राजधानी में किशोरी के साथ दुष्‍कर्म, पीडि़ता ने खाया जहर

यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

राजधानी में किशोरी के साथ दुष्‍कर्म, पीडि़ता ने खाया जहर


🗒 रविवार, दिसंबर 08 2019
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक
राजधानी में  किशोरी के साथ दुष्‍कर्म, पीडि़ता ने खाया जहर

राजधानी में रविवार को एक किशोरी के साथ दुष्‍कर्म का मामला सामने आया है। बताया जा रहा है कि घर में घुसकर गांव के ही युवक ने घटना को अंजाम दिया। पीडि़ता को जान से मारने की धमकी देकर भाग निकला। आहत किशोरी ने जहर खा लिया, जिसे ट्रामा सेंटर में भर्ती कराया गया है। पीडि़ता के घरवालों ने घटना में दो से तीन लोगों के शामिल होने की आशंका जताई है, जबकि पुलिस के मुताबिक, घटना में एक आरोपित शामिल है, जिसे गिरफ्तार कर लिया गया है। मामला मड़ियांव थानाक्षेत्र का है। यहां के एक गांव निवासी 17 वर्षीय किशोरी से दुष्कर्म का मामला रविवार को सामने आया है। बताया जा रहा है कि शनिवार दोपहर आरोपित गांव की किशोरी को अकेला देखकर घर में घुस गया और उसके साथ दुष्कर्म किया। विरोध पर पीडि़ता को परिवार समेत जान से मारने की धमकी दी। इसी बीच किशोरी की मां पहुंच गई। उसके दरवाजा खटखटाने पर आरोपित वहां से भाग निकला। किशोरी की मां को बोलने में दिक्कत है, जिसके चलते वह किसी से कुछ बता नहीं सकी। इसी बीच किशोरी ने जहर खा लिया। आननफानन में उसे गंभीर हालत में ट्रॉमा सेंटर में भर्ती कराया गया। मामले में पीडि़ता के पिता ने मडिय़ांव थाने में तहरीर दी है। इसके बाद पुलिस ने दुष्कर्म समेत अन्य धाराओं में एफआइआर दर्ज की और पीडि़ता को मेडिकल के लिए भेजा गया। पीडि़ता के परिवार का आरोप है कि दो से तीन लोगों ने मिलकर घटना को अंजाम दिया है। वहीं, इंस्पेक्टर मडिय़ांव वीके सिंह के मुताबिक, घटना में एक आरोपित शामिल है, जिसे गिरफ्तार कर लिया गया है। आरोपित की पहचान सर्वेश उर्फ बऊवा के रूप में हुई है।उधर, घटना के बाद आरोपित बऊवा उर्फ सर्वेश के भाई ने आरोप लगाया कि मडिय़ांव पुलिस ने उसके भाई को गलत फंसाया है। पीडि़ता का एक चचेरा भाई है। घटना को उसी ने अंजाम दिया है। उसका नाम भी पकड़े गए आरोपित से मिलता है।किसी भी घटना के बाद पुलिस स्वयं आरोपित को मीडिया के सामने पेश करती है, लेकिन इस मामले में मडिय़ांव थाने की पुलिस आरोपित को मीडिया से बचाती रही और सवाल पूछने पर नोकझोंक की। इसके बाद उसे थाने से टेंपो में बैठाकर न्यायालय ले जाने की बात कहकर वहां से तुरंत ले जाया गया।

लखनऊ से अन्य समाचार व लेख

» जातिवाद और वंशवाद पर चोट से बौखलाया विपक्ष - स्वतंत्र देव सिंह

» CM योगी को भेजे पत्र में गलत तथ्य से प्रियंका की किरकिरी, शिक्षक भर्ती के शून्य पद वाले जिलों पर मनगढ़ंत सियासत

» युवाओं को नौकरी के लिए प्रियंका गांधी ने सीएम योगी आदित्यनाथ को लिखा पत्र

» थारू और वनटांगिया जनजाति के गांव बनेंगे 'राजस्व ग्राम' - मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ

» लखनऊ में मेडिकल स्टोर संचालक की गोली मार कर हत्या, दोस्त पर आरोप

 

नवीन समाचार व लेख

» बलरामपुर जेल में निरुद्ध पूर्व सपा विधायक पर दो और मुकदमे दर्ज

» इलाहाबाद हाई कोर्ट ने कस्तूरबा गांधी बालिका विद्यालय की शिक्षिका की सेवा समाप्ति आदेश पर लगाई रोक

» जातिवाद और वंशवाद पर चोट से बौखलाया विपक्ष - स्वतंत्र देव सिंह

» CM योगी को भेजे पत्र में गलत तथ्य से प्रियंका की किरकिरी, शिक्षक भर्ती के शून्य पद वाले जिलों पर मनगढ़ंत सियासत

» ईएसआइसी में गड़बडिय़ां मिलने पर विजिलेंस टीम ने 23 फाइलों को किया जब्त