यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

मेरठ मंडल में चलेगा कोरोना जांच का विशेष अभियान, एक से सात जुलाई तक हर घर में होगी जांच


🗒 शनिवार, जून 27 2020
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक

कोरोना संक्रमण के खिलाफ चल रही लड़ाई में उत्तर प्रदेश की योगी सरकार की चिंता अब दिल्ली से सटे इलाकों पर जाकर अटक गई है। वहां बढ़ रहे मामलों को देखते हुए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने एक से सात जुलाई तक मेरठ मंडल में मेडिकल स्क्रीनिंग का विशेष अभियान चलाने के निर्देश दिए हैं। साथ ही प्रदेश की सभी औद्योगिक इकाइयों में कोविड हेल्प डेस्क स्थापित करने के लिए कहा है।बलरामपुर, गोंडा और अयोध्या के दो दिवसीय दौरे पर रवाना होने से पहले शनिवार को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अपने सरकारी आवास पर टीम-11 के अधिकारियों के साथ बैठक की। इसमें उन्होंने मेरठ मंडल पर विशेष ध्यान देने के निर्देश दिए। यहां कोविड-19 की चेन को तोड़ने के लिए उन्होंने सर्विलांस को मजबूत करते हुए लोगों को जागरूक करने को कहा। साथ ही एक से सात जुलाई तक एक विशेष अभियान चलाने के निर्देश दिए। ग्राम पंचायत और वार्ड स्तर पर संचालित होने वाले इस विशेष कार्यक्रम के तहत घर-घर जाकर लोगों की मेडिकल स्क्रीनिंग करने को कहा गया। स्क्रीनिंग में लक्षणों के आधार पर संदिग्ध पाए जाने वाले लोगों का रैपिड एंटीजन टेस्ट कराया जाएगा। संक्रमित पाए जाने पर उन्हें कोविड अस्पतालों में भर्ती कराने के निर्देश दिए गए हैैं।मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि मेरठ मंडल में कोविड अस्पतालों की क्षमता विस्तार का काम प्राथमिकता पर होना चाहिए। नगर विकास विभाग, ग्राम्य विकास विभाग और पंचायतीराज विभाग को विशेष स्वच्छता अभियान चलाने के निर्देश दिए। इसके साथ ही मुख्यमंत्री ने औद्योगिक इकाइयों में कोविड हेल्प डेस्क स्थापित कराने को कहा है।मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि अनलॉक व्यवस्था में पूरी सावधानी बरतते हुए औद्योगिक, वाणिज्यिक और अन्य कारोबारी गतिविधियों का संचालन जरूरी है। इसके लिए औद्योगिक इकाइयों में कोविड हेल्प डेस्क की स्थापना इन इकाइायों में कार्यरत लोगों को संक्रमण से सुरक्षित रखने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाएगी। उन्होंने कहा कि जहां पांच या उससे अधिक व्यक्ति कार्यरत हैं, वहां मेडिकल स्क्रीनिंग की व्यवस्था अनिवार्य रूप से उपलब्ध रहे।20 हजार जांच प्रतिदिन पर जताया संतोष : मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने उत्तर प्रदेश में कोविड-19 की 20 हजार जांच प्रतिदिन की क्षमता पाने पर संतोष व्यक्त किया। इसमें लगातार वृद्धि के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि ज्यादा से ज्यादा नमूने संग्रहित करते हुए टेस्टिंग में तेजी संक्रमण की चेन को तोड़ने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाएगी।

मेरठ मंडल में चलेगा कोरोना जांच का विशेष अभियान, एक से सात जुलाई तक हर घर में होगी जांच

लखनऊ से अन्य समाचार व लेख

» यूपी बोर्ड के रिजल्ट में सफलता प्रतिशत में लड़कियां तो मेरिट में लड़के आगे

» यूपी कैबिनेट से जल्द मिलेगी नए एक्ट को मंजूरी, VIP सुरक्षा का दारोमदार भी संभालेगी UPSSF

» मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा, यूपी बोर्ड के टॉप-10 मेधावियों को सम्मानित करेगी सरकार

» डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य की घोषणा, बोर्ड के टॉपर्स के घर तक उनके नाम से ही सड़क

» अखिलेश यादव यूपी बोर्ड हाईस्कूल व इंटरमीडिएट परीक्षा के 51-51 टॉपर परीक्षार्थियों को देंगे लैपटॉप

 

नवीन समाचार व लेख

» यूपी कैबिनेट से जल्द मिलेगी नए एक्ट को मंजूरी, VIP सुरक्षा का दारोमदार भी संभालेगी UPSSF

» मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा, यूपी बोर्ड के टॉप-10 मेधावियों को सम्मानित करेगी सरकार

» डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य की घोषणा, बोर्ड के टॉपर्स के घर तक उनके नाम से ही सड़क

» CM योगी का अल्टीमेटम 15 दिन में कराएं तटबंध की मरम्मत व स्पर निर्माण कार्य

» अखिलेश यादव यूपी बोर्ड हाईस्कूल व इंटरमीडिएट परीक्षा के 51-51 टॉपर परीक्षार्थियों को देंगे लैपटॉप