यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

राजधानी में कोरोना की चेन 14 दिन से नहीं टूटी बलरामपुर में मिले दो पॉजिटिव


🗒 शुक्रवार, मई 22 2020
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक

उत्तर प्रदेश की राजधानी में कोरोना की चेन 14 दिन से नहीं टूटी है। शुक्रवार को भी एक प्रवासी मजदूर में वायरस की पुष्टि हुई है। मुंबई से लौटे मजदूर छठा मील निवासी है। इस क्षेत्र में यह पहला मरीज है। अब तक 23 मजदूर संक्रमित निकले। बीते दिन यानी गुरुवार को दो प्रवासी मजदूरों में वायरस की पुष्टि हुई। इसमें एक महाराष्ट्र के मुबंई व दूसरा गुजरात के अहमदाबाद शहर से लौटा है। दोनों मरीजों में से एक गोसाईगंज की गांव सभा सलेमपुर के मजरा जलोदीनगर का और दूसरा बीकेटी के बेहटा गांव का निवासी है। ऐसे में राजधानी में मरीजों की संख्या 312 हो गई है। शहर में हड़कंप मचाने के बाद वायरस ने अब गांव की ओर रुख कर दिया है। 14 दिन से शहर में लगातार कोरोना के सामने आ रहे मामलों ने हड़कंप मचा दिया है। इन दिनों किसी भी दिन वायरस की चेन ब्रेक नहीं हुई। बलरामपुर दो दिन बाद कोरोना पॉजिटिव के दो मरीज मिले हैं। सीएमओ डॉ. घनश्याम सिंह ने बताया कि शुक्रवार देर शाम आई रिपोर्ट में दो पॉजिटिव निकले है। दोनों  शिवपुरा क्षेत्र के रहने वाले हैं। पॉजिटिव पाए गए व्यक्तियों को निर्धारित प्रोटोकॉल के अनुसार एल -1 अस्पताल में भर्ती कराया जा रहा है। जिले में वर्तमान में कोरोना  पॉजिटिव के एक्टिव केसों की संख्या 32 पहुंच  गई है।उधर, बीकेटी स्थित रामसागर मिश्र(आरएसएम) अस्पताल की संक्रमित हुई महिला डॉक्टर व दो नर्सों समेत राजधानी के विभिन्न अस्पतालों से गुरुवार को कुल नौ मरीजों को डिस्चार्ज किया गया है। आरएसएम की डॉक्टर व दोनों नर्सें लोहिया संस्थान में भर्ती थीं। जबकि लोकबंधु अस्पताल से पांच मरीजों को छुट्टी दी गई है। वहीं, केजीएमयू से एक महिला मरीज को कोरोना संक्रमण से मुक्त होने के बाद डिस्चार्ज किया गया है। लोहिया संस्थान के एमएस डॉक्टर श्रीकेश सिंह ने बताया कि आरएसएम अस्पताल की डॉक्टर व नर्स रविवार को एडमिट हुई थी। तब से उनकी दो जांच रिपोर्ट निगेटिव आ चुकी है। पहली जांच रिपोर्ट केजीएमयू से निगेटिव आई और दूसरी जांच रिपोर्ट लोहिया संस्थान से निगेटिव आने के बाद तीनों को गुरुवार को छुट्टी दे दी गई। सभी को 14 दिन के लिए होम क्वारंटाइन रहने को कहा गया है। वहीं केजीएमयू में संक्रामक रोगों के विभागाध्यक्ष डॉ. डी हिमांशु ने बताया कि राजधानी की एक महिला मरीज को डिस्चार्ज किया गया है। जबकि अभी 15 पॉजिटिव मरीजों का इलाज चल रहा है। उल्लेखनीय है कि आरएसएम की डॉक्टर व नर्स हरदोई निवासी हैं। इस प्रकार राजधानी के छह व बाहरी जनपद के कुल तीन मरीज डिस्चार्ज हुए हैं।कोरोना संक्रमण के चलते बुधवार को दोपहर 2.30 बजे लोकबंधु अस्पताल में भर्ती कराई गई निशातगंज की गर्भवती का आधीरात बाद 1.17 बजे डॉक्टरों ने सामान्य प्रसव कराया है। प्रसव के दौरान गर्भवती का बीपी अचानक बढ़ गया था व शरीर में सूजन आ गई थी। लेबर पेन भी पर्याप्त नहीं आ रहा था। इसके बाद डॉक्टरों ने पहले बीपी नियंत्रित किया। फिर सूजन कम होने वाले इंजेक्शन देकर लेबर पेन बढ़ाने की भी डोज दी। तब जाकर सामान्य प्रसव कराने में सफलता मिली। प्रसव के बाद शिशु का नमूना लेकर भी कोरोना जांच को भेजा गया है। हालांकि शिशु स्वस्थ है और महिला की हालत में भी सुधार बताया जा रहा है।मूल रूप से अयोध्या की रहने वाली गर्भवती निशातगंज में अपने रिश्तेदार के पास रह रही है। प्रसव पीड़ा होने पर उसे महानगर के फातिमा अस्पताल में मंगलवार को भर्ती कराया गया था, जहां कोरोना संक्रमण की पुष्टि के बाद लोकबंधु अस्पताल में रेफर कर दिया गया। सीएमएस डॉ अमिता यादव ने बताया कि गर्भवती का ब्लड ग्रुप निगेटिव है। ऐसे में ऑपरेशन करने में बहुत ही रिस्क था। डॉ सुरभि रानी ने गर्भवती का बीपी सामान्य करने का प्रयास शुरू किया। उन्होंने बताया कि साथ में नर्स तारा देवी और आया गुड़िया के साथ पीपीई किट, ग्लब्स व मास्क के साथ कोविड का पूरा प्रोटोकाल प्रसव के लिए अपना गया। निदेशक डॉ डीएस नेगी ने बताया कि अस्पताल में कोरोना संक्रमित पहली गर्भवती का सामान्य प्रसव कराया गया है। हालांकि महिला कोरोना संक्रमित कैसे हुई। इस बारे में अभी जानकारी नहीं मिल पाई है।

राजधानी में कोरोना की चेन 14 दिन से नहीं टूटी बलरामपुर में मिले दो पॉजिटिव

लखनऊ से अन्य समाचार व लेख

» राजधानी मे अफसर बनकर रेल कर्म‍ियों को ठग रहा जालसाज

» लखनऊ मे मुठभेड़ में पकड़े गए 10 हजार के दो इनामी, ट्रेन-बस में करते थे लूटपाट-टप्पेबाजी

» योगी सरकार स्किल मैपिंग के जरिये प्रवासी श्रमिकों व कामगारों को रोजगार दिलाएगी

» योगी सरकार ने सभी विभागों व निकायों में हड़ताल पर छह महीने का प्रतिबंध लगाया

» सीएम योगी की निगरानी समितियों से अपील, होम क्वारंटाइन लोगों के घर पर लगाएं पोस्टर

 

नवीन समाचार व लेख

» कन्नोज मे लॉकडाउन में फंसा दूल्हा तो शादी करने दुल्हन पैदल पहुंच गई उसके घर

» कानपुर सेंट्रल रेलवे स्टेशन पर श्रमिक स्पेशल ट्रेन पहुंचते ही यात्रियों में लंच पैकेट लूटने में चले लात-घूंसे

» आगरा मेंं कुल कोरोना संक्रमित 843,शुक्रवार भी शुक्र भरा रहा

» आगरा मे दुष्‍कर्म पीडि़ता ने मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ से लगाई गुहार, नहीं मिला न्‍याय तो परिवार सहित करेगी आत्‍महत्‍या

» मेरठ में कोरोना से 22वीं मौत, सात नए संक्रमित मिलने से जिले में कुल संख्‍या 365 हुई