यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

गतिशील समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष शिवपाल सिंह यादव का पलटवार, पैसा लेकर गठबंधन बनाने का आरोप


🗒 शनिवार, जनवरी 12 2019
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक

 प्रगतिशील समाजवादी पार्टी गठन के पीछे बसपा प्रमुख मायावती ने भाजपा की भूमिका बताई तो पार्टी के संस्थापक शिवपाल सिंह यादव पलटवार से नहीं चूके। शिवपाल ने कहा कि दलितों, पिछड़ों और अल्पसंख्यकों का वोट लेकर भाजपा की गोद में बैठ जाने वाले मुझ पर भाजपा से मिले होने का आरोप लगा रहे हैं। सपा-बसपा गठबंधन की घोषणा के दौरान मायावती द्वारा दिए बयान पर शिवपाल ने बिना नाम लिए मायावती पर पैसा लेकर टिकट बेंचने और गठबंधन बनाने का आरोप भी लगाया। उल्लेखनीय है कि सपा-बसपा की संयुक्त प्रेस काफेंस में मायावती ने कहा था कि भाजपा का शिवपाल एंड कंपनी पर पैसा बहाना भी काम नहीं आएगा। सभी वर्ग के लोग हमारे साथ आकर भाजपा को हराएंगे। 

गतिशील समाजवादी पार्टी  के राष्ट्रीय अध्यक्ष शिवपाल सिंह यादव का पलटवार, पैसा लेकर गठबंधन बनाने का आरोप

अपनी प्रतिक्रिया में शिवपाल सिंह यादव ने कहा कि आमजन को यह पता है कि उत्तर प्रदेश में भाजपा के साथ मिलकर बार-बार किसने सरकार बनाई है। मेरा सांप्रदायिक शक्तियों के खिलाफ पिछले चार दशकों का संघर्ष संदेह से परे हैं। उन्होंने कहा कि यह दुखद है कि आर्थिक भ्रष्टाचार में लिप्त और अपनी पार्टी का टिकट बेचने वाली मुझ पर भाजपा से आर्थिक सहयोग प्राप्त होने का आरोप लगा रही हैं। सपा के शीर्ष नेतृत्व को समझना चाहिए कि इसके पहले भी मायावती दलितों, पिछड़ों और मुसलमानों का वोट लेकर भाजपा की गोद में बैठ चुकी हैं। उन्होंने आशंका जताई कि कहीं ऐसा न हो कि इतिहास फिर से दोहराए और मायावती चुनाव के बाद भाजपा से जा मिलें। यह भी सबको पता है कि राजस्थान, मध्यप्रदेश और छत्तीसगढ़ के चुनाव में कांग्रेस से गठबंधन न कर भाजपा को लाभ किसने पहुंचाया। अंबेडकरनगर शिवपाल ने कहा कि कुछ लोग हमें भाजपा की बी टीम कह रहे हैं। इन्हें यह भी पता नहीं कि इनका जन्म नहीं हुआ होगा, हम तब से भाजपा से लड़ते आ रहे हैं। एक बात अौर जो पैसा की बात कह रहे हैं, टिकट कौन बेच रहा है इसे सब जानते हैं। यदि ऐसा नहीं है तो बिना पैसे के हमे गठबंधन में शामिल कर लो। शिवपाल ने शनिवार को अंबेडकरनगर कलक्ट्रेट पर भी जनसभा को संबोधित करते समय बगैर नाम लिए सपा-बसपा को उन्होंने आगाह किया कि भाजपा को सत्ता से हटा पाना प्रगतिशील समाजवादी पार्टी और बहुजन मुक्ति पार्टी के बिना संभव नहीं है। हम समान विचारधारा के दलों के साथ भाजपा को सत्ता से हटाने के लिए लोकसभा चुनाव पूरी ताकत से लड़ेंगे।

लखनऊ से अन्य समाचार व लेख

» जल निगम विभाग की घोर लापरवाही सड़कों पर बह रहा पेयजल

» ग्राम पंचायतों की ग्राम समाज की जमीन से अवैध कब्जेदारी हटाने में नाकाम तहसील प्रसाशन

» चकबंदी भर्ती घोटाले के आरोपित सुरेश सिंह की रिमांड मंजूर

» आरोपित अनुभव मित्तल को VIP ट्रीटमेंट, छह सिपाही निलंबित

» मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अफसरों से कहा- तय समय में शुरू हों नए मेडिकल कॉलेज

 

नवीन समाचार व लेख

» जिला गोंडा में भाजपा के बूथ अध्यक्ष पर कुल्हाड़ी से जानलेवा हमला, हालत गंभीर

» अब गलत शिकायत पर दंड के प्रावधान पर पुनर्विचार करेगा चुनाव आयोग

» प्रयागराज-वाराणसी हाईवे परबिल्टी थी मुर्गी के दाना की लेकिन ट्रक में लदी थी शराब, दो गिरफ्तार

» केंद्रीय कारागार नैनी में शराब पार्टी की फोटो वायरल, जांच शुरू

» अब बाबा दरबार में सक्रिय होगी शिकायत निवारण व्यवस्था, गठित होगा विशेष प्रकोष्ठ