यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

BJP सदस्य बनने के बाद कल्याण सिंह ने कहा, राम मंदिर मुद्दे पर सभी दल अपना रुख स्पष्ट करें


🗒 सोमवार, सितंबर 09 2019
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक

भाजपा का सदस्य बनने के बाद कल्याण सिंह ने राम मंदिर मुद्दे पर राजनीतिक दलों को अपना रुख स्पष्ट करने की चुनौती दे दी। राजस्थान में पांच वर्ष छह दिन राज्यपाल रहने के बाद सोमवार को पूर्व मुख्यमंत्री कल्याण सिंह अपने प्रदेश लौटे तो भाजपा कार्यकर्ताओं ने झूमकर उनका स्वागत किया। अमौसी एयरपोर्ट से सैकड़ों वाहनों के काफिले में भाजपा मुख्यालय पहुंचे कल्याण ने भाजपा की सदस्यता ग्रहण की।भाजपा मुख्यालय के माधव सभागार में प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह ने कल्याण सिंह को पार्टी की सदस्यता दिलाई। इस दौरान जयश्रीराम और लौह पुरुष कल्याण सिंह के नारे गूंजते रहे। फिर कल्याण अपने पौत्र राज्य मंत्री संदीप सिंह के दो माल एवेन्यू स्थित आवास पर पहुंचे। कार्यकर्ताओं से मिलने के बाद पत्रकारों से बातचीत की। राम मंदिर निर्माण के सवाल पर कल्याण ने कहा, 'अयोध्या बड़ा पवित्र तीर्थ स्थल है। राम मंदिर का निर्माण करोड़ों लोगों की आस्था का प्रश्न है और मैं इस पर कोई राजनीति नहीं चाहता। सभी दल अपना मत स्पष्ट करें कि वह मंदिर के पक्ष में हैं या नहीं।'कल्याण ने यह भी साफ कर दिया कि मुझे चुनाव नहीं लड़ना है। सक्रिय राजनीति में भागीदारी इसलिए कर रहा हूं क्योंकि इसे जनसेवा के सशक्त माध्यम के रूप में देखता हूं। न मैं तन से रिटायर हूं और न मन से। उन्होंने योगी के कार्यकाल की सराहना की और कहा कि उनके राज में एक भी दंगा नहीं हुआ। कल्याण ने प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह और संगठन महामंत्री सुनील बंसल के नेतृत्व क्षमता को भी खूब सराहा। सपा, बसपा और कांग्रेस की सत्ता में वापसी के सवाल पर कहा, 'अगर किसी को लगता होगा तो यह जानिये कि ये सब अपना जनाधार खो चुके हैं। किसी दल या नेता का जनता में विश्वास टूट जाता है तो वह खड़ा नहीं हो पाता है।'ओबीसी नेतृत्व के रूप में उनकी भूमिका की बात आई तो कल्याण बीच में ही बोल पड़े, 'भाजपा सर्वस्पर्शी है और समाज के सभी वर्ग को लेकर चलती है। इसे वर्गों में नहीं बांट सकते हैं।' उन्होंने कहा कि मैं प्रतियोगी नहीं सहयोगी बनूंगा। कल्याण ने कहा कि केंद्रीय नेतृत्व और प्रदेश में योगी का कोई विकल्प नहीं है। योगी का कार्यकाल स्वर्णिम है। मेरा कैसा था उसके बारे में कुछ नहीं कहूंगा।

BJP सदस्य बनने के बाद कल्याण सिंह ने कहा, राम मंदिर मुद्दे पर सभी दल अपना रुख स्पष्ट करें

लखनऊ से अन्य समाचार व लेख

» राजस्थान के पूर्व राज्यपाल कल्याण सिंह ने भाजपा की सदस्यता ग्रहण की

» सरोजनी नगर विकास खण्ड अन्तर्गत बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ योजना के तहत कन्या जन्म उत्सव कार्यक्रम

» पुलिस का सराहनीय कार्य बच्चा चोरी की झूठी अफवाह से ग्रामीणों के चंगुल मे फसी 2 महिलाओं को बचाया

» मोहनलालगंज कोतवाली क्षेत्र में बस की टक्कर से बाइक सवार की मौत दो घायल

» भारतीय किसान यूनियन टिकैत गुट ने विभिन्न मांगों को लेकर किया धरना प्रदर्शन

 

नवीन समाचार व लेख

» जिला बागपत में नकाबपोश बदमाशों ने दिनदहाड़े सिंडिकेट बैंक की शाखा से 15 लाख लूटे

» अयोध्या मे प्रेमी के इन्‍कार के बाद खुद को लगाई आग

» राजस्थान के पूर्व राज्यपाल कल्याण सिंह ने भाजपा की सदस्यता ग्रहण की

» जिला मैनपुरी में बोले शिवपाल, भाजपा सरकार में हर वर्ग बेचैन

» सांसद आजम खां के घर पर नोटिस चस्पा, पत्नी व दोनों पुत्रों का भी नाम