यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

लखनऊ में आरटीई के तहत बच्‍चों का दाखिला न लेने पर 18 निजी स्‍कूलों को दिया गया नोटिस


🗒 बुधवार, अगस्त 07 2019
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक

शिक्षा का अधिकार (आरटीई) के तहत पात्र पाये गए दुर्बल आय वर्ग के एक भी बच्चे का 18 निजी स्कूलों ने दाखिला नहीं लिया। यह आलम तब है जब मुख्य विकास अधिकारी और बेसिक शिक्षा अधिकारी ने बकायदा बैठक करके आरटीई के दायरे में आने वाले सभी स्कूलों की दाखिला न लेने पर मान्यता रद करने की चेतावनी जारी की थी। फिलहाल निजी स्कूलों ने उनकी चेतावनी को हल्के में लेकर ठेंगा दिखा दिया है। बीएसए डॉ. अमरकांत सिंह ने बताया कि सभी 18 स्कूलों को नोटिस जारी किया है, इसके बाद जल्द ही आगे की कार्रवाई भी की जाएगी।टेंडर हार्ट स्कूल, लोयला इंटरनेशनल स्कूल, नवयुग रेडियन्स स्कूल, बाल विद्या मंदिर चारबाग, ब्लूमिंग फ्लावर, लखनऊ पब्लिक स्कूल, राजकुमार एकेडमी, सिटी मांटेसरी स्कूल, शिशु विद्या पीठ, लखनऊ मॉडल पब्लिक स्कूल, एक्जान मान्टेसरी स्कूल, हैमिलटन एकेडमी, सिद्धार्थ पब्लिक स्कूल, ग्रीन वे पब्लिक स्कूल, ब्राइट लैंड इंटर कॉलेज, सेंट जोसेफ स्कूल, न्यू पब्लिक स्कूल व ब्राइट वे पब्लिक स्कूल डालीगंज द्वारा आरटीई के तहत दाखिले की प्रक्रिया में सहयोग नहीं किया जा रहा है।आरटीई के तहत दुर्बल आय वर्ग के बच्चों के दाखिले की तीसरी लॉटरी भी सोमवार को जारी हो गई है। इसके तहत राजधानी के विभिन्न निजी विद्यालयों को 807 बच्चों के और दाखिले लेने होंगे। अभी भी 2900 बच्चों के दाखिले नहीं हुए हैं। ऐसे में 807 बच्चों का भविष्य भी दांव पर है। उन्हें निजी स्कूल दाखिला देंगे भी या नहीं। पूर्व की सूची जारी होने के बावजूद जब अभिभावक स्कूलों में पता लगाने गए तो उन्हें बताया गया कि सूची में उनके बच्चों के नाम ही नहीं। जबकि बीएसए ऑफिस से जारी लिस्ट में उनका नाम था। पूर्व की सूची में शामिल बच्चों के अभिभावक पिछले चार महीने से स्कूलों से लेकर बीएसए कार्यालय के चक्कर काट रहे हैं।

लखनऊ में आरटीई के तहत बच्‍चों का दाखिला न लेने पर 18 निजी स्‍कूलों को दिया गया नोटिस

लखनऊ से अन्य समाचार व लेख

» लखनऊ नगर न‍िगम पर 270 करोड़ की देनदारी

» लखनऊ विश्वविद्यालय के खाते से गलत ढंग से पुराने चेक को सीटीएस चेक बनाकर उड़ाए गए डेढ़ करोड़ रुपये

» जिला गोरखपुर के मदरसा शिक्षक ने किया था किशोरी का अपहरण, कई जगहों पर दुष्‍कर्म की शिकार होते पहुंची घर

» प्रियंका वाड्रा के निशाने पर फिर यूपी सरकार मैनपुरी की घटना को बताया शर्मनाक

» रायबरेली से सामूहिक दुष्कर्म पीड़िता के परिवार ने मुख्यमंत्री से लगाई गुहार

 

नवीन समाचार व लेख

» लखनऊ विश्वविद्यालय के खाते से गलत ढंग से पुराने चेक को सीटीएस चेक बनाकर उड़ाए गए डेढ़ करोड़ रुपये

» सोमवार को संसद से पारित हो सकता है नागरिकता संशोधन विधेयक, कैबिनेट से मिली मंजूरी

» प्रदेश में औद्योगिक विकास का बेहतर माहौल - मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ

» जिला गोरखपुर के मदरसा शिक्षक ने किया था किशोरी का अपहरण, कई जगहों पर दुष्‍कर्म की शिकार होते पहुंची घर

» पी. चिदंबरम तिहाड़ जेल से आए बाहर, सुप्रीम कोर्ट ने शर्तों के साथ दी जमानत