यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

राजधानी मे आरके ज्वैलर्स के यहां लूट की योजना जेल में बनी


🗒 बुधवार, जुलाई 10 2019
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक

आरके ज्वैलर्स के यहां ताबड़तोड़ फायर‍िंंग कर लूटपाट करने वाले शातिर लुटेरे नहीं शार्प शूटर थे। जिन्होंने एक नियोजित घटना क्रम के तहत दो मार्च की रात घटना को अंजाम दिया और फरार हो गए। चार माह की जांच में पुलिस को इसके कई प्रमाण मिले। पुलिस ने लूट के साथ इस बिंदु पर जांच को बढ़ा दिया। पुलिस सूत्रों के मुताबिक इसकी साजिश वाराणसी जेल में बंद शातिर पवन दुबे ने रची, जो आरके ज्वैलर्स के मालिक राजीव गुप्ता की पैरवी के चलते आजीवन कारावास की सजा काट रहा है। पवन उनके भतीजे श्याम की हत्या कर शव बाराबंकी में फेंका था। पुलिस ने जेल में अपने मुखबिर तंत्र को सक्रिय कर दिया है। वहीं अब पुलिस के साथ पीडि़त राजीव गुप्ता भी इससे इत्तेफाक रखते हैं।आरके ज्वैलर्स के मालिक राजीव गुप्ता ने बताया कि लुटेरों ने दुकान पहुंते ही फायर‍िंंग की थी। कर्मचारी गुड्डू पटवा व एटीएम गार्ड देशराज की मौत हो गई थी। वहीं राहगीर मनीषा और वह खुद घायल थे। हमलावर लूटने से ज्यादा फायर‍िंंग पर ध्यान दे रहे थे। यहां तक भागते वक्त आधे से ज्यादा जेवर गिरा गए थे। अब मुझे भी ऐसा लग रहा है कि उनका मकसद कुछ और ही था, लेकिन मेरी किसी से दुश्मनी नहीं है और न ही भतीजे के कातिल पवन दुबे और अविनाश त्रिपाठी (एटी) से कोई लेना देना। उनके खिलाफ मेरी गवाही भी नहीं हुई है।पुलिस जहां घटना के पीछे रंजिश मान रही है, उसके बाद भी व्यापारी की सुरक्षा में चूक कर रही है। व्यापारी को मिला गनर अरुण रविवार को छुट्टी पर चला गया। बावजूद इसके उन्हें दूसरा गनर मुहैया नहीं कराया गया। इससे पहले भी ऐसा हो चुका है।वहीं सीओ कृष्णा नगर अमित राय ने बताया क‍ि हत्या में .30 बोर की पिस्टल का प्रयोग हुआ। लूटपाट से ज्यादा सराफ को गोली से निशाना बनाना पुरानी रंजिश की तरफ इशारा कर रही है। जिसमें वाराणसी जेल में बंद एक हत्यारोपित संदेह के घेरे में है। लूट के बिंदु पर भी जांच चल रही है।

राजधानी मे आरके ज्वैलर्स के यहां लूट की योजना जेल में बनी

पुलिस की कार्रवाई 

  • केस से जुड़े करीब 23 पर्चे कटे
  • 65 लोगों के दर्ज हुए बयान
  • 27 संदिग्ध लोगों से पूछताछ
  • 21 सीसीटीवी खंगाले, 8 में दिखे -सात टीमें कर रही काम
  • सीओ लाल प्रताप बदले, अमित राय देख रहे केस 

लखनऊ से अन्य समाचार व लेख

» राजधानी मे अस्पताल ने नहीं भेजी VIP एंबुलेंस, मां के सामने ही तड़प-तड़पकर मर गया मासूम

» ट्रैफिक बूथ के अंदर नहीं काट सकेंगे चालान, अब हटेंगे सारे पर्दे

» राजधानी मे जमीन के फर्जीवाड़े में शामिल 35 आवासीय समितियों की होगी जांच

» अब स्कूलों में बच्चों के आधार कार्ड बनाएगा डाक विभाग

» राजधानी में ई-रिक्शा चार्जिंग गोदाम में शॉर्ट सर्किट से भड़की भीषण आग, सो रहे तीन लोग बुरी तरह झुलसे

 

नवीन समाचार व लेख

» राजधानी मे अस्पताल ने नहीं भेजी VIP एंबुलेंस, मां के सामने ही तड़प-तड़पकर मर गया मासूम

» ट्रैफिक बूथ के अंदर नहीं काट सकेंगे चालान, अब हटेंगे सारे पर्दे

» राजधानी मे जमीन के फर्जीवाड़े में शामिल 35 आवासीय समितियों की होगी जांच

» अब स्कूलों में बच्चों के आधार कार्ड बनाएगा डाक विभाग

» बंगाल में दो भाजपा नेताओं की हत्या, कटघरे में फिर तृणमूल