यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

लखनऊ में ट्रॉमा में भर्ती बुजुर्ग का भाई भी निकला संक्रमित, इलाकों को सील करने का बढ़ेगा दायरा


🗒 मंगलवार, अप्रैल 14 2020
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक

केजीएमयू में भर्ती नजीराबाद रोड स्थित नया गांव मोहल्‍ले में रहने वाले जिस बुजुर्ग को काेेेरोना पॉजिटीव निकला था, उसका भाई भी संंक्रमित पाया गया हैै। मंगलवार को इसकी जानकारी मिलने पर पुलिस प्रशासन ने आगे की रणनीति तय की। पुलिस आयुक्‍त सुजीत पांडेय के मुताबिक जिन सील इलाकों से लगातार संक्रमित लोगों की संख्‍या बढ़ रही है, वहां पर पुलिस बल बढाई गई है। इलाके को सेनेटाइज किया जा रहा है। संक्रमित इलाकों को सील करने का दायरा बढ़ाया जाएगा। तीन सौ वर्ग मीटर की जगह अब पांच सौ वर्ग मीटर का क्षेत्र सील करने की तैयारी की जा रही है।नजीराबाद राेेेड स्थित नया गांव में मंगलवार शाम संयुक्‍त पुलिस आयुक्‍त नवीन अरोड़ा ने निरीक्षण किया। इस दौरान चारों तरफ बेरिकेडिंग लगा दी गई है। नगर निगम के सहयोग से सील इलाकों में सीसी कमरै लगाए जा रहे हैं। पुलिस और जिला प्रशासन की ओर सेे चिंहित किए गए 13 हॉट स्‍पॉट का इलाका सीसी कैमरों की नजर में रहेगा। अब पुलिसकर्मी कंट्रोल रूम में उन इलाकों में होने वाली गतिविधियों पर नजर रख सकेंगे। कैमरे में लोगों को लॉकडाउन का उल्‍लंघन करते देख कर पुलिस लाउडस्‍पीकर से उन्‍हें संबोधित कर उनके खिलाफ कार्रवाई की चेतावनी दे सकेगी। यह निर्णय पुलिसकर्मियों की सुरक्षा के लिहाज से भी लिया गया है। मंगलवार को भी कैसरबाग, अमीनाबाद, राजाजीपुरम, वजीरगंज, सआदतगंज और नक्‍खास के अलावा कसाई बाड़ा में स्‍वास्‍थ्‍य विभाग और नगर निगम की टीम ने भ्रमण किया। इन इलाकों को लगातार सेनिटाइज किया जा रहा है। पुलिस अधिकाि‍रियों के निरीक्षण के दौरान मंगलवार को सील किए गए इलाकों में सन्‍नाटा नजर आया। पुलिस ने लाउडस्‍पीकर के जरिए लोगों से लॉकडाउन के नियमों का पालन करने की अपील की। इलाके में लोगों से उनके जरूरत का सामान उपलब्‍ध कराने की व्‍यवस्‍था के बारे में भी जानकारी दी गई। एडीसीपी पश्चिम विकास चंद्र त्रिपाठी के मुताबिक लोगों से कहा गया है कि आवश्‍यक सामग्री उन्‍हें उनके दरवाजे पर उपलब्‍ध करा दी जाएगी। इमरजेंसी में लोग डायल 112 पर फोन कर मदद मांग सकते हैं। इसके अलावा जिला प्रशासन ने भी हेल्‍प लाइन नंबर जारी की है, जिसपर मदद मांगी जा सकती है।नया गांव के जिस इलाके से दो सगे भाइयों में कारोना संंक्रमण पाया गया है उनका घर मेडिसीन मार्केट के करीब है। ऐसे में वहांं संक्रमण फैलने का खतरा बना हुआ है। दवा लेने के लिए वहां हर रोज बड़ी संख्‍या में लोग जाते हैं। मामले की गंभीरता को देखते हुए पुलिस और प्रशासन के साथ साथ ड्रग इंस्‍पेक्‍टर ने मौके का मुआयाना किया। इस दौरान बैठक भी की गई। इसके बाद मेडिसीन मार्केट के थोक व्‍यापारियों की दुकानेें ट्रांसपोर्ट नगर में शिफट करने पर विचार किया गया। जिलाधिकारी और पुलिस आयुक्‍त को इस बाबत पत्र भेजा गया है। यही नहीं दवा के थोक व्‍यापारियों ने भी इसपर सहमति जताते हुए पत्र लिखा है। मेडिसीन मार्केट में ही शरीरिक दूरी का पालन नहीं हो रहा है। मंगलवार को पुलिस टीम ने वहां जाकर दुकानदारों से दूरी बनाकर दवा का खरीद फरोख्‍त करने की अपील की। बाजार में तकरीबन सात सौ दुुुुुकानें हैं, जो खुल रही हैं। एक दुकान में कई कर्मचारी काम करतेे हैं। यहां हर तरफ लोगों की भीड़ नजर आ रही है। पुलिस के बार बार समझाने के बावजूद दवा व्‍यापारी आपस में दूरी नहीं बना रहे हैं। पुलिस ने मंगलवार को व्‍यापारियों व कर्मचारियों से अपनी गाडि़यां दूर खड़ी करने, एक तरफ से आने और दूसरे तरफ से जाने तथा आपस में एक मीटर की दूरी बनाए रखने के निर्देश दिए। एसीपी कैसरबाग आइपी सिंह के मुताबिक बाजार में काफी लोग दवा खरीदने आते हैं। नया गांव से यह बाजार काफी नजदीक है, जिसको लेकर सतर्कता बरती जा रही है। व्‍यापारियों से सहयोग करने और निर्देेेेेेेशों का पालन करने की अपील की गई है।

लखनऊ में ट्रॉमा में भर्ती बुजुर्ग का भाई भी निकला संक्रमित, इलाकों को सील करने का बढ़ेगा दायरा

स्वास्थ सुझाव से अन्य समाचार व लेख

» केजीएमयू के ट्रॉमा में जबरन कोरोना मरीज भर्ती कराने पर शासन ने तलब की रिपोर्ट

» लखनऊ में बंद रहेंगे बाजार, कोरोना वायरस को रोकने के लिए व्यापारियों का समर्थन

» यूपी में दो और पॉजिटिव केस, मुरादाबाद-नोएडा में मिले संक्रमित, संख्या पहुंची 25

» लखनऊ से तसल्ली देने वाली खबर कोरोना पीड़ि‍त महिला डॉक्टर की हालत में सुधार, केजीएमयू में भर्ती पति व बच्चे हुए डिस्चार्ज

» कोरोना वायरस इलाज में कोताही पर दर्ज होगी FIR, 12 फरवरी के बाद विदेश से आए लोगों की होगी जांच