यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

लखनऊ में चप्पे-चप्पे पर कड़ी सुरक्षा, मुश्किल में डालेगा सोशल मीडिया पर किया कमेंट


🗒 शुक्रवार, नवंबर 08 2019
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक

अयोध्या में विवादित स्थल पर शनिवार को आने वाले फैसले के स्वागत के लिए लक्ष्मणनगरी तैयार है। वहीं, पुलिस प्रशासन भी अलर्ट मोड पर है। राजधानी में हाईअलर्ट घोषित किया गया है। सोशल मीडिया पर साइबर सेल की टीम कड़ी नजर रखे हुए है। मॉनीटरिंग के लिए टीमें गठित की गई हैं, जो विवादित पोस्ट या टिप्पणी करने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करेगी। किसी भी स्थिति से निपटने के लिए पुलिस तैयार है। राजधानी में 28 अस्थाई जेल बनाए गए हैं। इन स्थानों पर हंगामा और शांति व्यवस्था भंग करने वालों को हिरासत में रखा जाएगा।सुरक्षा के मद्देनजर पुराने लखनऊ में शुक्रवार शाम एडीजी रेंज एसएन साबत, एसएसपी कलानिधि नैथानी और जिलाधिकारी अभिषेक प्रकाश ने पुलिस टीम के साथ फ्लैग मार्च किया। कैसरबाग, अमीनाबाद, मौलवीगंज, रकाबगंज समेत अन्य इलाकों में सुरक्षा व्यवस्था का जायजा लिया गया। वहीं, सभी एएसपी ने अपने क्षेत्र के थाना प्रभारियों के साथ पैदल गस्त किया। एसएसपी के मुताबिक,  फैसले के मद्देनजर संवदेनशील स्थानों पर सुरक्षा कड़ी की गई है। राजधानी में विवादित बैनर, पोस्टर या धार्मिक सभा पर रोक लगा दी गई है। पुलिस टीम को जोन सेक्टर में बांटकर हर गतिविधियों पर नजर रखने के निर्देश दिए गए हैं।एसएसपी ने दंगा नियंत्रण दस्ते की समीक्षा की। पता चला कि वर्ष 2010 से यह दस्ता निष्क्रिय है। एसएसपी ने इस दस्ते को दोबारा गठित करते हुए पुलिसकर्मियों को तैनात किया है। उन्हें 24 घंटे अलर्ट और बॉडी प्रोटेक्टर व अन्य सामग्री हमेशा साथ में रखने के निर्देश दिया। एसएसपी ने पुलिस लाइन में एक इंटीग्रेटेड कंट्रोल रूम बनाया है। इसमें तकरीबन 100 लोगों की टीम है, जो हर तरह की गतिविधियों पर नजर रख रही है। शनिवार को कंट्रोल रूम में 24 घंटे पुलिस के अलावा सभी विभागों के लोग मौजूद रहेंगे। एसएसपी ने स्वास्थ्य विभाग, जीआरपी, परिवहन विभाग, रेलवे, राजस्व, एनडीआरएफ, मेट्रो, आरटीओ, जिला प्रशासन, नगर निगम, फायर सर्विस समेत संबंधित सभी विभागों को पत्र भेजा है। कानून व्यवस्था से संबंधित किसी भी प्रकार की सूचना के लिए सीयूजी नंबर 9454405156 जारी किया गया है।सभी पीआरवी (112) को किसी भी सूचना पर तत्काल रेस्पांस करने के निर्देश दिए गए हैं। कुल 78 पीआरवी सिर्फ इस कार्य में लगाई गई है। 150 स्थानों पर बैरियर लगाए गए हैं। इसके अलावा शनिवार को राजधानी की सीमा सील रहेगी। जनपद की कुल आठ सीमा पर क्यूआरटी तैनात की गई हैं, जो शरारती और उपद्रवी लोगों पर नजर रखेगी।

लखनऊ में चप्पे-चप्पे पर कड़ी सुरक्षा, मुश्किल में डालेगा सोशल मीडिया पर किया कमेंट

लखनऊ से अन्य समाचार व लेख

» यूपी में अब तक 166 लोगों की मौत, संक्रमितों की संख्या 6351 पहुंची

» हर कोविड अस्पतालों पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की नजर

» योगी सरकार श्रमिक कल्याण आयोग के गठन की तैयारी में जुटी अब तक 14.75 लाख की स्किल मैपिंग

» तेज रफ्तार से आ रहे ट्रक ने मैकेनिक को कुचला मौके पर मौत

» मोहनलालगंज पुलिस ने अवैध कच्ची शराब के साथ अभियुक्त को किया गिरफ्तार

 

नवीन समाचार व लेख

» उत्तर प्रदेश के झांसी पहुंचे टिड्डी दल ने झांसी के सुखवा डैम क्षेत्र में टिड्डियों ने किया नुकसान, 30% क्षति का अनुमान

» यूपी में अब तक 166 लोगों की मौत, संक्रमितों की संख्या 6351 पहुंची

» हर कोविड अस्पतालों पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की नजर

» योगी सरकार श्रमिक कल्याण आयोग के गठन की तैयारी में जुटी अब तक 14.75 लाख की स्किल मैपिंग

» तेज रफ्तार से आ रहे ट्रक ने मैकेनिक को कुचला मौके पर मौत