यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

मोस्ट वांटेड अपराधियों पर टूटी UP पुलिस, 25 बड़े बदमाशों पर STF की निगाह


🗒 रविवार, जुलाई 05 2020
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक

कानपुर की घटना के बाद मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के निर्देश पर यूपी पुलिस माफिया की कमर तोड़ने के प्रयास में जुट गई है। रविवार को कई जिलों में बड़े अपराधियों के खिलाफ पुलिस का कहर टूटा। पुलिस और प्रशासन ने सूची बनाकर ऐसे अपराधियों पर निगाह टेढ़ी की है, जिन्होंने दबंगई के बल पर आर्थिक साम्राज्य खड़ा कर लिया है। पूर्वांचल के दबंग विधायक मुख्तार अंसारी, पूर्व सांसद अतीक अहमद, अजय सिंह सिपाही समेत कई गैंगस्टर पुलिस के निशाने पर हैं। एसटीएफ को उत्तर प्रदेश में 25 बड़े अपराधियों, उनके गिरोह और गतिविधियों पर निगाह रखने की जिम्मेदारी सौंपी गई है। इस सूची में बाहुबली मुख्तार अंसारी, उमेश राय उर्फ गौरा राय, त्रिभुवन सिंह उर्फ पवन कुमार, अतीक अहमद, खान मुबारक, मु.सलीम, मु.सोहराब, मु.रुस्तम, ओम प्रकाश उर्फ बबलू श्रीवास्तव, बृजेश कुमार सिंह उर्फ अरुण कुमार सिंह, सुभाष सिंह ठाकुर, ध्रुव कुमार सिंह उर्फ कुन्टू सिंह, मुनीर, संजीव महेश्वरी उर्फ जीवा, सुंदर भाटी उर्फ नेताजी, अनिल दुजाना उर्फ अनिल नागर, अनिल भाटी, सिंहराज भाटी, सुशील उर्फ मूंछ, अंकित गुर्जर, अमित कसाना, आकाश जाट, उधम सिंह, योगेश भदौड़ा व अजीत उर्फ हप्पू के नाम शामिल हैं।लखनऊ विकास प्राधिकरण ने रविवार को लालबाग में बाहुबली मुख्तार अंसारी से जुड़े एक अवैध निर्माण का बेसमेंट रविवार को सील कर दिया। कागज पर ये इमारत रईस अहमद के नाम से दर्ज है, मगर सूत्रों के अनुसार बिल्डिंग के पीछे मुख्तार अंसारी का नाम है। चार मंजिल की इस इमारत की तीन मंजिलों का ही नक्शा पास है। बेसमेंट और चौथी मंजिल का निर्माण नक्शे में नहीं है। आश्चर्य की बात यह थी कि एलडीए की अवैध निर्माण की सुनवाई वाली कोर्ट इस इमारत के ठीक पीछे ही लगाई जाती है। वाराणसी और आसपास के जिलों में में भी मुख्तार के गिरोह आइएस-191 से जुड़े अपराधियों पर धड़ाधड़ कार्रवाई हो रही है। गैंग से जुड़े 56 लोगों पर गैंगस्टर लगाते हुए 25 - 25 हजार के इनामी 52 लोगों को गिरफ्तार किया गया। गिरोह से जुड़े लोगों की प्रापर्टी का ब्यौरा इकट्ठा किया गया। जब्तीकरण की कार्रवाई की तैयारी है।लखनऊ पुलिस प्रशासन ने सपा सरकार में कद्दावर नेता रहे कैरियर डेंटल कॉलेज के संचालक इकबाल अली और उसके पिता अजमत अली पर गैंगस्टर की कार्रवाई की गई है। दोनों पर आरोप है कि गिरोह बनाकर सरकारी जमीनों पर अवैध कब्जे करते हैं। इकबाल अली ने आइआइएम रोड पर सरकारी जमीन पर अस्पताल बना दिया था। बीते दिनों जांच के बाद प्रशासन ने उस पर बुलडोजर चलवा दिया था।अंबेडकर नगर के बड़े माफिया कटेहरी के ब्लॉक प्रमुख अजय सिंह सिपाही के घर पुलिस ने रविवार को छापा मारा। एएसपी अवनीश कुमार मिश्र के नेतृत्व में अजय सिपाही के घर पर कई थानों की पुलिस ने दबिश दी। अजय के खिलाफ अंबेडकरनगर, अयोध्या, लखनऊ, सुल्तानपुर जिलों में इसपर 29 गंभीर मुकदमे दर्ज हैं। हालांकि उसके घर पर कोई नहीं मिला।प्रयागराज में माफिया के रूप में सूचीबृद्ध पूर्व सांसद अतीक अहमद इन दिनों गुजरात की जेल में हैं तो उसके भाई एक लाख के इनामी पूर्व विधायक खालिद अजीम उर्फ अशरफ को भी गिरफ्तार करने के बाद अब दोनों के करीबियों की तलाश चल रही है। पुलिस अब पार्षद बच्चा पासी, राजेश यादव तथा उनके गैैंग के सदस्यों की तलाश में लगी है।

मोस्ट वांटेड अपराधियों पर टूटी UP पुलिस, 25 बड़े बदमाशों पर STF की निगाह

लखनऊ से अन्य समाचार व लेख

» विदेश में फंसे भारतीयों को लेकर आए दस विमान, मिली राहत

» लखनऊ में हत्या व लूट के आरोपित पर रासुका की कार्रवाई, जेल में बंद है आरोपित

» राजधानी मे पांच दिन गर्भवती को रखा भर्ती, नहीं किया ऑपरेशन; जच्चा-बच्चा की मौत

» मुख्तार के साम्राज्य की एक बिल्डिंग के खिलाफ LDA का एक्शन, लालबाग में बेसमेंट किया सील

» लखनऊ में कोरोना के 53 नए मामले, अब तक 1278 केस

 

नवीन समाचार व लेख

» मुठभेड़ में मारे गए प्रेम कुमार की पत्नी और बहू ने खोले कई राज, कहा-विकास ने तबाह कर दी मेरी गृहस्थी

» दयाशंकर अग्निहोत्री उर्फ कल्लू ने बताया चार घंटे पहले थाने से आया फोन तो हिस्ट्रीशीटर विकास ने बुला लिए 30 शूटर

» IS-227 के सक्रिय सदस्यों की कुंडली खंगाल रही पुलिस, पूर्व सांसद अतीक अहमद का है गैंग

» चंदौली में वाहन चेकिंग के दौरान दो रक्त के सौदागर गिरफ्तार

» वाराणसी मे 23वें कोरोना मरीज की मौत, 27 नए केस