यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

अलीशा व केशव ने बढ़ाया लखनऊ का मान, बाराबंकी के अभिमन्यु व योगेश टॉप थ्री


🗒 शनिवार, जून 27 2020
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक

राजधानी से यूपी बोर्ड 10वीं और 12वीं की परीक्षा देने वाले 10,1043 छात्र-छात्राओं का इंतजार खत्म हो गया। शनिवार दोपहर करीब 12:30 बजे उनकी मेहनत का फैसला आ गया। हाईस्कूल व इंटरमीडिएट परीक्षा का परिणाम शनिवार को उपमुख्यमंत्री डॉक्टर दिनेश शर्मा ने घोषित किया। हाई स्कूल का रिजल्ट 83.31फीसद रहा। इसमें छात्राओं का उत्तीर्ण प्रतिशत 87.22 है, जो प‍ि‍छले साल की तुलना में सात प्रतिशत ज्यादा है।वहीं, इंटरमीडिएट का र‍िजल्‍ट 74.63 फीसद रहा। इस बार हाईस्कूल में लखनऊ की अलीशा अंसारी ने 94 प्रतिशत अंक हासिल कर प्रदेश में नौवां स्थान हास‍िल क‍ि‍या है। अलीशा शहर के श्रीनगर मोहिबुल्लापुर मडिय़ांव स्थित बाल निकुंज इंटर कॉलेज की छात्रा हैं। वहीं इंटरमीडिएट में लखनऊ पब्लिक कॉलेज की राजाजीपुरम के केशव ने प्रदेश में नौवां स्थान हासिल किया है। केशव को इंटरमीडिएट में 92.8 प्रतिशत अंक हासिल किए हैं।हाई स्कूल में बागपत की की रिया जैन ने 96.67 फीसद अंक प्राप्त कर पहला स्थान प्राप्त किया। दूसरे नंबर पर बाराबंकी के अभिमन्यु वर्मा को 95.83 फीसद अंक म‍ि‍ले। बाराबंकी के ही योगेश प्रताप सिंह तीसरे नंबर पर रहे। उन्हें 95.33 फीसद अंक मिले हैं। इंटरमीडिएट में बागपत के अनुराग मलिक ने पहला स्थान प्राप्त किया उन्हें 97 फीसद अंक प्राप्त हुए हैं। प्रयागराज के प्रांजल 96 प्रतिशत अंक पाकर दूसरे नंबर पर और औरैया के उत्कर्ष शुक्ला 94.80 फीसद अंक प्राप्त कर तीसरे नंबर पर रहे। हाईस्कूल की टॉपर अलीशा अंसारी ने दैनिक जागरण से खास बातचीत में बताया कि वह डॉक्टर बनकर ऐसे वंचितों की सेवा करना चाहती हैं, जिनकी कहीं कोई सुनवाई नहीं। अपनी मम्मी और नाना से प्रेरित हैं, वह भी इसी पेशे में हैं। अलीशा अपनी सफलता का श्रेय अपने इंजीनियर मामू अशद अंसारी को  विशेष तौर से देना चाहती हैं। उन्होंने टाइम टेबल से लेकर सफलता की बारीकियां बताई। इसके अतिरिक्त इंजीनियर पिता मो.रिजवान फजली समेत पूरे परिवार का पढ़ाई में विशेष सपोर्ट की बात कही। अलीशा अपना पसंदीदा विषय मैथ और साइंस को बताती हैं। स्कूल से इतर वह घर में रोज 6 से 8 घंटे सेल्फ स्टडी करती थीं। सुबह पांच बजे उठने का बाद अलीशा 11 बजे के बाद ही सोने के लिए जाती थीं।हरदोई के संडीला निवासी केशव ने इंटर में लखनऊ में सर्वाधिक अंक हासिल कर जिले के नाम रोशन किया है। लखनऊ पब्लिक स्कूल राजाजीपुरम शाखा के छात्र केशव के पिता विमलेश चंद्र संडीला के ही सरस्वती विद्या मंदिर में शिक्षक हैँ। जबकि मां विजय कुमारी गृहणी हैं। केशव की बड़ी बहन का बेसिक शिक्षा विभाग में शिक्षिका के रूप में चयन हुआ है। जबकि दूसरी बहन अर्चना सीमा सुरक्षा बल में है और उसकी तैनाती राजस्थान में है। केशव आइएएस बनाकर देश और समाज की सेवा करना चाहता है।हाईस्कूल की परीक्षा में प्रदेश में दूसरा स्थान करने वाले अभिमन्यु वर्मा के पिता रामहेत वर्मा किसान और माता शकुंतला गृहणी हैं। सतरिख क्षेत्र के  छेदा निवासी अभिमन्यु रोजाना साइकिल से शहर के लखपेड़ाबाग स्थित साईं इंटर कॉलेज पढ़ाई करने आता था। अभिमन्यु वर्मा ने 95. 83 फीसद अंक हासिल किए हैं। कोरोना काल में चिकित्सकों के योगदान को देखते हुए उन्होंने भविष्य में चिकित्सक बनने को अपना लक्ष्य बनाया है। अभिमन्यु बताते हैं कि उसने यह सफलता 12 घंटे पढ़ाई करके हासिल की है। वह अपनी सफलता का श्रेय माता-पिता और गुरुजनों को दिया है। यह पूछे जाने पर कोरोना काल के दौरान पढ़ाई पर क्या प्रभाव पड़ा। उन्होंने बताया कि इसका हाईस्कूल की परीक्षा पर तो कोई प्रभाव नहीं पड़ा लेकिन आगे की पढ़ाई प्रभावित हो रही है।टिकैतनगर क्षेत्र के जीवल स्थित सद्भावना इंटर कॉलेज के छात्र योगेश प्रताप सिंह ने 95.33 फीसद स्थान हासिल कर सूबे में तीसरा स्थान हासिल किया है। इनके पिता राजेंद्र प्रताप सिंह पेशे से किसान और शिवमती गृहणी हैं। योगेश ने बताया कि उसने छह घंटे पढ़ाई करके यह सफलता हासिल की है। वह बताते हैं कि पढ़ाई करने के लिए घंटों के बजाय एकाग्रता पर ध्यान देना जरूरी होता है। उनके पसंदीदा विषय विज्ञान और गणित हैं। वर्तमान में आइआइटी की तैयारी कर रहे हैं। वह बताते हैं कि उनके पिता भूमि न होने पर किराये पर खेत लेकर खेती करवाते हैं और आर्थिक स्थिति बेहतर न होेने के बावजूद उनसे बढ़ी सभी पांच बहनों को पढ़ाई करवाई। बड़ी बहना सुमन सिंह ने इंटर और सोनी सिंह, सिंपल सिंह, अंतिमा सिंह और अंकिता सिंह ने स्नातक तक की पढ़ाई की है। माता-पिता को सफलता का श्रेय देते हुए योगेश ने चुनौतियों को फेस करना अपना शौक बताया।यूपी बोर्ड परीक्षा का परिणाम शनिवार दोपहर घोषित हुआ। सरदार सिंह कान्वेंट इंटर कॉलेज महमूदाबाद की छात्रा शिवानी वर्मा ने हाई स्कूल में प्रदेश की मेरिट में चौथा स्थान हासिल किया है। शिवानी को 94.83% अंक प्राप्त हुए हैं। इसबार की बोर्ड परीक्षा में 84172  छात्र जिनमें 45614 हाईस्कूल व 38558 इंटरमीडिएट में छात्र पंजीकृत थे। जिले के बेटियों ने एक बार फिर झंडा फहराया है। प्रदेश की टॉप 10 हाईस्कूल में सातवां और दसवां स्थान हासिल किया। वहीं हाईस्कूल और इंटर की टॉप फाइव में लड़कों को पीछे छोड़ दिया है। हाईस्कूल में न्यू आदर्श इंटर कॉलेज मुराईबाग की आस्था श्रीवास्तव ने 94.32 प्रतिशत अंक प्राप्त कर प्रदेश में सातवां स्थान हासिल किया है। वहीं वीणापाणि इंटर कॉलेज मलिकमऊ की वैशाली शर्मा ने 93.83 प्रतिशत अंक हासिल कर 10वां स्थान हासिल किया है। इसी तरह जिले में पहले और दूसरे के बाद तीसरे स्थान पर न्यू आदर्श की ही शिल्पी गुप्ता, चौथे पर वीणापाणि की सुप्रिया यादव और पांचवें स्थान पर न्यू स्टैंडर्ड पब्लिक स्कूल सलेथे की अदिति अवस्थी रही।इंटर में पहले स्थान पर बाल विद्या मंदिर गंगागंज की छात्रा अर्चना कुमारी ने 91 प्रतिशत अंक प्राप्त किया। दूसरे स्थान पर बरातीलाल गंगा राम बाल विद्या मंदिर लालगंज की प्रज्ञा अवस्थी को 88 प्रतिशत, तीसरे पर न्यू स्टैंडर्ड पब्लिक स्कूल सलेथू की वात्सल्य 86 प्रतिशत, चौथे पर वीणापाणि इंटर कॉलेज मलिक मऊ की सपना पाल जबकि पांचवें स्थान पर न्यू आदर्श इंटर कॉलेज मुराई बाग की श्रेया आनंद रही। जिले में हाईस्कूल और इंटर में 73514 परीक्षार्थी शामिल हुए। हाईस्कूल में 76.57 प्रतिशत और इंटर में 78.02 प्रतिशत छात्रों को सफलता मिली है।

अलीशा व केशव ने बढ़ाया लखनऊ का मान, बाराबंकी के अभिमन्यु व योगेश टॉप थ्री

लखनऊ से अन्य समाचार व लेख

» गांधी परिवार की सोच खुद की प्रगति तक सीमित - स्मृति ईरानी

» लखनऊ स्थित काकोरी में चाचा के अवैध तमंचे से अचानक चली गोली, भतीजी के पेट के पार

» इंस्पेक्टर इटौंजा पर किसान की पीट-पीटकर जान लेने का आरोप, शव रख परिजनों ने किया प्रदर्शन

» राजधानी मे बुजुर्ग की कोरोना से मौत, संक्रमण के भय से घरवालों ने छोड़ा शव

» इस बार पश्चिम से निकला पढ़ाई का सूरज, पूरब फिसड्डी

 

नवीन समाचार व लेख

» आनंद अस्‍पताल के संचालक हरिओम आनंद ने जहर खाकर जान दी

» गाजीपुर में प्रशिक्षण के लिए आए सिपाही ने लगाई फांसी

» वाराणसी में वेतन कटौती को लेकर धरने पर बैठे एंबुलेंस कर्मी

» गांधी परिवार की सोच खुद की प्रगति तक सीमित - स्मृति ईरानी

» अमेठी आइबी व इंटेलीजेंस की टीम सात गाड़ियों से पहुंची सहायक महाप्रबंधक के आवास पर घंटों चली जांच।