यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

लखनऊ व नोएडा में अब पुलिस कमिश्नर प्रणाली, दोनों जिले मेट्रोपोलिटन सिटी घोषित


🗒 सोमवार, जनवरी 13 2020
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की अगुवाई में मंत्रिपरिषद की बैठक में वह ऐतिहासिक फैसला लिया गया, जिसका इंतजार करीब 50 वर्षों से था। उत्तर प्रदेश में पहली बार लखनऊ व नोएडा (गौतमबुद्धनगर) में पुलिस कमिश्नर प्रणाली लागू करने के साथ ही दोनों जिलों को मेट्रोपोलिटन सिटी भी घोषित किया गया है। जल्द इसकी अधिसूचना जारी होगी। एडीजी सुजीत पांडेय लखनऊ व एडीजी आलोक सिंह नोएडा के पहले पुलिस आयुक्त नियुक्त किए गए हैं। सरकार ने 15 प्रशासनिक अधिकार भी पुलिस को दिए हैं, जो अभी जिला मजिस्ट्रेट के पास थे। पुलिस आयुक्त तय करेंगे कि किन-किन अधिकारों को किस स्तर के अधिकारियों को दिया जाए।मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने नए साल में अपनी पहली प्रेसवार्ता में यह तोहफा दिया। उन्होंने कहा कि नागरिकों व पुलिस महकमे की दृष्टि से यह बेहद महत्वपूर्ण निर्णय है। पुलिस सुधार का सबसे बड़ा कदम हमारी सरकार ने उठाया है। पिछले 50 वर्षों में बेहतर व स्मार्ट पुलिसिंग तथा कानून-व्यवस्था लिए पुलिस कमिश्नर प्रणाली की जो मांग की जा रही थी, मुझे बताते हुए प्रसन्नता है कि सोमवार को हमारी कैबिनेट ने राजधानी लखनऊ व सूबे की आर्थिक राजधानी के रूप में विख्यात नोएडा में पुलिस आयुक्त प्रणाली लागू करने का प्रस्ताव पास किया है।सीएम योगी ने कहा कि पुलिस सुधार के लिए समय-समय पर दिए गए विशेषज्ञों के प्रस्ताव व सुझावों पर समयबद्ध ढंग से कार्रवाई न होने से न्यायपालिका हमेशा सरकारों को कठघरे में खड़ा करती थी। उत्तर प्रदेश जैसे राज्य में बरसों से महसूस किया जा रहा था कि यहां भी पुलिस कमिश्नर प्रणाली लागू की जानी चाहिए। पुलिस एक्ट के तहत 10 लाख से अधिक आबादी के नगरीय क्षेत्रों में पुलिस आयुक्त प्रणाली लागू किए जाने की व्यवस्था है, लेकिन राजनीतिक इच्छाशक्ति का अभाव था। सुरक्षा व कानून-व्यवस्था की दृष्टि से इच्छाशक्ति के अभाव का परिणाम रहा कि यह कदम अब तक नहीं उठ पाया था।योगी ने बताया कि लखनऊ की आबादी वर्ष 2011 में करीब 29.2 लाख थी। वर्तमान में लखनऊ शहर के भीतर करीब 40 लाख आबादी है। वर्ष 2011 की जनगणना के अनुसार देखें तो गौतमबुद्धनगर में 16.48 लाख आबादी थी, जो वर्तमान में करीब 25 लाख है। लखनऊ सिटी में दो नए थाने गोमतीनगर एक्सटेंशन व सुशांत गोल्फ सिटी समेत कुल 40 थानों को मेट्रोपोलिटन सिटी के रूप में मान्यता देते हुए पुलिस कमिश्नर प्रणाली लागू की जा रही है। लखनऊ जिले के पुलिस थानों को लखनऊ नगर व लखनऊ ग्रामीण के रूप में बांटा गया है। नोएडा में भी दो नए थानों फेज-वन व कोतवाली-142 को मंजूरी दी गई है। अब नोएडा में कुल 24 थाने हो जाएंगे। लखनऊ में आइजी स्तर के दो अधिकारी संयुक्त पुलिस आयुक्त के पदों पर तैनात होंगे। इनमें एक संयुक्त पुलिस आयुक्त कानून-व्यवस्था व एक संयुक्त पुलिस आयुक्त अपराध होंगे। एसपी स्तर के 10 अधिकारी पुलिस उपायुक्त होंगे।नोएडा में डीआइजी स्तर के दो अधिकारी संयुक्त पुलिस आयुक्त होंगे। इनमें एक संयुक्त पुलिस आयुक्त कानून-व्यवस्था व दूसरे संयुक्त पुलिस आयुक्त अपराध होंगे। इसके अलावा एसपी स्तर के सात अधिकारी पुलिस उपायुक्त होंगे।पुलिस कमिश्नर प्रणाली लागू करने में सरकार ने सबसे ज्यादा ध्यान महिला सुरक्षा पर दिया है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि महिलाओं व बच्चों के प्रति होने वाले अपराधों पर प्रभावी अंकुश, उनके साथ होने वाली घटनाओं में समयबद्ध विवेचना, आरोपपत्र दाखिल किए जाने से लेकर प्रभावी अभियोजन के जरिये समय से आरोपितों को सजा दिलाने के इरादे से महिला आईपीएस अधिकारी को विशेष रूप से तैनात किया जाएगा। लखनऊ व नोएडा में महिला सुरक्षा के लिए एसपी स्तर की महिला अधिकारी व उनके अधीन एएसपी स्तर की एक महिला अधिकारी की तैनाती होगी।यातायात की बढ़ती समस्या को भी विशेष महत्व दिया गया है। मुख्यमंत्री ने कहा कि लखनऊ व नोएडा में एसपी व एएसपी स्तर के एक-एक अधिकारी की तैनाती विशेषकर यातायात के लिए होगी। निर्भया फंड से सीसीटीवी कैमरे लगवाए जाने से लेकर यातायात की अन्य व्यवस्थाओं को बेहतर बनाने के लिए विस्तृत प्रस्ताव बना है।लखनऊ ग्रामीण में बक्शी का तालाब, इटौंजा, मलिहाबाद, निगोहां व माल थानाक्षेत्र शामिल किए गए हैं। लखनऊ ग्रामीण की जिम्मेदारी के लिए एसपी लखनऊ का पद होगा। इस पद पर आइपीएस अधिकारी की तैनाती होगी। लखनऊ ग्रामीण क्षेत्र के सभी प्रशासनिक अधिकार डीएम लखनऊ के पास ही होंगे। यहां अब तक चली आ रही व्यवस्था के अनुरूप ही एसपी कानून-व्यवस्था की जिम्मेदारी संभालेंगे।प्रदेश में पहली बार लागू हो रही इस व्यवस्था की छह-छह माह में गहन समीक्षा होगी, जिससे यह तय किया जा सके कि वास्तव में कानून-व्यवस्था में क्या बदलाव व पुलिसिंग में किस तरह के सुधार हुए हैं।

लखनऊ व नोएडा में अब पुलिस कमिश्नर प्रणाली, दोनों जिले मेट्रोपोलिटन सिटी घोषित

लखनऊ में इन अफसरों को मिली तैनाती

  • नाम : वर्तमान तैनाती : नवीन तैनाती
  • 1. सुजीत पांडेय : एडीजी प्रयागराज जोन : पुलिस आयुक्त, लखनऊ।
  • 2. नवीन अरोड़ा : आइजी, संबद्ध डीजीपी मुख्यालय : संयुक्त पुलिस आयुक्त (कानून एवं व्यवस्था) लखनऊ।
  • 3. नीलाब्जा चौधरी : आइजी, पीएसी मुख्यालय लखनऊ : संयुक्त पुलिस आयुक्त (अपराध व मुख्यालय) लखनऊ।
  • 4. सर्वश्रेष्ठ त्रिपाठी : संबद्ध डीजीपी मुख्यालय : पुलिस उपायुक्त लखनऊ।
  • 5. रईस अख्तर : एएसपी पीएसी मुख्यालय : पुलिस उपायुक्त लखनऊ।
  • 6. चारू निगम : एसपी अभिसूचना लखनऊ : पुलिस उपायुक्त लखनऊ।
  • 7. दिनेश सिंह : एसपी पावर कारपोरेशन लखनऊ : पुलिस उपायुक्त लखनऊ।
  • 8. सोमेन वर्मा : एसपी अपराध लखनऊ : पुलिस उपायुक्त लखनऊ।
  • 9. शालिनी : एसपी यूपी 112 लखनऊ : पुलिस उपायुक्त लखनऊ।
  • 10. प्रमोद कुमार तिवारी : एसपी रेलवे मुरादाबाद : पुलिस उपायुक्त लखनऊ।
  • 11. पूजा यादव : एएसपी फतेहपुर : पुलिस उपायुक्त लखनऊ।
  • 12. अरुण कुमार श्रीवास्तव : एसपी वूमेन पावर लाइन लखनऊ : पुलिस उपायुक्त लखनऊ।
  • 13. ओम प्रकाश सिंह : सेनानायक 26वीं वाहिनी पीएसी गोरखपुर : पुलिस उपायुक्त लखनऊ।

गौतमबुद्धनगर में इन अफसरों को मिली तैनाती

  • नाम : वर्तमान तैनाती : नवीन तैनाती
  • 1. आलोक सिंह : एडीजी /आइजी मेरठ रेंज : पुलिस आयुक्त गौतमबुद्धनगर।
  • 2. अखिलेश कुमार : डीआइजी पीएसी मुख्यालय लखनऊ : अपर पुलिस आयुक्त (कानून एवं व्यवस्था) गौतमबुद्धनगर।
  • 3. श्रीपर्णा गांगुली : डीआइजी कारागार प्रशासन व सुधार, लखनऊ : अपर पुलिस आयुक्त (अपराध व मुख्यालय) गौतमबुद्धनगर।
  • 4. नितिन तिवारी : सेनानायक छठवीं वाहिनी पीएसी मेरठ : पुलिस उपायुक्त नोएडा।
  • 5. हरीश चन्दर : एसपी विशेष जांच लखनऊ : पुलिस उपायुक्त नोएडा।
  • 6. बृन्दा शुक्ला : संबंद्ध डीजीपी मुख्यालय : पुलिस उपायुक्त नोएडा।
  • 7. संकल्प शर्मा : एसपी सुरक्षा लखनऊ : पुलिस उपायुक्त नोएडा।
  • 8. मीनाक्षी कात्यान : एएसपी सुलतानपुर : पुलिस उपायुक्त नोएडा।
  • 9. राजेश कुमार सिंह : सेनानायक 44वीं वाहिनी पीएसी मेरठ : पुलिस उपायुक्त नोएडा।
  • 10. राजेश एस : एसपी (प्रशिक्षण व सुरक्षा) लखनऊ : पुलिस उपायुक्त नोएडा।

लखनऊ से अन्य समाचार व लेख

» अब सरयू कहलाएगी घाघरा नदी, यूपी कैबिनेट की मुहर के बाद अब योगी सरकार केंद्र को भेजेगी प्रस्ताव

» लखनऊ के 40 थानों में लागू होगा कमिश्नरी सिस्टम, राजधानी को मिले दो नए थाने

» लखनऊ नगर निगम में फर्जी रेट लिस्ट से हो रही थी पुर्जों की खरीद एजेंसियों से वसूली का नोटिस

» सुजीत पाण्डेय लखनऊ और आलोक सिंह गौतमबुद्धनगर के बने पहले पुलिस कमिश्नर

» UP में कमिश्नर प्रणाली लागू होते ही बढ़ा पुलिस के अधिकारों का दायरा

 

नवीन समाचार व लेख

» अब सरयू कहलाएगी घाघरा नदी, यूपी कैबिनेट की मुहर के बाद अब योगी सरकार केंद्र को भेजेगी प्रस्ताव

» फर्रुखाबाद के नर्सिंगहोम में कुत्ते ने नवजात बच्चे की आंख नोची, दर्दनाक मौत

» कन्नौज में पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने कहा, राज लाइए और नौकरी पाइए

» बांदा में प्रधान के हिस्ट्रीशीटर व जिलाबदर पति ने गांव में घुसकर चचेरे भाई को उतारा मौत के घाट

» आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस वे कोहरे के चलते खराब खड़े ट्रक से टकराने के बाद खाई में गिरी बस, 2 की मौत 22 घायल