात में फोन कर मां को धमकाया था जिसके बाद उन्होंने आत्महत्या कर ली। इंस्पेक्टर ने बताया कि परिवारीजनों न अभी तक कोई तहरीर नहीं दी है, वह जो भी तहरीर देंगे उसके आधार पर कार्रवाई की जाएगी।

लखनऊ से अन्य समाचार व लेख

» जल निगम विभाग की घोर लापरवाही सड़कों पर बह रहा पेयजल

» ग्राम पंचायतों की ग्राम समाज की जमीन से अवैध कब्जेदारी हटाने में नाकाम तहसील प्रसाशन

» चकबंदी भर्ती घोटाले के आरोपित सुरेश सिंह की रिमांड मंजूर

» आरोपित अनुभव मित्तल को VIP ट्रीटमेंट, छह सिपाही निलंबित

» मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अफसरों से कहा- तय समय में शुरू हों नए मेडिकल कॉलेज

 

नवीन समाचार व लेख

» जिला गोंडा में भाजपा के बूथ अध्यक्ष पर कुल्हाड़ी से जानलेवा हमला, हालत गंभीर

» अब गलत शिकायत पर दंड के प्रावधान पर पुनर्विचार करेगा चुनाव आयोग

» प्रयागराज-वाराणसी हाईवे परबिल्टी थी मुर्गी के दाना की लेकिन ट्रक में लदी थी शराब, दो गिरफ्तार

» केंद्रीय कारागार नैनी में शराब पार्टी की फोटो वायरल, जांच शुरू

» अब बाबा दरबार में सक्रिय होगी शिकायत निवारण व्यवस्था, गठित होगा विशेष प्रकोष्ठ