यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

राजधानी में एक सॉफ्टवेयर इंजीनियर ने गोमती से छलांग लगा कर जान दी


🗒 सोमवार, मई 27 2019
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक

राजधानी में एक सॉफ्टवेयर इंजीनियर ने गोमती से छलांग लगा कर जान दे दी। मरने से पहले भाई को एक मैसेज किया। उधर, पति की मौत की खबर मिलते ही पत्नी सन्न रह गई। रिवर फ्रंट स्थित गोमती से शव को बाहर निकाला गया। मामला इंदिरानगर स्थित तकरोही इलाके है। यहां मूलरूप से पटना (बिहार) के कदमकुआं थानाक्षेत्र निवासी निशांत कुमार (33) पत्नी ज्योति और बच्चों संग किराए पर रह रहे थे। निशांत एक निजी कंपनी में सॉफ्टवेयर इंजीनियर थे। इंस्पेक्टर इंदिरानगर अमरनाथ विश्वकर्मा के मुताबिक, बच्चे को डांटने पर पत्नी से हुए विवाद के बाद रविवार शाम निशांत नदी में कूदने की बात कहकर घर से निकले थे। देर शाम तक वापस न लौटने पर पत्नी ने इंदिरानगर थाने में गुमशुदगी दर्ज कराई। सुबह पुलिस ने गोताखोरों की मदद से गोमती से शव को बरामद किया। सूचना मिलते ही घरवाले सन्न रह गए। इंस्पेक्टर गोमतीनगर रामसूरत सोनकर ने बताया कि पत्नी से लड़ाई-झगड़े के बाद निशांत ने अपने बहनोई और भाई मनीष कुमार को मैसेज करके बताया कि मैं जान देने जा रहा हूं और इसके बाद फोन बंद करके रिवर फ्रंट से गोमती में छलांग लगा दी। घटना की सूचना पर पत्नी, मां और भाई मौके पर पहुंचे। पोस्टमॉर्टम के बाद शव को घरवाले के सुपुर्द कर दिया गया।घटनास्थल से निशांत का पर्स नहीं मिला। पुलिस आशंका जता रही है कि नदी में कूदने के दौरान बह गया होगा। घटनास्थल से स्प्लेंडर बाइक और मोबाइल फोन सुरक्षित मिल गया।उधर, सोमवार देर शाम रिवर फ्रंट से एक युवक नदी में कूद गया। वह रिक्शे से आया था, जब तक लोग कुछ समझते उसने नदी में छलांग लगा दी। इंस्पेक्टर गोमतीनगर के मुताबिक, अभी शव की तलाश की जा रही है, शिनाख्त नहीं हो सकी है। 

 राजधानी में एक सॉफ्टवेयर इंजीनियर ने गोमती से छलांग लगा कर जान दी

लखनऊ से अन्य समाचार व लेख

» लखनऊ मे स्‍कार्पियो ने स्‍कूटी सवार युवकों को रौंदा, दो की मौत-एक गंभीर

» राजधानी मे गवाही देने पर हाईकोर्ट के क्‍लर्क को चाकुओं से गोदा, पुलिस चौकी में भागकर बचाई जान

» लखनऊ एसएसपी कलानिधि नैथानी ने किया पूरी चौकी को लाइन हाजिर

» एक ही बात को बार-बार नहीं कहूंगा : CM योगी

» आज कश्मीरी भाई-बहन की जिंदगी में नया सवेरा- सीएम योगी आदित्यनाथ

 

नवीन समाचार व लेख

» चेक क्लोनिंग कर आपके खाते में चपत लगा सकते हैं जालसाज, ऐसे बचें

» पत्रकारों से और उत्पीड़न अब बर्दाश्त नहीउत्तर प्रदेश सचिव आईरा

» डीएम, एसएसपी, एसडीएम को एनजीटी न्यायालय ने किया तलब

» जम्मू-कश्मीर में अनुच्छेद 370 को निरस्त करने के खिलाफ याचिकाओं पर सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई कल

» पीएम मोदी का बड़ा ऐलान, पॉलीथीन मुक्त भारत को लेकर दो अक्टूबर को चलेगा देश भर में अभियान