यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

CM योगी की लोगों से अपील- फैसले को जीत-हार से जोड़कर न देखें


🗒 शुक्रवार, नवंबर 08 2019
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक

राम मंदिर पर शनिवार को सुप्रीम कोर्ट का फैसला आने से पहले शुक्रवार रात ही यूपी हाई अलर्ट मोड पर आ गया। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने देर रात वरिष्ठ अधिकारियों के साथ बैठक कर शांति-व्यवस्था को बनाये रखने के कड़े निर्देश दिये हैं। मुख्यमंत्री ने प्रदेशवासियों से अपील की है कि अयोध्या प्रकरण में सुप्रीम कोर्ट के फैसले को जीत-हार से जोड़कर न देखा जाये।मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा है कि यह हम सभी की जिम्मेदारी है कि उत्तर प्रदेश में शांतिपूर्ण व सौहार्दपूर्ण वातावरण को बनाये रखें। योगी ने अपील की है कि लोग अफवाहों पर कतई ध्यान न दें। प्रशासन सभी की सुरक्षा व प्रदेश में कानून-व्यवस्था को बनाये रखने के लिए कटिबद्ध है। यदि कोई व्यक्ति कानून-व्यवस्था के साथ खिलवाड़ करेगा, तो उसके खिलाफ सख्त कार्रवाई होगी।डीजीपी ओपी सिंह का कहना है कि प्रदेश में चप्पे-चप्पे पर कड़ी सुरक्षा-व्यवस्था है। गड़बड़ी करने वाले किसी भी व्यक्ति के खिलाफ कठोर कार्रवाई की जायेगी। अराजकतत्वों से पूरी सख्ती से निपटने के निर्देश दिये गये हैं। पुलिस के अलावा आइबी व अन्य सुरक्षा एजेंसियां भी सतर्क हो गई हैं। इस बीच डीजी जेल आनन्द कुमार ने सभी जेलों में पूरी सतर्कता बरतने के साथ ही जेल अधिकारियों को हर समय जिला प्रशासन के संपर्क में रहने के निर्देश दिए हैं।अपर मुख्य सचिव गृह अवनीश कुमार अवस्थी का कहना है कि सभी सुरक्षा बंदोबस्त की समीक्षा कर ली गई है। शांति-व्यवस्था कायम रखने के सभी इन्तजाम किये गए हैं। डीजीपी ओपी सिंह ने बताया कि सोशल मीडिया पर आपत्तिजनक व भड़काऊ पोस्ट करने वाले करीब 500 लोगों को पिछले एक माह में गिरफ्तार किया गया है। सोशल मीडिया पर बेहद सतर्क नजर रखी जा रही है। अयोध्या समेत सभी स्थानों पर पर्याप्त संख्या में पुलिस, पीएसी व अर्द्धसैनिक बल के जवानों को तैनात किया गया है। सभी जिलों में वरिष्ठ अधिकारी फुट पेट्रोलिंग कर लगातार लोगों से संपर्क भी कर रहे हैं और सभी से शांति-व्यवस्था बनाये रखने की अपील की जा रही है।बीते दिनों ही पुलिसकर्मियों की छुट्टियां 15 दिसंबर तक के लिए रद कर दी गई थीं। एडीजी अभियोजन आशुतोष पांडेय ने बताया कि पिछले अयोध्या व आसपास के जिलों में सुरक्षा बेहद कड़ी है। हर संदिग्ध पर निगाह रखी जा रही है। अयोध्या में अर्द्धसैनिक बल, पीएसी व पुलिस के अलावा अतिरिक्त 11 एएसपी, 20 सीओ, 150 निरीक्षक, 250 उपनिरीक्षक, 1200 सिपाही व 1500 होमगार्ड भी तैनात किये गये हैं। सरकार के लिए यह राहत की बात भी है कि शनिवार को कई प्रमुख निजी संस्थान बंद रहेंगे। शनिवार व रविवार को अवकाश होने की वजह से सुरक्षा-व्यवस्था की चुनौती से निपटने में आसानी होगी।

CM योगी की लोगों से अपील- फैसले को जीत-हार से जोड़कर न देखें

लखनऊ से अन्य समाचार व लेख

» लखनऊ में चप्पे-चप्पे पर कड़ी सुरक्षा, मुश्किल में डालेगा सोशल मीडिया पर किया कमेंट

» राजधानी के सरकारी अस्पतालों में हाई अलर्ट, डॉक्टरों की छुट्टी रद

» प्रमुख सचिव ऊर्जा आलोक कुमार भी हटाये गए, 5 IAS और 1 PCS अफसर का तबादला

» संविधान दिवस पर 26 नवंबर को विधान मंडल के एक दिवसीय विशेष सत्र में शामिल होंगे सभी दल

» लखनऊ के रामस्वरूप इंजीनियरिंग कॉलेज के तीन छात्रों पर हमला चाकू से वार

 

नवीन समाचार व लेख

» लखनऊ में चप्पे-चप्पे पर कड़ी सुरक्षा, मुश्किल में डालेगा सोशल मीडिया पर किया कमेंट

» अयोध्या मसले पर FB पर टिप्पणी करने के वालेे मंडल उपाध्यक्ष को जेल

» बाराबंकी में जज से मारपीट और अभद्रता, 50 वकीलों पर मुकदमा दर्ज

» राजधानी के सरकारी अस्पतालों में हाई अलर्ट, डॉक्टरों की छुट्टी रद

» प्रमुख सचिव ऊर्जा आलोक कुमार भी हटाये गए, 5 IAS और 1 PCS अफसर का तबादला